Covid-19: कोरोना से ज्यादा लॉकडाउन की मुसीबत झेल रहे हैं दिहाड़ी मजदूर
Delhi-Ncr News in Hindi

Covid-19: कोरोना से ज्यादा लॉकडाउन की मुसीबत झेल रहे हैं दिहाड़ी मजदूर
MP में जल्‍द शुरू होंगे निर्माण कार्य. (File Photo)

दिल्ली (Delhi) के ज़ाकिर नगर के गली नंबर 7 की झुग्गी के हालात कुछ ऐसे हैं कि वहां आस पास के लोग खाना पहुंचा रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2020, 3:44 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 21 दिनों के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) लागू करने की घोषणा की है. इस बीच, COVID-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते राज्‍य सरकारें अपने-अपने स्‍तर पर भी घोषणाएं कर रही हैं, ताकि लॉकडाउन के दौरान आमलोगों को जरूरी सामान के लिए परेशानी न उठाना पड़े. साथ ही इसकी आपूर्ति भी समय पर होती रहे. इसी क्रम में दिल्‍ली सरकार ने भी 25 मार्च (बुधवार) को अहम घोषणा की है. सरकार भले ही जनता तक सभी सुविधाएं पहुंचाने के भरसक प्रयास कर रही है वहीं दिल्ली के कुछ इलाके ऐसे भी हैं जो कोरोना की वजह से हुए लॉकडाउन की मुसीबत से जूझ रहे हैं.

दिल्ली के झुग्गी झोपड़ी इलाके में लोग कई दिनों से काम पर नहीं जा रहे. ये लोग दिहाड़ी मजदूर हैं जो रोज़ कमाते और रोज़ समान खरीद कर खाते है. लॉकडाउन के समय इन लोगों को काफी दिक्कत हो रही है. दिल्ली के ज़ाकिर नगर के गली नंबर 7 की झुग्गी के हालात कुछ ऐसे हैं कि वहां आस पास के लोग खाना पहुंचा रहे हैं. ये स्थानीय लोग है जो अपने अपने घर में खाना बना कर झुग्गी में पहुंचा रहे हैं. लेकिन ये ऑर्गनाइज्ड नहीं है और नाकाफी है. वहीं न्यूज़ 18 ने जब वहां के मजदूरों से बात की तो मजदूर अपनी दिक्कत बता रहे है. उनके पास मजदूर कार्ड भी है. लेकिन सरकार से कोई मदद नहीं आ रही. साथ ही दवा की भी काफी दिक्कत है. ऐसे में NGO के लोग कुछ मदद कर रहे हैं.

लोगों की सेहत के लिए सबसे ज़रूरी लॉकडाउन 
केजरीवाल ने कहा कि पीएम ने मंगलवार को लॉकडाउन का ऐलान किया. ये लोगों की सेहत के लिए सबसे ज़रूरी था. किसी भी तरह घर से बाहर नहीं निकलना है. उन्होंने आगे कहा कि ज़रूरतों को पूरा करना भी ज़रूरी है. दूध, सब्ज़िया और खाने का सामान, दवाइयां बहुत ज़रूरी हैं. दिल्ली सरकार, केंद्र, एलजी, पुलिस सब मिलकर आपकी ज़िन्दगी के लिए काम कर रहे हैं. केजरीवाल ने कहा कि पैनिक होने की ज़रूरत नहीं है. पीएम के भाषण के बाद हमने देखा लाइन लगने लगीं. इस तरह लॉकडाउन का मकसद खत्म हो जाएगा.



सब कुछ देने की पूरी तैयारी


हम सब लोगों ने सब कुछ देने की पूरी तैयारी की हुई है. पैनिक बाइंग मत कीजिए. रोज़मर्रा की चीज़ें पहुंचाने की ज़िम्मेदारी हमारी है. ज़रूरी सेवा देने वालों को पास देने की तैयारी की गई है. जिनके पास आई-कार्ड होंगे और जिनके पास आई-कार्ड नहीं जैसे किराने या सब्जी वाला है दोपहर तक ई-पास देंगे.

मौलाना बोले- नमाज़ से पहले दिन में 5 बार किया यह काम तो नहीं छूएगा Coronavirus
First published: March 25, 2020, 3:43 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading