Home /News /delhi-ncr /

रक्षा मंत्री सीतारमण पहुंची शहीद पायलट के घर, परिजनों से की बात

रक्षा मंत्री सीतारमण पहुंची शहीद पायलट के घर, परिजनों से की बात

फाइल फोटो

फाइल फोटो

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण वायु सेना के शहीद पायलट समीर एबरोल के घर पहुंचीं और शहीद ऑफिसर स्वर्गीय को श्रद्धांजलि दी.

    देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण वायु सेना के शहीद पायलट समीर एबरोल के घर पहुंची. उन्होंने शहीद वायु सेना ऑफिसर के परिजनों से काफी देर बातचीत की. रक्षा मंत्री ने शहीद ऑफिसर स्वर्गीय समीर को श्रद्धांजलि दी. हालांकि इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात नहीं किया.

    गौरतलब है कि जिले के गांधीनगर इलाके में शहीद वायु सेना ऑफीसर समीर एग रोल का परिवार रहता है. जहां दोपहर लगभग 3:00 बजे रक्षा मंत्री सीतारमण पहुंची. वायु सेना के सुरक्षा गार्ड और स्थानीय पुलिस के सुरक्षा प्रबंध के बीच रक्षा मंत्री ने शहीद परिवार के साथ लगभग 15 मिनट बातचीत की. इस दौरान उन्होंने स्वर्गीय समीर को श्रद्धांजलि भी दी.



    उल्लेखनीय है कि इससे पहले  रक्षा मंत्री बेंगलुरू में फाइटर जेट मिराज दुर्घटना में शहीद हुए स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी के घर पहुंची थी और परिवार से मुलाकात कर सांत्वना दी. बता दें कि बेंगलुरु में टेस्ट फ़्लाइट के दौरान सिद्धार्थ का प्लेन क्रैश हो गया था. उनका वहीं सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया था.

    सोमवार शाम को उनकी अस्थियां देहरादून एयरपोर्ट लाई गई थीं, जिसके बाद परिवार ने संस्कारों के साथ उन्हें हरिद्वार में गंगा में विसर्जित कर दिया था. शहीद सिद्धार्थ नेगी के पिता बलबीर सिंह नेगी ने बताया कि जिस दिन सिद्धार्थ की शहादत हुई, उसी दिन उनका जन्मदिन था. शहीद के पिता बलबीर सिंह नेगी ने कहा कि उन्हें सभी की तरफ से पूरा सहयोग मिला है और अपने बेटे की शहादत पर उन्हें गर्व है.

    ये भी पढ़ें: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण आज करेंगी तमिलनाडु डिफेंस कॉरिडोर का शुभारंभ

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

    Tags: Ghaziabad News, Ministry of Defense, Nirmala sitharaman, Pilot, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर