लाइव टीवी

चौपाल: राजौरी गार्डन में सिख वोटर्स इस बार किसका खेल बिगाड़ेंगे?
Delhi-Ncr News in Hindi

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: January 22, 2020, 5:47 PM IST
चौपाल: राजौरी गार्डन में सिख वोटर्स इस बार किसका खेल बिगाड़ेंगे?
एशिया की सबसे बड़ी मार्बल मार्केट्स राजौरी गार्डन में ही है.

राजौरी गार्डन विधानसभा सीट (Rajouri Garden Assembly Constituency) पर इस बार भी बीजेपी (BJP) और आम आदमी पार्टी (AAP) के बीच ही मुख्य मुकाबला देखने को मिल सकता है. कांग्रेस (Congress) इस विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ कर आप और बीजेपी में से किसी एक का खेल बिगाड़ सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2020, 5:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजौरी गार्डन विधानसभा (Rajouri Garden Assembly Seat) अंतगर्त आने वाली राजौरी गार्डन मार्केट दिल्ली में काफी मशहूर है. इस मार्केट में मार्बल आपको काफी सस्ते दामों पर मिल जाते हैं. एशिया की सबसे बड़ी मार्बल मार्केट्स राजौरी गार्डन में ही है. 70 के दशक में इस मार्केट की शुरुआत सिर्फ तीन-चार दुकानों से हुई थी और आज यहां 200 से अधिक मार्बल की दुकानें हैं. इस मार्केट में हर रेंज, डिजाइन और ट्रेंड के मार्बल पत्थर और टाइल्स आपको मिल जाएंगी. इस मार्केट में राजस्थान के अलावा इटली, स्पेन, चीन, ओमान, इजिप्ट से भी मार्बल आते हैं. यह मार्केट वेस्ट दिल्ली के राजौरी गार्डन एक्सटेंशन से शुरू हो कर मानसरोवर पार्क तक जाती है.

राजौरी गार्डन मार्बल मार्केट के लिए जानी जाती है


इस मार्केट में पार्किंग की जबरदस्त समस्या है. हालांकि पिछले साल साउथ MCD ने राजौरी गार्डन में मल्टीलेवल कार पार्किंग बनाने की शुरुआत कर दी है. राजौरी गार्डन वेस्ट दिल्ली संसदीय क्षेत्र में पड़ता है. राजौरी गार्डन विधानसभा को एक समय में कांग्रेस का गढ़ कहा जाता था, लेकिन कांग्रेस का यह किला धीरे-धीरे उसके हाथ से खिसकता चला गया.

Delhi Assembly Election 2020, Delhi Assembly Election, BJP, AAP, Congress, rajouri garden constituency, manjinder sigh sirsa, sad, akali dal, sgpc, ajay makan, jarnail singh, आम आदमी पार्टी, दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020, दिल्ली विधानसभा चुनाव, भाजपा, आप, कांग्रेस, राजौरी गार्डन, राजौरी गार्डन निर्वाचन क्षेत्र, अरविंद केजरीवाल, जरनैल सिंह delhi assembly election 2020 chaupal sikh voters decide rajouri garden seat voting 8 counting result date 11 february aap bjp congress aam aadmi party nodrss
मौजूदा विधायक और दिल्ली एसजीपीसी प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने चुनाव नहीं लड़़ने का फैसला किया है.


राजौरी गार्डन विधानसभा सीट पर इस बार भी बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच ही मुख्य मुकाबला देखने को मिल सकता है. कांग्रेस इस विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ कर आप और बीजेपी में से किसी एक का खेल बिगाड़ सकती है. सिख बहुल इस विधानसभा क्षेत्र में मौजूदा विधायक और दिल्ली एसजीपीसी प्रमुख मनजिंदर सिंह सिरसा ने चुनाव नहीं लड़़ने का फैसला किया है. राजौरी गार्डन विधानसभा सीट पर साल 2017 में हुए उपचुनाव में बीजेपी और अकाली दल के उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा को चुनाव लड़वाया था. बीजेपी ने यह सीट आम आदमी पार्टी से छीन ली थी.

अजय माकन इस सीट से तीन बार जीत चुके हैं

बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनाव में इस सीट से जरनैल सिंह जीते थे, लेकिन उन्होंने पंजाब की राजनीति में सक्रिय होने के चलते 2017 में विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था. हालांकि पंजाब में वह अपनी सीट जीतने में नाकामयाब रहे थे. इस सीट की एक दिलचस्प बात यह है कि यहां से कांग्रस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन के अलावा कोई भी प्रत्याशी एक से अधिक बार चुनाव नहीं जीत सका है. अजय माकन ने यह सीट 1993, 1998 और 2003 जीत कर हैट्रिक बनाई थी.
Delhi Assembly Election 2020, Delhi Assembly Election, BJP, AAP, Congress, rajouri garden constituency, manjinder sigh sirsa, sad, akali dal, sgpc, ajay makan, jarnail singh, आम आदमी पार्टी, दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020, दिल्ली विधानसभा चुनाव, भाजपा, आप, कांग्रेस, राजौरी गार्डन, राजौरी गार्डन निर्वाचन क्षेत्र, अरविंद केजरीवाल, जरनैल सिंह delhi assembly election 2020 chaupal sikh voters decide rajouri garden seat voting 8 counting result date 11 february aap bjp congress aam aadmi party nodrss
अजय माकन के अलावा कोई भी प्रत्याशी एक से अधिक बार चुनाव नहीं जीत सका है.


पिछले उपचुनाव में बीजेपी-अकाली के संयुक्त उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा को 40 हजार 602 वोट मिले थे, जबकि कांग्रेस की मिनाक्षी चंदेला को 25 हजार 950 वोट मिले और आप के हरजीत सिंह को 10 हजार 243 वोट मिले थे. मौजूदा विधायक सिरसा का दावा है कि उन्होंने राजौरी गार्डन में 200 करोड़ रुपये की लागत से वाटर हाईड्रोलिक रिमॉडलिंग सिस्टम लगवा रहे हैं. विधायक का दावा है कि इस सिस्टम के शुरू होने के बाद लोगों को घरों में मोटर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. इसके अलावा मुख्य सीवर लाइन और पानी की पाइपलाइन बदली गई है. इलाके में 275 सड़कों को बनाने का काम किया जा रहा है. इलाके में ओपन जिम, स्ट्रीट लाइटें लगाई गई हैं. गुरुद्वारे व मंदिर में श्रद्धालुओं के बैठने के लिए बेंच की व्यवस्था की गई है. सोसायटी में भी इलेक्ट्रॉनिक बैरियर लगाए गए हैं.

पार्किंग एक बड़ी समस्या है

वहीं पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी रहे हरजीत सिंह का कहना है कि इलाके में विधायक की ओर से कोई कार्य नहीं किए गए हैं. आप का दावा है कि इलाके में जो कार्य हो रहे हैं वह आम आदमी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता की बदौलत हो रहे हैं. चुनाव नजदीक आने के बाद कुछ जगहों पर सड़कों की मरम्मत का कार्य शुरू हो गया है. जबकि पार्किंग की समस्या के निदान के लिए कुछ नहीं किया गया है. सड़कों पर गाड़ियां खड़ी होने से जाम की समस्या काफी होती है.

Delhi Assembly Election 2020, Delhi Assembly Election, BJP, AAP, Congress, rajouri garden constituency, manjinder sigh sirsa, sad, akali dal, sgpc, ajay makan, jarnail singh, आम आदमी पार्टी, दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020, दिल्ली विधानसभा चुनाव, भाजपा, आप, कांग्रेस, राजौरी गार्डन, राजौरी गार्डन निर्वाचन क्षेत्र, अरविंद केजरीवाल, जरनैल सिंह delhi assembly election 2020 chaupal sikh voters decide rajouri garden seat voting 8 counting result date 11 february aap bjp congress aam aadmi party nodrss
पिछले उपचुनाव में बीजेपी-अकाली के संयुक्त उम्मीदवार मनजिंदर सिंह सिरसा को 40 हजार 602 वोट मिले थे


गुरुद्वारा में काम करने वाले रंजीत सिंह न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहते हैं, 'राजौरी गार्डन में आए दिन बिजली का खंभा गिर जाता है. राजौरी गार्डन विधानसभा क्षेत्र में केजरीवाल सरकार ने लापरवाही बरती है. पार्किंग, जाम और धार्मिक स्थलों की सौंदर्यीकरण के लिए कुछ काम नहीं किए गए हैं. पार्किंग के अलावा भी इस विधानसभा में कई समस्याएं हैं. मल्टीलेवल कार पार्किंग की जरूरत है.'

दिल्ली सरकार के कामकाज का भी असर पड़ेगा

वहीं आदर्श सेठ कहते हैं, केजरीवाल सरकार ने खास तौर पर इस इलाके पर काम किया है. आप की सरकार ने यहां स्थानीय समस्याओं को लेकर कई कदम उठाए हैं. बारिश में पार्क में पानी निकासी का मुद्दा हो या फिर सीवर लगाने का काम हो जल बोर्ड ने अच्छा काम किया है. दूषित पानी की आपूर्ति की समस्या काफी हद सही हो गई है. इलाके की सड़कों को दुरुस्त करने की और जरूरत है. बदहाल सड़क के कारण लोगों को दिक्कत हो रही है. स्कूलों, प्लेग्राउंड और चिल्ड्रन पार्क के निर्माण हुए हैं.'

ये भी पढ़ें: 

चौपाल: मादीपुर सीट पर कांग्रेस की हैट्रिक का जवाब AAP भी हैट्रिक लगा कर देगी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 5:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर