अपना शहर चुनें

States

दिल्ली में जगह-जगह खालिस्तानी आतंकियों के पोस्टर चस्पा, 26 जनवरी को बगैर ID प्रूफ घर से न निकलें

दिल्ली में पुलिस अलर्ट मोड पर है. सांकेतिक फोटो.
दिल्ली में पुलिस अलर्ट मोड पर है. सांकेतिक फोटो.

Republic Day 2021: देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के अवसर पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं. किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) अलर्ट मोड पर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2021, 1:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस ( 26 January Republic Day) के अवसर पर सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए हैं. किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस (Delhi Police) अलर्ट मोड पर है. इसको लेकर तमाम दिशा निर्देश भी जारी किए गए हैं. गणतंत्र दिवस के मौके पर अतिरिक्त सतर्कता बरतते हुए पुलिस ने दिल्ली में कई स्थानों पर खालिस्तानी आतंकियों के पोस्टर चस्पा किए हैं. इस बार के पोस्टर में खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स  KZF, KCF (खालिस्तान कमांडो फ़ोर्स ) KLF (खालिस्तान लिबरेशन फ़ोर्स ) BKI (बब्बर खालसा इंटरनेशनल ) के आतंकियों की तस्वीरें भी हैं.

पुलिस ने कहा है कि इन आतंकियों की जानकारी देने वालों का नाम और उससे सम्बंधित जानकारियों को गुप्त रखा जाएगा. ये बात भी इस पोस्टर के मार्फ़त बताई गई है. दिल्ली पुलिस के तमाम PCR वैन में भी इस पोस्टर को लगाकर प्रचार किया जा रहा है. जिससे लोग सतर्क हो सकें. दिल्ली के एसीपी सिद्धांत जैन ने न्यूज 18 को बताया कि 26 जनवरी को लेकर खास तैयारी की गई है. जगह-जगह आतंकवादियों के पोस्ट चस्पा किए गए हैं. ताकि आम लोग भी उनको पहचान सकें. ये वो आतंकी हैं, जिनसे देश को खतरा है. इसके साथ ही मार्केट स्टाफ व दूसरे लोगो के साथ मीटिंग की गई है. कोई भी संदिग्ध वस्तु मिले भले वो छोटी सी छोटी ही क्यों न हो तुरन्त पुलिस को सूचना देने कहा गया है.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक 26 जनवरी को हर किसी का आईडी कार्ड जांच करने की योजना पुलिस ने बनाई है. इसके तहत घर से बाहर निकलने वाले हर व्यक्ति को अपने साथ आईडी कार्ड रखना जरूरी होगा. क्योंकि पुलिस कहीं पर भी रोककर आईडी कार्ड की जांच व पूछताछ कर सकती है.



25 हजार लोग ही हो सकेंगे शामिल
एसीपी जैन ने बताया कि कोविड महामारी को देखते हुए इस बार 26 जनवरी कार्यक्रम में शामिल होने वालों की तादाद भी मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस ने कम कर दी है. हर साल यह तादाद एक लाख से ज्यादा होती थी, पर इस बार सिर्फ 25 हजार लोग ही शामिल हो पाएंगे. परेड में शामिल होने के लिए कुछ खास एडवाजरी जारी की गई है. जो एंट्री होगी वो पास या टिकट से ही होगी बाकी किसी को अनुमति नही रहेगी. 15 साल से छोटे बच्चे और 65 साल से ऊपर के बुजुर्ग को कार्यक्रम में शामिल होने की इजाजत नहीं है. 26 जनवरी के दिन हर शख्स अपने साथ अपना आईडी प्रूफ फोटो सहित रखने होंगे. कहीं भी चेकिंग हो सकती है. इस दौरान आईडी प्रुफ दिखाना जरूरी रहेगा. जांच के लिए हमारी कई एजेंसी लगी हैं. जगह जगह स्पेशल सेल, स्पेशल ब्रांच क्राइम ब्रांच, हर जगह यह पोस्टर चस्पा करवा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज