मोस्ट वांटेड काला जठेड़ी गैंग का एक और गैंगस्टर 'बॉक्सर' दिल्ली पुलिस के रडार पर

दीपक पहल उर्फ बॉक्सर को जल्द ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम गिरफ्तार कर सकती है.

दीपक पहल उर्फ बॉक्सर को जल्द ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम गिरफ्तार कर सकती है.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के सूत्रों की अगर मानें तो हरियाणा के सोनीपत स्थित गन्नौर इलाके का रहने वाला दीपक पहल कभी बहुत प्रतिभाशाली पहलवान था. वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बॉक्सिंग फाइट के लिए भारत के तरफ से प्रतिनिधित्व कर चुका है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस के रडार पर एक और गैंगस्टर (Gangster) आ चुका है जिसकी गिरफ्तारी जल्द ही संभव है. गैंगस्टर दीपक पहल की भूमिका हाल में ही पुलिस की हिरासत से कुलदीप फज्जा नाम के एक गैंगस्टर को भगाने में महत्वपूर्ण भूमिका रही थी. गैंगस्टर कुलदीप फज्जा नाम का आरोपी को शहादरा जिला अन्तर्गत जीटीबी अस्पताल (GTB Hospital) में इलाज करवाने के दौरान अस्पताल से ही एक साजिश के तहत पुलिस पर हमला करके उसे भागकर हरियाणा लेकर जाने का आरोप है. पुलिस पर हमला करने से पहले दीपक पहल ने उन पुलिसकर्मियों के आंखों में मिर्ची का पाउडर छिड़क दिया था. उसके बाद अस्पताल के अंदर फायरिंग करके अन्य लोगों को डराकर कुलदीप को अपने साथ लेकर भाग गया था. हालांकि उस वक्त दीपक के दो साथियों को खिलाफ पुलिस की टीम ने तत्काल कार्रवाई को अंजाम देते हुए गोली मार दी थी.

गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी से जुड़े हैं दीपक पहल के तार

कुलदीप उर्फ फज्जा को फरवरी महीने में तिहाड़ जेल से अस्पताल में मेडिकल जांच करवाने के वक्त फिल्मी स्टाइल में भगाने की साजिश के बारे में स्पेशल सेल के अधिकारियों का कहना है कि उस फिल्मी कहानी की स्क्रिप्ट बैंकॉक में छुपकर रह रहा मोस्ट वांटेड गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी ने लिखी थी लेकिन उसको अंजाम देने के लिए दिल्ली के तिहाड़ जेल में कैद गैंगस्टर जितेन्द्र गोगी (Jitendra Gogi) को दिया गया था. उसके बाद गोगी ने दीपक पहल सहित कई गैंगस्टर को इस ऑपरेशन की जिम्मेदारी सौंपी और कुलदीप को भगाने की साजिश रची गई थी. संदीप उर्फ काला जठेड़ी द्वारा कुलदीप को भगाने के पीछे उसका हरियाणा ,दिल्ली, यूपी, पंजाब ,राजस्थान में कुछ अलग ही तैयारी थी. हालांकि स्पेशल सेल की टीम ने कुलदीप उर्फ फज्जा को उसके फरार होने के 74 घंटे के अंदर ही मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था.

Youtube Video

स्पेशल सेल की टीम दीपक के तलाश में जुटी

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक दो लाख रुपये इनामी गैंगस्टर पहलवान दीपक पहल उर्फ बॉक्सर को जल्द ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम गिरफ्तार कर सकती है. पिछले कुछ दिनों से लगातार इस गैंगस्टर के खिलाफ दिल्ली पुलिस की टीम एक विशेष ऑपरेशन को अंजाम दे रही है. इसके लिए दिल्ली एनसीआर सहित हरियाणा- पंजाब के कई इलाकों में गैंगस्टर दीपक पहल से संबंधित इनपुट को जुटाया जा रहा है.

हरियाणा का ये पहलवान कैसे बना गैंगस्टर



दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के सूत्रों की अगर मानें तो हरियाणा के सोनीपत स्थित गन्नौर इलाके का रहने वाला दीपक पहल कभी बहुत प्रतिभाशाली पहलवान था. वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बॉक्सिंग फाइट के लिए भारत के तरफ से प्रतिनिधित्व कर चुका है. बॉक्सर दीपक पहल साल 2016 में रियो ओलंपिक में भी भारत के तरफ से हिस्सा लेने के लिए तैयारी कर रहा था लेकिन उसी दौरान उसकी गलत सोहबत से उसका उद्देश्य देश के लिए पदक जितना नहीं बल्कि जल्द से जल्द पैसे कमाना बन गया. साल 2014 में उसने अपने एक साथी के साथ मारपीट के दौरान जबरा तोड़ दिया.

उसके बाद उसके खिलाफ मुकदमा दायर हुआ. उस दौरान कई स्थानीय बदमाश और पहलवान उसके संपर्क में आए और उसके साथ झूठी हमदर्दी दिखाने का प्रयास किया. उसके बाद एक और महत्वपूर्ण घटना उसके साथ हुई बॉक्सिंग का प्रैक्टिस के दौरान गुस्से में दीपक ने अपने कोच की ही पिटाई कर दिया. उसके बाद उसका बॉक्सिंग खेल काफी प्रभावित हुआ और धीरे -धीरे वो परेशान होकर गलत दोस्तों और गैंगस्टर के चंगुल में फंसता चला गया. इसी दौरान उसके ताकत का अंदाजा लगाते हुए गैंगस्टर जितेंद्र गोगी (Jitendra Gogi) के गुर्गे उसे अपने गैंग में शामिल कर लिया और जितेंद्र गोगी खुलकर दीपक पहल के लिए मौज मस्ती, आलीशान आवास, महंगी घड़ियां, महंगे कपड़े - कई कार की व्यवस्था करवाकर उसे अपने गैंग में बहुत ही करीबी सहयोगी बना लिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज