लाइव टीवी

दिल्ली चुनाव: सभी 70 सीटों पर वोटिंग आज, AAP-BJP और कांग्रेस में है टक्कर
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 8, 2020, 12:02 AM IST
दिल्ली चुनाव: सभी 70 सीटों पर वोटिंग आज, AAP-BJP और कांग्रेस में है टक्कर
दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को वोटिंग होगी. (प्रतीकात्मक फोटो)

दिल्ली (Delhi) में करीब 40,000 सुरक्षाकर्मियों, होमगार्ड (Home Guard) के 19,000 जवानों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CRPF) की 190 कंपनियां तैनात की गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 8, 2020, 12:02 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly Elections 2020) की सभी 70 सीटों के लिए शनिवार 8 फरवरी को मतदान होगा. वोटिंग सुबह 8 बजे शुरू होगी और शाम 6 बजे तक चलेगी. मतदान के लिए 15,750 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. जहां दिल्ली के एक करोड़ 47 लाख 86 हजार 389 वोटर अपने लिए विधायक और नई सरकार चुनेंगे. दिल्ली में सत्ता के लिए मुख्य रूप से आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) , बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) में मुकाबला है.

राजधानी में शनिवार को होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में करीब 40,000 सुरक्षाकर्मियों, होमगार्ड के 19,000 जवानों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CRPF) की 190 कंपनियां तैनात की गई हैं. उत्तराखंड, हरियाणा और उत्तर प्रदेश से बुलाए गए होमगार्ड के जवान मतदान केंद्रों पर सुरक्षा में स्थानीय पुलिस की मदद करेंगे.

504 गैरकानूनी हथियार जब्त
पुलिस ने बताया कि आचार संहिता लागू होने के कारण विशेष अभियान के तहत 99,210 लीटर अवैध शराब, 774.1 किलो मादक पदार्थ जब्त किया गया है. इसके अलावा 504 गैरकानूनी हथियार जब्त किए गए हैं और 7,397 लाइसेंसी हथियार एहतियाती तौर पर जमा करवा लिए गए हैं.

सोशल मीडिया पर भी नजर
पुलिस ने मीडिया (Media) को बताया कि मतदान परिसरों की सुरक्षा और ईवीएम की आवाजाही के लिए सीएपीएफ के 190 जवानों को शामिल किया गया है. साथ ही लगभग 40,000 कर्मियों को विशिष्ट स्पेशल इलेक्शन ड्यूटी पर तैनात किया गया है. इसके अलावा, 19,000 होमगार्ड मतदान केंद्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में स्थानीय पुलिस की मदद करेंगे.

अतिरिक्त सुरक्षाबल भी तैनातवहीं ईवीएम, महत्वपूर्ण बूथों और मतगणना केंद्रों की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए अतिरिक्त बल भी तैनात किए गए हैं. दिल्ली में 2689 मतदान परिसर (545 संवेदनशील) और 21 मतगणना केंद्र हैं, जिन्हें मल्टी लेवल सुरक्षा दी गई है. पुलिस का दावा है कि वो सेंसटिव पोलिंग बूथ पर मतादाताओं के सुगम आवागमन के लिए हरसंभव सावधानी बरतेगी.

संवेदनशील क्षेत्रों पर विशेष ध्यान
निगरानी दल और उड़न दस्ते तैनात किए गए हैं. पुलिस ने साफ किया कि पैसे, बाहुबल या अन्य गैरकानूनी तरीकों से वोटर को प्रभावित करने के किसी भी प्रयास की जांच के लिए संवेदनशील क्षेत्रों में विशेष जांच अभियान चलाए जा रहे हैं. मतदान अधिकारियों के साथ ईवीएम परिवहन ड्रिल का प्लान भी बनाया गया है.

एनसीआर पुलिस के साथ मिलकर रखी है कड़ी निगरानी
संवेदनशील क्षेत्रों में आतंक को रोकने के लिए सभी आवश्यक उपाय भी किए गए हैं. साथ ही परिवहन में अवैध शराब  की जांच करने के लिए सीमाओं पर पिकेट को मजबूत किया गया है. सभी सीमा क्षेत्रों को एनसीआर पुलिस के साथ लगातार कड़ी निगरानी में रखा जाएगा. एक वरिष्ठ अधिकारी जमीनी स्तर पर व्यवस्थाओं का बारीकी से निरीक्षण करेंगे.

तीन किलोमीटर के दायरे में मतदान केंद्र तक फ्री में पहुंचाएंगी रेपिडो
दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मतदान करने वाले मतदाताओं को बाइक टैक्सी सेवा प्रदान करने वाली ऐप आधारित कंपनी रैपिडो फ्री में पोलिंग बूथ पर पहुंचाएगी. रैपिडो की तरफ से कहा गया है कि वो शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचने में मदद करने के लिए मुफ्त सफर कराएगी. प्रवक्ता ने कहा, ‘रैपिडो मतदाताओं को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने में मदद पहुंचाने के लिए छोटी सी भूमिका निभाएगी. वह दिल्ली में सभी मतदाताओं को मतदान केंद्र तक के लिए मुफ्त सफर की पेशकश कर रही है. कंपनी दिल्ली में कहीं भी तीन किलोमीटर तक मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए शत प्रतिशत भाड़ा माफ कर देगी.’

(रिपोर्ट- दीपक रावत)

ये भी पढ़ें:

विवादित वीडियो ट्वीट करने पर फंसे केजरीवाल, चुनाव आयोग ने जारी किया नोटिस

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 10:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर