लाइव टीवी

दलित नेता उदित राज ने क्यों कहा, 'मुझे मार दिया जा सकता है', जानिए वजह
Delhi-Ncr News in Hindi

News18India
Updated: January 21, 2020, 11:27 AM IST
दलित नेता उदित राज ने क्यों कहा, 'मुझे मार दिया जा सकता है', जानिए वजह
सुरक्षा वापसी के बाद दलित नेता डॉ. उदित राज ने कहा है कि उनकी जान को खतरा हो सकता है. (फोटो साभारः टि्वटर)

2019 में बीजेपी छोड़ने वाले दलित नेता डॉ. उदित राज ने वाई प्लस सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद सोशल मीडिया पर ट्वीट कर बयां किया दर्द. बीजेपी के ऊपर साधा निशाना.

  • News18India
  • Last Updated: January 21, 2020, 11:27 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) से पहले सरकार ने दलित नेता और पूर्व भाजपा सांसद डॉ. उदित राज (Dr. Udit Raj) की वाई प्लस सुरक्षा (Y+ Security) वापस कर ली है. इसको लेकर उदित राज ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि इससे उनकी जान को खतरा हो सकता है. सोशल मीडिया (Social Media) पर ट्वीट कर उदित राज ने यह जानकारी दी है. अपने ट्वीट में उदित राज ने कहा है कि उनकी सुरक्षा वापस किए जाने के बाद उनकी जान को खतरा हो सकता है. उन्होंने अपनी सुरक्षा घटाए जाने को लेकर भी सवाल उठाया है. डॉ. उदित राज ने सीधे तौर पर भाजपा (BJP) के ऊपर आरोप लगाते हुए कहा है कि पार्टी छोड़ने के बाद पहले उनकी सुरक्षा कम की गई और अब पूरी तरह वापस कर ली गई है.

बीजेपी छोड़ने के बाद घटी सुरक्षा
डॉ. उदित राज ने टि्वटर पर शेयर किए गए अपने पोस्ट में बीजेपी को परोक्ष रूप से निशाना बनाया है. उन्होंने कहा है, '2009 में इंडियन जस्टिस पार्टी का मैं अध्यक्ष था, मेरे जौनपुर के प्रत्याशी को मार दिया गया. मुझे भी मारने की योजना थी, तब केंद्र में कांग्रेस सरकार ने मेरी सुरक्षा बढ़ाकर Y+ कर दी थी. 2019 में BJP छोड़ा तब सुरक्षा घटा दी गई और आज पूरा वापस कर लिया है. मुझे भी मार दिया जा सकता है.' आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने उदित राज की सुरक्षा वापस करने से पहले पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह के साथ-साथ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की सुरक्षा की व्यवस्था में भी बदलाव किए हैं.



सुरक्षा घटाने पर आपत्तिदलित नेता की सुरक्षा घटाने को लेकर बीते सोमवार को किए गए ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर इससे जुड़े कई रिएक्शन आए हैं. टि्वटर यूजर्स ने उदित राज की सुरक्षा वापस करने की मांग की है. उदित राज की सुरक्षा वापस लेने को लोगों ने दलित और वंचितों की आवाज उठाने वाले नेता के खिलाफ कदम बताया है.

ये भी पढ़ें -

Delhi Asssembly Elections 2020: कांग्रेस ने जारी की प्रत्‍याशियों की तीसरी लिस्‍ट, जानें कौन कहां से लड़ेंगे चुनाव

 

दिल्ली चुनाव: 'बग्गा, बग्गा हर जगह'... BJP का टिकट मिलने के बाद तेजिंदर ने ऐसे किया शुक्रिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 11:24 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर