Delhi Air Pollution: प्रदूषण रोकने के लिए सीएम केजरीवाल की मुहिम- रेड लाइट ऑन, व्‍हीकल ऑफ

दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए सीएम केजरीवाल ने खास फ्लान तैयार किया है.
दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए सीएम केजरीवाल ने खास फ्लान तैयार किया है.

दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 'एंटी डस्‍ट कैंपेन'('Anti Dust Campaign') चलाया है. दिल्ली में 15 अक्‍टूबर से 'रेड लाइट ऑन, व्‍हीकल ऑफ' नाम से नई मुहिम शुरू होगी. अब रेड लाइट (Red Light) पर गाड़ी को बंद करना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2020, 7:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. सर्दियों के मौसम की आहट के साथ ही देश की राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में वायु प्रदूषण (Air Pollution) की समस्‍या बढ़ने लगी है. इसके साथ ही केजरीवाल सरकार भी इससे निपटने में जुट गई है. मुख्‍यमंत्री  अरविंद केजरीवाल ने इस बाबत गुरुवार को अहम ऐलान किया. उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली सरकार ने प्रदूषण से निपटने के लिए 'एंटी डस्‍ट कैंपेन'('Anti Dust Campaign') चलाया है. उन्‍होंने  15 अक्‍टूबर से 'रेड लाइट ऑन, व्‍हीकल ऑफ' नाम से नई मुहिम शुरू करने की भी घोषणा की. उन्‍होंने बताया कि रेड लाइट पर गाड़ी बंद न होने पर बड़ी मात्रा में धुआं निकलता है. इसे रोकने के लिए गुरुवार से रेड लाइट ऑन, व्‍हीकल ऑफ कैंपेन शुरू की जा रही है.



सीएम केजरीवाल ने बताया कि दिल्‍ली में 1 करोड़ वाहन रजिस्‍टर्ड हैं. इनमें से यदि 10 लाख वाहन वाले भी रेड लाइट ऑन होते ही अपनी गाड़ी बंद कर लेंगे तो वायु प्रदूषण में काफी कमी आएगी. साथ ही उन्‍होंने बताया कि ऐसा करने से वाहन चालक सालाना 7000 रुपये की बचत भी कर सकेंगे. सीएम केजरीवाल ने इस मुहिम को सफल बनाने के लिए कार, ऑटो, बस आदि सबका साथ मांगा है, ताकि दिल्‍ली को वायु प्रदूषण से निजात दिलाई जा सके.




बता दें कि केंद्र सरकार ने दिल्ली एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए सीपीसीबी की 52 टीमें बनाई हैं, जो दिल्ली से लगे राज्यों में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, यूपी में जाएंगी और वहां पर प्रदूषण के स्तर का जायजा लेंगी. ये सभी आज गुरुवार को रवाना हो गई हैं. सभी राज्यों में जहां भी निर्माण कार्य चल रहा है, वहीं पर टीमें जाकर देखेंगी कि पर्यावरण मंत्रालय के द्वारा जारी निर्देशों का यहां पर पालन किया जा रहा है या नहीं. सीपीसीबी की इस टीम के बारे में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने खुद जानकारी दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज