दिल्ली में इस महीने 40% बढ़ी कोरोना मरीजों की मौत, विशेषज्ञ बोले- ज्यादातर मरीज़ बुजुर्ग थे

सरकारी डाटा के अनुसार एक रिपोर्ट में कहा है कि दिल्ली में जून और जुलाई में सबसे ज्यादा मृत्यु हुई.
सरकारी डाटा के अनुसार एक रिपोर्ट में कहा है कि दिल्ली में जून और जुलाई में सबसे ज्यादा मृत्यु हुई.

सोमवार को दिल्ली में कोरोना वायरस (Corona virus) के 1984 मामले सामने आए. जो लगभग एक महीने में सबसे कम है. कुल संक्रमितों (Total infected) की संख्या 2 लाख 73 हजार हो गई और मरने वालों की संख्या 5272 है. सितंबर में केस हर दिन 2000 से 4473 के बीच देखे गए. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग (Delhi Health Department) के नए बुलेटिन में 37 नई मौतों का जिक्र किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 1:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना वायरस (Corona virus)  संक्रमण से सोमवार को 37 लोगों की मौत के साथ मरने वालों की कुल संख्या 5272 हो गई है. राष्ट्रीय राजधानी में अकेले इस महीने 828 लोगों की कोविड-19 संक्रमण से जान गई, जो कि पिछले महीने करीब 40 फीसदी अधिक है. अगस्त के महीने में यहां 481 कोरोना संक्रमित मरीज़ों की मौत हुई थी.

सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, जून और जुलाई में सबसे ज्यादा मृत्यु हुईं. इस दौरान क्रमशः 2269 और 1221 लोगों की मौत कोरोना वायरस से हुई थी. अप्रैल और मई में यह संख्या 57 और 414 रही है. अख़बार को लोक नायक अस्पताल के एक सीनियर डॉक्टर ने कहा कि, मृत्यु होने वालों में ज्यादा संख्या बुजुर्गों की है जो एक से अधिक बीमारी से पीड़ित थे, दूसरा कारण यह भी रहा है कि, उन्हें अस्पताल में देरी से भर्ती कराया गया.

पिछले एक महीने में कोरोना वायरस के केसों में तेजी आई है. लेकिन संक्रमण की दर 5 से 10 फीसदी है. एक अधिकारी को कोट करते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि, दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 1984 केस दर्ज किये गए हैं. जो रविवार की तुलना में कम है. केसों की गति धीमी रही है और पिछले एक दिन में 36,302 लोगों के टेस्ट हुए. सोमवार को कोरोना के सक्रिय मामले 27,123 थे जो रविवार को 29,228 से गिर गए हैं.



ताजा डाटा के अनुसार कोरोना वायरस के लिए मौजूदा 15,828 बेड में से 6609 इस्तेमाल में थे. आईसीयू के बेड वेंटिलेटर और बिना वेंटिलेटर के क्रमशः 62 और 76 फीसदी भरे थे. 16,679 कोरोना मरीज घरों में आइसोलेट किए गए हैं. विशेषरूप से इस महीने कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि देखी गई. 16 सितंबर को 4473 केस सामने आए. यह दिल्ली में अब तक का सबसे बड़ा उछाल था. दिल्ली में 4000 प्रति दिन आने वाले केसों में पहली बार कमी 9 सितंबर को देखी गई. इस दिन 20 लोगों की मौत हुई.
सोमवार को दिल्ली में कोरोना वायरस के 1984 मामले सामने आए. जो लगभग एक महीने में सबसे कम हैं. कुल संक्रमितों की संख्या 2 लाख 73 हजार हो गई और मरने वालों की संख्या 5272 है. सितंबर में केस हर दिन 2000 से 4473 के बीच देखे गए. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के नए बुलेटिन में 37 नई मौतों का जिक्र किया गया है.

टेस्टिंग स्टॉक के स्टेटस को लेकर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने दिल्ली के सभी अस्पतालों के मेडिकल डायरेक्टरों और मेडिकल सुपरीटेंडेंट्स के साथ मीटिंग की. दिल्ली के सचिव विजय देव ने कोरोना मैनेजमेंट को लेकर जिलाधिकारियों के साथ मीटिंग की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज