कोरोना में मदद के नाम पर बढ़ा साइबर क्राइम, सोशल मीडिया पर सक्रिय मनचले

कोरोना काल में सोशल मीडिया पर मदद मांगने के चलते साइबर क्राइम बढ़ गया है.

कोरोना काल में सोशल मीडिया पर मदद मांगने के चलते साइबर क्राइम बढ़ गया है.

साइबर एक्‍सपर्ट किसलय चौधरी बताते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर में जहां सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल और फोन नंबरों का आदान-प्रदान बढ़ा है, उसी क्रम में साइबर क्राइम या महिलाओं को फोन पर परेशान करने की घटनाएं भी बढ़ी हैं.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. देशभर में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) ने तबाही मचाकर रख दी है. हर तरफ मरीजों की लंबी-लंबी लाइन, ऑक्‍सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) से लेकर प्‍लाज्‍मा, आईसीयू बेड (ICU Bed) और वेंटीलेटर की मारामारी के चलते सोशल मीडिया (Social Media) पर भी मैसेज इधर से उधर घूम रहे हैं. हालांकि सोशल मीडिया पर मदद करने और मदद मांगने के दौरान साइबर क्राइम (Cyber Crime) के मामले भी सामने आ रहे हैं.

जानकारी के अनुसार कोरोना मरीज परिजनों के लिए मदद मांग रही महिलाओं के नंबरों पर अश्‍लील मैसेज से लेकर आपत्तिजनक फोन कॉल आ रहे हैं. इतना ही नहीं मदद करने के नाम पर भी लोग महिलाओं या लड़कियों के सामने उल्‍टी-सीधी मांगें रख रहे हैं. दिल्‍ली में ऐसे कई मामलों के सामने आने के बाद अब सोशल मीडिया (Social Media) पर सहायता मांगना भी मुसीबत भरा हो रहा है.

इंडियन साइबर आर्मी के हेड और दिल्‍ली पुलिस के साइबर एक्‍सपर्ट किसलय चौधरी बताते हैं कि पिछले कुछ दिनों से साइबर क्राइम एक बार फिर बढ़ गया है. कोरोना बढ़ने के साथ ही मदद मांगने के लिए महिलाएं अपने मोबाइल नंबर्स सोशल मीडिया पर डाल रही हैं. जिन पर मनचले और आपराधिक किस्‍म के लोग अश्‍लील मैसेज, एमएमएस, कॉल्‍स करने के साथ ही आपत्तिजनक मांगें कर रहे हैं. वहीं कई मामलों में ऐसा भी हो रहा है कि मदद मांगने के लिए कुछ लोग अपने फर्जी नंबर डाल रहे हैं. जब कोई लड़की या महिला इस नंबर पर मदद के लिए फोन लगाती है तो उसका नंबर सेव करके उसे बाद में परेशान किया जा रहा है.

Youtube Video

किसलय चौधरी कहते हैं कि कोरोना के इस भीषण दौर में इस तरह के अपराध बेहद खराब मानसिकता को दर्शाते हैं. हालांकि दिल्‍ली पुलिस सहित कई एजेंसियां इन पर लगाम लगाने के लिए काम कर रही हैं. दिल्‍ली पुलिस के पास भी ऐसी कई शिकायतें आई हैं. इसके अलावा उनसे भी लोग फोन करके ऐसे मामलों में कार्रवाई के लिए सलाह मांग रहे हैं.

दिल्‍ली महिला आयोग ने भी उठाया है ये कदम 

ऐसे मामलों को देखते हुए हाल ही में दिल्‍ली महिला आयोग ने भी कदम उठाए हैं. आयोग की ओर से ऐसे मामलों पर अंकुश लगाने के लिए एक ईमेल आईडी जारी की गई है. जिसमें कहा गया है कि ट्विटर, फेसबुक या अन्‍य किसी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर मदद के नाम पर किसी महिला के साथ कोई बदतमीजी हुई है या की जा रही है तो वह आयोग को इसकी जानकारी दे सकती हैं.



आयोग की ओर से Livingpositive@gmail.com पर महिलाओं से शिकायतें मांगी हैं. कोई भी महिला इस ईमेल आईडी पर अपनी शिकायत ऑनलाइन भेज सकती है. आयोग का कहना है कि परेशान या उत्‍पीडन करने वाले किसी भी मनचले या आरोपी को छोड़ा नहीं जाएगा. पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के साथ ही उसे सबक सिखाया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज