Home /News /delhi-ncr /

Delhi Air Pollution: दिल्ली की शान चांदनी चौक की हवा सबसे खराब, घर से बाहर ना निकलने की सलाह

Delhi Air Pollution: दिल्ली की शान चांदनी चौक की हवा सबसे खराब, घर से बाहर ना निकलने की सलाह

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने संबंधित एजेंसियों को कड़ी निगरानी रखकर रोजाना प्रदूषण रिपोर्ट देने के भी निर्देश दिए हैं. उन्हें इसे आपातकाल मानकर ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) का पालन करने को कहा है. घर से निकलना मजबूरी हो, तो कार पूलिंग करें, सार्वजनिक परिवहन लें. काम न हो तो घर से न निकलें. बहुत ही जरूरी हो, तो कम से कम समय के लिए घर से बाहर निकलें. पूरे एनसीआर में एक्यूआई गंभीर श्रेणी में है. गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को घर से न निकलने की सलाह दी गई है. सुबह-शाम सैर, जॉगिंग और एक्सरसाइज के लिए न जाएं. सुबह और देर शाम में दरवाजे और खिड़कियां न खोलें.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने संबंधित एजेंसियों को कड़ी निगरानी रखकर रोजाना प्रदूषण रिपोर्ट देने के भी निर्देश दिए हैं. उन्हें इसे आपातकाल मानकर ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) का पालन करने को कहा है. घर से निकलना मजबूरी हो, तो कार पूलिंग करें, सार्वजनिक परिवहन लें. काम न हो तो घर से न निकलें. बहुत ही जरूरी हो, तो कम से कम समय के लिए घर से बाहर निकलें. पूरे एनसीआर में एक्यूआई गंभीर श्रेणी में है. गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को घर से न निकलने की सलाह दी गई है. सुबह-शाम सैर, जॉगिंग और एक्सरसाइज के लिए न जाएं. सुबह और देर शाम में दरवाजे और खिड़कियां न खोलें.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने संबंधित एजेंसियों को कड़ी निगरानी रखकर रोजाना प्रदूषण रिपोर्ट देने के भी निर्देश दिए हैं. उन्हें इसे आपातकाल मानकर ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) का पालन करने को कहा है. घर से निकलना मजबूरी हो, तो कार पूलिंग करें, सार्वजनिक परिवहन लें. काम न हो तो घर से न निकलें. बहुत ही जरूरी हो, तो कम से कम समय के लिए घर से बाहर निकलें. पूरे एनसीआर में एक्यूआई गंभीर श्रेणी में है. गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को घर से न निकलने की सलाह दी गई है. सुबह-शाम सैर, जॉगिंग और एक्सरसाइज के लिए न जाएं. सुबह और देर शाम में दरवाजे और खिड़कियां न खोलें.

अधिक पढ़ें ...

    दिल्ली. दिल्ली में लगातार बढ़ रहे वायु प्रदूषण (Delhi Air Pollution) से फिलहाल राहत मिलने के आसार कम नजर आ रहे हैं. दिल्ली (Delhi) की शान चांदनी चौक (Delhi Chandni Chowk) शुक्रवार को प्रदूषित इलाकों की लिस्ट में शीर्ष पर रहा. इस इलाके का वायु गुणवत्ता सूचकांक 491 रिकार्ड किया गया, जबकि 490 अंकों के साथ मंदिर मार्ग दूसरा नंबर प्रदूषित इलाका बना.

    प्रदूषण की चादर दिल्ली में इस कदर भारी पड़ी कि हवा की गुणवत्ता मापने वाले सभी 36 मॉनीटरिंग स्टेशन का सूचकांक 450 से ऊपर पहुंच गया. हैरानी की बात यह कि दिन भर में कई बार इन स्टेशनों पर पीएम10 व पीएम2.5 का स्तर 500 से ऊपर भी पहुंच गया था. बता दें कि दिल्ली के प्रदूषण में पराली के धुएं का हिस्सा 35 फीसदी रहा. है.

    मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, देश भर में सबसे ज्यादा मॉनीटरिंग स्टेशन दिल्ली में काम कर रहे हैं. यहां हर दिन 36 मॉनीटरिंग स्टेशनों से वायु की गुणवत्ता मापी जाती है. शुक्रवार को स्मॉग की चादर घनी होने के साथ सभी मॉनीटिंरग स्टेशन क्रिटिकल हालात दिखाने लगे. चांदनी चौक का वायु गुणवत्ता सूचकांक सबसे ज्यादा रहा. दूसरे नंबर पर मंदिर मार्ग व तीसरे पर जनकपुरी रहा. पटपड़गंज, आनंद विहार, मथुरा रोड, आईटीओ, मुंडका, नेहरूनगर, ओखला, मेजर ध्यान चंद स्टेडियम जैसे मॉनीटरिंग स्टेशन में हवा की गुणवत्ता 480 से ऊपर रही. इसमें सबसे प्रभावी प्रदूषक धूल के महीन कण पीएम10 व पीएम2.5 था. दिन भर में कई बार इनका स्तर 500 से भी ऊपर चला गया. 480 से ऊपर की वायु गुणवत्ता वाले इलाकों में 24 घंटे में ज्यादातर समय सूचकांक 500 के करीब बना रहा.

    सुप्रीम कोर्ट में मामला

    दिल्ली/NCR में बढ़ते वायु प्रदूषण को लेकर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई  करेगा. चीफ जस्टिस एन वी रमन्ना, जस्टिस डी वाय चंद्रचूड़ और जस्टिस सूर्यकांत की स्पेशल बेंच मामले की सुनवाई करेगी और इस दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार के वकील मौजूद रहेंगे.

    पीएम 10 व पीए 2.5 मानक 100 व 60
    केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, पीएम10 व पीएम2.5 का मानक 100 व 60 है और दोनों का स्तर 500 के करीब बना रहा. 500 के स्तर तक वायु की गुणवत्ता का गंभीर माना जाता है. इस स्तर की प्रदूषित हवा में ज्यादा देर तक रहना सेहत के लिए घातक है. तापमान कम होने से आने वाले दिनों में भी सुधार होने का अंदेशा नहीं है.

    न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री पर पहुंचा
    दिल्ली की सुबह शुक्रवार को एक बार फिर सर्द रही. न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. यह सामान्य से कम था. वहीं, 27.4 डिग्री सेल्सियस के साथ अधिकतम तापमान औसत रहा. इस सीजन में सबसे कम अधिकतम तापमान था. मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार की तरह शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और दृश्यता 200 मीटर थी.

    Tags: Air pollution in Delhi, Cold in delhi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर