Home /News /delhi-ncr /

crri developed road construction maintenance equipment delsp

सड़क पर गड्ढों की वजह से हर साल होते हैं करीब 6000 हादसे, इसलिए बनाई मशीन, ताकि एक्सीडेंट न हो

मशीन के उद्घाटन के मौके पर केन्‍द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, डा. जितेन्‍द्र सिंह और जनरल वीके सिंह.

मशीन के उद्घाटन के मौके पर केन्‍द्रीय मंत्री नितिन गडकरी, डा. जितेन्‍द्र सिंह और जनरल वीके सिंह.

Pothole Repair Machine: सड़क परिवहन मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार सालाना औसतन 4500 से अधिक सड़क हादसे गड्ढों की वजह से होते हैं. इन हादसों में करीब 2000 लोगोंं की मौत होती हैं और करीब 4000 लोग घायल होते हैं. गड्ढों की वजह से होने वाले सड़क हादसों को कम करने के लिए इस मशीन का निर्माण किया गया है, जिससे हादसों को कम किया जा सके. ये मशीन गड्ढ़ों को जल्द भरने का काम करेगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. देश में सालाना करीब 6000 से अधिक लोग गड्ढों की वजह से होने वाली सड़क हादसों की चपेट में आते हैं. गड्ढों को जल्‍द भरने के लिए सीएसआईआर-सीआरआरआई ने मशीन बनाई है, जिससे गड्ढों को भरने में समय न लगे, गड्ढेे जल्‍दी भरे जा सकें और हादसों को कम किया जा सके. सीएसआईआर-सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्‍टीट्यूट ने गड्ढों को जल्‍दी भरने के लिए पोथोल रिपेयर मशीन और मोबाइल कोल्‍ड मिक्‍चर कम पेवर का निर्माण किया है.

इस मशीन का उद्घाटन सीएसआईआर-सीआरआरआई परिसर में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, विज्ञान प्रोद्योगिकी मंत्री डा. जितेन्‍द्र सिंह और सड़क परिवहन राज्‍य मंत्री जनरल वीके सिंह ने किया. इस मौके पर सीएसआईआर-सीआरआरआई की निदेशक डा. रंजना अग्रवाल और सीएसआईआर के महानिदेशक डा. राजेश एस गोखले मौजूद रहे.

हर साल 4500 से ज्यादा सड़क हादसे गड्डों की वजह से

सड़क परिवहन मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार सालाना औसतन 4500 से अधिक सड़क हादसे गड्ढों की वजह से होते हैं. इन हादसें में करीब 2000 की मौत होती हैं और करीब 4000 लोग घायल होते हैं. गड्ढों की वजह से होने वाले सड़क हादसों को कम करने के लिए इस मशीन का निर्माण किया गया है.

नई मशीन तेजी से भरेगी गड्ढ़े

सामान्‍य तरीके से गड्ढों को भरने की तुलना में इस इस मशीन से तेजी से गड्ढों को भरा जा सकता है. इस मशीन से देश की मदद से नेशनल हाईवे, स्‍टेट हाईवे और राज्‍य की सड़कों में गड्ढों को भरा जा सकेगा. मोबाइल कोल्ड मिक्सर कम पेवर मशीन और पैच फिल मशीन का उद्घाटन करते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि सड़क क्षेत्र में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि निर्माण लागत को कम करना है और निर्माण की गुणवत्ता को बेहतर बनाना है.

ये भी पढ़ें: ठेकेदार सड़क निर्माण में नहीं कर पाएंगे गड़बड़ी! सेंसर करेंगे क्‍वालिटी मॉनिटर 

अभी गड्ढे इस तरह से भरे जाते हैं

गड्ढे को मैन्युअल साफ किया जाता है और चारों ओर से बराबर काटा जाता है. फिर गर्म तारकोल डालकर गिट्टी डाली जाती है, ऊपर से रोलर चलाया जाता है. इसमें रोलर मिक्चर और गड्ढे को काटने के लिए कटर यानी तीन-तीन मशीनों जरूरत होती है.

मशीन भरेगी गड्ढे, पर्यावरण को भी फायदा

मशीन को चलाने के लिए केवल दो लोगों की जरूरत होगी. एक मशीन को चलाने वाला आपरेटर और दूसरा गाइड करने वाला कर्मचारी होगा. इसके अलावा एक ही मशीन, रोलर, कटर मिक्चर तीनों का काम करेगी. इस मशीन के प्रयोग से पर्यावरण को बचाए रखने में भी मदद मिलेगी, क्योंकि इसमें कोल्ड मिक्स तकनीक का प्रयोग किया जाएगा, जिससे तारकोल को गर्म करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. इस तरह धुआं नहीं होगा.

Tags: Accident, Road and Transport Ministry, Union Minister Nitin Gadkari

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर