लाइव टीवी

बिना टैग के फास्टैग लेन में घुसने वाले वाहनों से अब तक वसूले 20 करोड़: ट्राई
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: February 23, 2020, 6:06 PM IST
बिना टैग के फास्टैग लेन में घुसने वाले वाहनों से अब तक वसूले 20 करोड़: ट्राई
28 फरवरी तक लगवाने हैं फास्टटैग

वहीं कुछ टोल प्रबंधन का कहना हैं कि लोकल वाहन चालक जबरदस्ती फास्ट टेग लेन में घुस जाते हैं जिसके कारण रोजाना 20 से 25 वाहन चालकों से झगड़े हो रहे हैं.

  • Share this:


नई दिल्ली. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (TRAI) ने रविवार को कहा कि उसने टोल प्लाजा (Toll Plaza) पर फास्टैग (Fast Tag) वाले लेन में घुसने वाले बिना टैग के 18 लाख वाहनों से 20 करोड़ रुपये वसूल किए हैं. सड़क परिवहन मंत्रालय ने पिछले साल दिसंबर में इलेक्ट्रॉनिक टोल वसूली के लिये फास्टैग की शुरुआत की थी. मंत्रालय ने तब कहा था कि यदि कोई वाहन बिना टैग के समर्पित लेन में घुसता है तो उससे दो गुना टोल वसूल किया जायेगा.


प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि फास्टैग लेन में बिना टैग के घुसने वाले वाहनों से दो गुना टोल वसूला जा रहा है. उसने कहा, ‘अभी तक देश भर में 18 लाख वाहनों ने बिना टैग के फास्टैग लेन में घुसने की कोशिश की है और इनसे 20 करोड़ रुपये वसूले गये हैं.’ अभी तक देशभर में 1.55 करोड़ से अधिक फास्टैग जारी किये जा चुके हैं.



वहीं कुछ टोल प्रबंधन का कहना हैं कि लोकल वाहन चालक जबरदस्ती फास्ट टेग लेन में घुस जाते हैं जिसके कारण रोजाना 20 से 25 वाहन चालकों से झगड़े हो रहे हैं. 28 फरवरी तक अगर लोकल वाहन चालक फास्टैग नहीं लगवाते हैं और फास्टैग लेन से गुजरने पर विवाद करते हैं. तो उनके खिलाफ एफआरआई दर्ज करवाई जाएगी, डीघल टोल प्लाजा पर 10 लेन हैं.


इसमें से दोनों तरफ एक-एक लेन नकद टोल लेने वाले के लिए छोड़ी गई है, बाकी आठ लेन पर फास्टैग का उपयोग किया जा रहा है. 25 फीसदी वाहन चालकों को अभी भी कैश लेन में ही लगना पड़ रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 23, 2020, 6:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर