लाइव टीवी

शर्मनाक: गार्गी कॉलेज के फेस्ट में छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप, पुलिस बोली- नहीं मिली शिकायत
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 10:14 AM IST
शर्मनाक: गार्गी कॉलेज के फेस्ट में छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप, पुलिस बोली- नहीं मिली शिकायत
कॉलेज के अधिकारियों ने कोई शिकायत दर्ज होने की घटना से इंकार किया है. (फाइल फोटो)

दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) के गार्गी कॉलेज (Gargi College) की छात्राओं ने आरोप लगाया कि वार्षिक फेस्ट के दौरान दर्जनों बाहरी लड़कों ने कॉलेज में तोड़-फोड़ की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 10:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) के गार्गी कॉलेज (Gargi College) की छात्राओं ने आरोप लगाया कि उनके वार्षिक फेस्ट के दौरान दर्जनों बाहरी लड़कों ने कॉलेज में तोड़-फोड़ की. छात्राओं ने इस दौरान छेड़खानी करने का भी आरोप लगाया है. घटना गुरुवार शाम की बताई जा रही है. हालांकि, कॉलेज अधिकारी इस मामले में कोई शिकायत दर्ज होने की बात से साफ इंकार कर रहे हैं. यह कथित घटना कॉलेज में वार्षिक उत्सव 'रेवेरी' के तीसरे दिन हुई. कार्यवाहक प्रिंसिपल प्रोमिला कुमार ने बताया, 'इस मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है. यह कार्यक्रम डीयू के अन्य कॉलेजों में पढ़ने वाले लड़कों के लिए भी खुला था.'

6 फरवरी की है घटना
इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, कॉलेज छात्र संघ के अध्यक्ष सुंदरम ठाकुर ने बताया कि यह कथित घटना 6 फरवरी को शाम 4 से 5 बजे के बीच हुई थी. उन्होंने कहा कि पुरुषों के लिए इस आयोजन में प्रवेश प्रतिबंधित था.

पुलिस बोली- नहीं मिली शिकायत

गार्गी कॉलेज में छात्राओं के साथ कथित छेड़छाड़ के मामले में दक्षिणी दिल्‍ली के डीसीपी अतुल ठाकुर ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. उन्‍होंने बताया कि अभी तक इस मामले को लेकर किसी तरह की शिकायत नहीं मिली है.

गार्गी कॉलेज, दिल्ली यूनिवर्सिटी, छेड़छाड़, फेस्ट, दिल्ली न्यूज, Gargi College, Delhi University, Molestation, Fest, Delhi News
कथित घटना 6 फरवरी को शाम 4 से 5 बजे के बीच हुई थी. (प्रतीकात्मक फोटो)


बिना पास कॉलेज में घुसकर किया बवालसुंदरम ठाकुर ने बताया, 'हमने कॉलेज के हर छात्रा को पास दिए थे और यह उन्हें निर्णय लेना था कि वो पुरुष या महिला किसके साथ वहां प्रवेश करना चाहते हैं. कार्यक्रम के आयोजक यह सुनिश्चित करना चाहते थे कि यहां सीमित संख्या में लोग पहुंचे, लेकिन कार्यक्रम के दौरान शाम को गेट पर भारी भीड़ जमा हो गई थी.'

उपद्रवियों ने तोड़ा गेट
छात्र अध्‍यक्ष की मानें तो गेट के बाहर मौजूद उपद्रवियों ने धक्का देकर गेट तोड़ दिया. इस दौरान 200 से अधिक बाहरी लोग बिना पास के कॉलेज में घुस गए. उन्होंने बताया कि बहुत सारे छात्र घटना से बारे में अलग-अलग बातें कह रहे हैं, इस दौरान वहां स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए कुछ समय लगा.

शिकायत नहीं हुई दर्ज
कार्यवाहक प्रिंसिपल प्रोमिला कुमार ने बताया, 'इस मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है. यह कार्यक्रम डीयू के अन्य कॉलेजों में पढ़ने वाले लड़कों के लिए भी खुला था.' उन्होंने बताया कि कॉलेज प्रशासन के पास कैंपस में पुलिस, कमांडो और बाउंसर थे और कर्मचारी भी ड्यूटी पर थे.

ये भी पढ़ें: 

Delhi SI Murder: शादी में अड़चन बने गोत्र पर महिला SI ने बनाई थी दूरी

RSS नेता भैयाजी जोशी बोले- BJP के विरोध का मतलब हिंदुओं का विरोध नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 8:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर