दिल्‍ली पुलिस के इंस्‍पेक्‍टर का कार से संदिग्‍ध परिस्थितियों में मिला शव
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्‍ली पुलिस के इंस्‍पेक्‍टर का कार से संदिग्‍ध परिस्थितियों में मिला शव
दिल्‍ली पुलिस के इंस्‍पेक्‍टर विशाल की तैनाती स्‍पेशल सेल में थी.

उत्‍तर-पश्चिम दिल्‍ली (North-West Delhi) के केशवपुरम (Keshavapuram) इलाके से इंस्‍पेक्‍टर विशाल (Inspector Vishal) का शव संदिग्‍ध हालत में कार से बरामद किया गया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्‍ली. उत्‍तर-पश्चित दिल्‍ली के केशवपुरम इलाके से दिल्‍ली पुलिस के एक इंस्‍पेक्‍टर का शव संदिध्‍य परिस्थितियों में कार से बरामद किया गया है. मृतक इंस्‍पेक्‍टर की पहचान विशाल कुमार के रूप में की गई है. वर्तमान समय में वह दिल्‍ली पु‍लिस की स्‍पेशल सेल में तैनात थे. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं, वारदात की जानकारी मिलने के बाद स्‍पेशल सेल के वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए हैं.

पुलिस के अनुसार, पुलिस कंट्रोल रूम को एक शख्‍स ने फोन कर सूचना दी थी कि एक शख्‍स कार के भीतर अचेत अवस्‍था में है. सूचना मिलते ही एसीपी अशोक विहार और एसएचओ केशवपुरम अन्‍य पुलिस कर्मियों के साथ साथ मौके पर पहुंच गए. वहां उन्‍होंने पाया कि हरियाणा रजिस्‍ट्रेशन की कार में एक शख्‍स अचेत अवस्‍था में पड़ा हुआ है. पुलिस कर्मियों ने बमुश्किल कार के दरवाजों को खोला और अचेप पड़े इस शख्‍स को बीजेआरएम हॉस्पिटल के लिए रवाना कर दिया. जहां डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया गया.

इसी कार से बरामद हुआ है स्‍पेशल सेल के इंस्‍पेक्‍टर विशाल का शव.



इसी कार से बरामद हुआ है स्‍पेशल सेल के इंस्‍पेक्‍टर विशाल का शव.आज सुबह रामपुरा इलाके में पार्क की गई थी कार



पुलिस के अनुसार, कार की तलाशी के दौरान मिले दस्‍तावेजों के आधार पर मृतक की पहचान दिल्‍ली पुलिस के इंस्‍पेक्‍टर विशाल खनवलकर के रूप में हुई है. इंस्‍पेक्‍टर विशाल खनवलकर अपने परिवार के साथ शालीमार बाग के सीवी ब्‍लॉक में रहते थे. जांच के दौरान, पुलिस को फोन करने वाले शख्‍स की पहचान रफीक के रूप में हुई. रफीक ने पुलिस को बताया कि रामपुरा इलाके के मेन रोड पर उसकी दुकान है. आज सुबह करीब 10:30 बजे हरियाणा नंबर की यह कार उसके दुकान के सामने पार्क की गई थी.

सभी संभावनाओं को तलाशने में जुटी पुलिस
रफीक ने पुलिस को बताया कि इस कार के भीतर एक शख्‍स आंख बंद किए हुए बैठा हुआ था. लंबे समय तक इस शख्‍स के शरीर में कोई हलचल होती न देख, उसने इसकी जानकारी पुलिस को दी. वहीं, रफीक के बयान के बाद पुलिस ने अपनी तफ्तीश शुरू कर दी है. प्रारंभिक जांच के दौरान, पुलिस को इंस्‍पेक्‍टर विशाल के शरीर पर चोंट का कोई निशान नहीं मिला है. पुलिस ने सभी आशंकाओं को ध्‍यान में रखते हुए अपनी जांच शुरू कर दी है.

 
First published: June 6, 2020, 5:41 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading