दिल्ली: छत से कूदकर CRPF जवान ने की खुदकुशी, छलांग लगाने से पहले काटी हाथ की नस
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली: छत से कूदकर CRPF जवान ने की खुदकुशी, छलांग लगाने से पहले काटी हाथ की नस
पुलिस मामले की जांच कर रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पुलिस के मुताबिक, छत से कूदने के पहले (Suicide) मुकेश ने अपनी हाथों की नसों को भी चाकू से काट लिया था. इसकी वजह से काफी खून पहले ही बह चुका था. छत से कूदने के बाद जब मुकेश को पास में स्थित अस्पताल पहुंचाया तब तक अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने उसे मृत (Dead) घोषित कर दिया.

  • News18.com
  • Last Updated: July 28, 2020, 8:40 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में अर्ध सैनिक बल सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force ) के करीब 32 साल के एक जवान ने एक इमारत की छत से कूदकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है. मृतक जवान का नाम है मुकेश जो मूल रूप से मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh ) का रहने वाला है. दिल्ली स्थित समयपुर बादली थाना इलाके का है ये मामला है. पुलिस के मुताबिक, छत से कूदने के पहले मुकेश ने अपनी हाथों की नसों को भी चाकू से काट लिया था. इसकी वजह से काफी खून पहले ही बह चुका था. छत से कूदने के बाद जब मुकेश को पास में स्थित अस्पताल पहुंचाया तब तक अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने उसे मृत घोषित कर दिया. हालांकि लोकेशन या उसके घर से अभी तक कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.  इस मामले में मुकेश के परिजनों को सीआरपीएफ (CRPF )  द्वारा औपचारिक तौर पर जानकारी दे दी गई है.

दरअसल, सीआरपीएफ जवान मुकेश ने आत्महत्या की है. मंगलवार दोपहर मुकेश परेशानी हालत में अपने हाथों की नसों को काटने के बाद छत से कूदा था. सीआरपीएफ के सूत्रों के मुताबिक मुकेश रोहिणी जेल के पास ही रहता था. रोहिणी जेल के गेट नंबर -2 के सामने बने हुए एक आवासीय परिसर में वो रहता था. दोपहर के वक्त वो अचानक अपने घर से बाहर निकला और जहां वो रहता है उसी कॉम्पलेक्स में वो दौड़ते हुए तीसरे फ्लोर की छत से कूद गया. आत्महत्या करने की वजह का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है. लेकिन पुलिस सूत्रों के मुताबिक ये अपने किसी घरेलू मसलों की वजह से पिछले कुछ दिनों से परेशान था. CRPF के अंतर्गत वो 89 वीं बटालियन में तैनात था. मुकेश का परिवार तो जबलपुर में रहता है लेकिन उसका ससुराल उत्तर प्रदेश के बाराणसी में है. पिछले कुछ समय पहले से उसकी पत्नी और बच्चे वाराणसी में रह रहे थे. इसलिए ऐसा हो सकता है कि वो इसी वजह से परेशान हो. मामले की जानकारी मिलने के बाद मुकेश की पत्नी वाराणसी से दिल्ली रवाना हो चुकी है. पोस्टमार्टम और दाह संस्कार की प्रकिया पूरी होने के बाद दिल्ली पुलिस की टीम परिजनों से मुकेश के संबंध में जानकारी लेने बयान दर्ज करेगी. उसके बाद ही इस आत्महत्या के मसले का खुलासा हो सकता है.

ये भी पढ़ें: जबलपुर: फर्जी नियुक्त पत्र से खुद को बताया JDA अध्यक्ष, फरार 'रंगरेज' पर केस दर्ज
एक हफ्ते में दूसरा मामला
तीन दिन पहले ही नई दिल्ली जिला अंतर्गत लोधी स्टेट  इलाके में सब इंस्पेक्टर करनैल सिंह ने अपने सिनियर इंस्पेक्टर दशरथ सिंह को गोली मारकर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर लिया था. सब इस्पेक्टर करनैल सिंह और  इंस्पेक्टर दशरथ सिंह दोनों सीआरपीएफ के 112 वीं बटालियन में तैनात थे. मृतक जवान करनैल सिंह जम्मू -कश्मीर का रहने वाला था, जबकी इंस्पेक्टर दशरथ सिंह हरियाणा के रोहतक इलाके का रहने वाला था. सीआरपीएफ के अधिकारी और नई दिल्ली पुलिस की टीम इस आत्महत्या मामले की तफ्तीश करवा रही है कि आखिर ऐसी क्या वजह थी जिसके कारण से इन दोनों के बीच तनाव हुआ और उसके बाद गोली बारी और आत्महत्या करने की आवश्यकता पड़ी .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading