होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

Delhi-NCR Pollution: दिल्‍ली-एनसीआर में आज भी 'जहरीली' है हवा, दो कदम चलते ही फूलने लगती है सांसें

Delhi-NCR Pollution: दिल्‍ली-एनसीआर में आज भी 'जहरीली' है हवा, दो कदम चलते ही फूलने लगती है सांसें

दिल्ली में वायु प्रदूषण

दिल्ली में वायु प्रदूषण

Air Pollution in Delhi-NCR: दिल्ली-एनसीआर में एक दिन की राहत के बाद मंगलवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) फिर से गंभीर श्रेणी में पहुंच गया था. दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 14 अंकों की बढ़ोतरी के साथ 404 रहा. गाजियाबाद का एक्यूआई 451 था, जो एनसीआर में सर्वाधिक था. प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए दिल्ली सरकार 11 नवंबर से 11 दिसंबर तक ‘एंटी ओपन बर्निंग’ अभियान चलाएगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण (Air Pollution) का कहर जारी है. पिछले 5-6 दिनों में प्रदूषण ने लोगों की नाक में दम कर रखा है. दिल्ली में बुधवार सुबह वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 382 रहा. पृथ्‍वी मंत्रालय के तहत आने वाली एजेंसी SAFAR ने हेल्‍थ एडवायजरी में लोगों को जहां तक हो सके, बाहर कदम न रखने की सलाह दी है. SAFAR के मुताबिक, बादलों की वजह से मिक्सिंग हाइट अगले दो दिनों तक कुछ कम रहेगी, जिसकी वजह से स्मॉग दिख सकता है. लेकिन एक्यूआई बेहद खराब स्तर पर बनेगा और लोगों की परेशानियां खत्म नहीं होंगी.

    वहीं राजधानी में प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए दिल्ली सरकार 11 नवंबर से 11 दिसंबर तक ‘एंटी ओपन बर्निंग’ अभियान चलाएगी. 10 विभागों की 550 टीमें इस पर नजर रखेंगी. 304 टीमें दिन और 246 टीमें रात में गश्त करेंगी. सरकार ने डीजल जेनरेटर व कोयला भट्ठियों पर रोक लगाने, मेट्रो व बस के फेरे बढ़ाने के निर्देश दिए हैं.

    दिल्ली सचिवालय में मंगलवार को बैठक में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा, खुले में कूड़ा जलाने से रोकने के लिए दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति, सभी निगम, कैंट बोर्ड और अन्य विभाग संयुक्त रूप से काम करेंगे. लोगों से दिल्ली ग्रीन एप पर खुले में कूड़ा जलाने की शिकायत करने की अपील की गई है.

    मंत्री ने कहा कि प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए नगर निगमों को पार्किंग शुल्क बढ़ाने व मेट्रो और बसों के फेरे बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं. साथ ही एसडीएम यह सुनिश्चित करेंगे कि सोसायटियों में तैनात गार्ड को हीटर दिए जाएं, ताकि वे रात में अलाव न जलाएं.

    केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने ग्रेप सख्ती से लागू करने का सुझाव दिया है. बोर्ड ने एजेंसियों को एनजीटी के आदेश के अनुसार, सड़क की मशीनीकृत सफाई और छिड़काव, दिल्ली-एनसीआर में ईंट भट्ठे, हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रशर बंद करने का सुझाव दिया है.

    Tags: Air pollution, Air pollution delhi, Delhi air pollution

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर