नामांकन दाखिल करने के लिए 6 घंटे से लाइन में लगे हैं केजरीवाल, बोले- मज़ा आ रहा है

अरविंद केजरीवाल ने नई दिल्ली विधानसभा सीट से नामांकन दाखिल करने के लिए लगभग छह घंटे का इंतजार किया (फोटो: ANI)

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने ट्वीट कर बताया कि मैं अपना नामांकन दाखिल करने के लिए इंतजार कर रहा हूं. मेरा नंबर 45वां है. यहां कई लोग अपना नामांकन दाखिल करने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं. मुझे खुशी है कि इतनी संख्या में लोग लोकतांत्रिक प्रक्रिया में हिस्सा ले रहे हैं

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) आम आदमी पार्टी (AAP) के कैंडिडेट के रूप में अपना नामांकन पत्र दाखिल (Election Nomination File) करने के लिए अभी भी इंतजार कर रहे हैं. केजरीवाल करीब 12 बजे एसडीएम ऑफिस पहुंचे थे और पिछले 5 घंटों से वो इंतज़ार कर रहे हैं.

    आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार सौरभ भारद्वाज ने नामांकन दाखिल करने में देरी को लेकर साजिश की आशंका जाहिर की है पर केजरीवाल ने कहा कि उन्हें अपनी बारी का इंतजार करने में मजा आ रहा है. बाद में सौरभ ने ट्वीट कर कहा कि क्या आपने कभी किसी सीएम को नॉमिनेशन भरने के लिए 6 घंटे इंतज़ार करते हुए देखा है. उधर डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भी बीजेपी पर आरोप लगाया कि उनकी शह पर ही 45 लोग केजरीवाल से पहले उम्मीदवार बनकर लाइन में लगे हुए हैं.

     



    केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, 'कोई फर्क नहीं पड़ता. कई उम्मीदवार पहली बार अपना नामांकन दाखिल कर रहे हैं. हमने भी पहली बार काफी गलतियां की थी. हम सभी को उनका साथ देना चाहिए. मैं उनके साथ इंतजार करना इंजॉय कर रहा हूं. वो सभी मेरे परिवार का हिस्सा हैं.'



    इससे पहले दोपहर ढाई बजे के लगभग केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था, 'मैं अपना नामांकन दाखिल करने के लिए इंतजार कर रहा हूं. मेरा नंबर 45वां है. यहां कई लोग अपना नामांकन दाखिल करने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं. मुझे खुशी है कि इतनी संख्या में लोग लोकतांत्रिक प्रक्रिया में हिस्सा ले रहे हैं.'



    बता दें कि चुनाव आयोग द्वारा उम्मीदवारों के नामांकन दाखिल करने का समय दोपहर तीन बजे तक ही निर्धारित था. लेकिन केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि उन्हें टोकन नंबर 45 मिला है इसलिए समझा जा रहा है कि वो तय समय बीतने के बाद भी अपना नामांकन भर सकते हैं.

    इससे पहले मंगलवार को दोपहर एक बजे के लगभग अरविंद केजरीवाल अपने परिवार के साथ नामांकन दाखिल करने के लिए रिटर्निंग ऑफिसर के दफ्तर जामनगर हाउस पहुंचे. केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा सीट (New Delhi Assembly Seat) से लगातार तीसरी बार पर्चा भरने आए हैं. नामांकन भरने से पहले सीएम केजरीवाल (CM Kejriwal) ने कहा कि सभी पार्टियों का एक ही मकसद है किसी तरह से केजरीवाल को हटाया जाए. जबकि मेरा एक ही मकसद है कैसे दिल्ली के स्कूल और अस्पताल ठीक किये जाएं.



    इससे पहले, सोमवार को केजरीवाल अपना नामांकन दाखिल नहीं कर पाए थे. वो खुली जीप में रोड शो कर नामांकन भरने जा रहे थे लेकिन सड़क जाम के चलते देरी होने से वो पर्चा नहीं भर सके थे. बता दें कि चुनाव आयोग के नियमों के अनुसार दोपहर तीन बजे तक ही नामांकन दाखिल किया जा सकता है.



    बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने वर्ष 2014 और 2015 में भी नई दिल्ली सीट से चुनाव लड़ा था. 2014 में उन्होंने दिल्ली की तत्कालीन मुख्यमंत्री और कांग्रेस की उम्मीदवार शीला दीक्षित को यहां से हराया था. तब किसी ने भी कल्पना नहीं की थी कि केजरीवाल हैवीवेट माने जानी वाली शीला दीक्षित पर भारी पड़ जाएंगे.

    केजरीवाल के खिलाफ BJP के सुनील यादव, कांग्रेस के रोमेश सभरवाल उम्मीदवार 

    नई दिल्ली सीट पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बीजेपी ने सुनील यादव को अपना उम्मीदवार बनाने की घोषणा की है. वहीं कांग्रेस ने केजरीवाल के खिलाफ रोमेश सभरवाल (Romesh Sabharwal) को नई दिल्ली सीट से चुनाव में उतारा है. कहा जा रहा है कि केजरीवाल जैसे मजबूत उम्मीदवार के आगे बीजेपी और कांग्रेस (BJP And Congress) के कैंडिडेट अपेक्षाकृत कमजोर हैं.

    दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तारीख 21 जनवरी है. नामांकन प्रक्रिया खत्म होने के बाद चुनाव आयोग 24 जनवरी को इसकी स्क्रूटनी करेगा.

    बता दें कि दिल्ली की सभी 70 विधानसभा सीटों के लिए आठ फरवरी को वोटिंग है. वहीं इसके तीन दिन बाद 11 फरवरी को चुनाव के नतीजे घोषित होंगे. दिल्ली विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल 22 फरवरी को खत्म हो रहा है. इसलिए नियमानुसार इससे पहले तक चुनाव कराकर नई विधानसभा का गठन कर लेना है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.