लाइव टीवी

दिल्ली चुनाव: BJP ने बनाई ये 'खास' रणनीति, रैलियों के लिए PM मोदी-शाह के बाद इस दिग्गज की डिमांड!
Delhi-Ncr News in Hindi

Anoop Kumar | News18Hindi
Updated: January 18, 2020, 6:15 PM IST
दिल्ली चुनाव: BJP ने बनाई ये 'खास' रणनीति, रैलियों के लिए PM मोदी-शाह के बाद इस दिग्गज की डिमांड!
सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली चुनाव के लिए बीजेपी ने अलग-अलग रणनीति बनाई हैं. (File Photo)

Delhi Assembly Election 2020 के लिए बीजेपी ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. सूत्रों के मुताबिक, इस बार दिल्ली में रैलियों के लिए पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के बाद यूपी के दिग्गज नेता की डिमांड की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2020, 6:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. आम आदमी पार्टी के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने भी गुरुवार को 57 उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया. इसके साथ ही बीजेपी चुनावी रणनीति में जुट गई है. बीजेपी ने केंद्र के सभी के केंद्रीय मंत्रियों, राज्यमंत्रियों, बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों, बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्री को दिल्ली में छोटी बड़ी 300 से ज्यादा जनसभाओं को संबोधित करने का निर्देश दिया है. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली में जनसभा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM  Narendra Modi), बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सबसे ज्यादा की सबसे ज्यादा मांग है.

राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव के बाद कैम्पेन की शुरुआत करेगी बीजेपी
बीजेपी सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव के बाद बीजेपी युद्धस्तर पर दिल्ली में कैम्पेन की शुरुआत करेगी. बीजेपी सूत्रों की माने तो योगी आदित्यनाथ 10 के करीब छोटी बड़ी सभाओं को संबोधित करेंगे. इसके अलावा जरूरत पड़ने पर योगी आदित्यनाथ दिल्ली में रोड शो भी कर सकते हैं. उत्तर प्रदेश से बीजेपी के बड़े नेताओ और मंत्रियों को पूर्वांचल क्षेत्र में गहन कैम्पिंग करने का निदेश दिया गया है. बीजेपी ने यूपी के नेताओं के लिए क्षेत्र का भी आवंटन किया है.

दिल्ली में दो से तीन रैली कर सकते हैं पीएम मोदी



सूत्रों की माने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दो बड़ी रैली कराने की योजना है, जिसपर आखिरी रूपरेखा तैयार की जा रही है. अमित शाह और जेपी नड्डा हर विधानसभा स्तर पर सभाएं, बैठक और कुछ जगहों पर रोड शो का भी आयोजन करेंगे. दिल्ली बीजेपी ने प्रधानमंत्री मोदी की 10 से 12 रैली की मांग की है, फिलहाल दो से तीन रैली करने की रणनीति है.

बूथ ब्लॉक और मंडल लेवल के कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करेंगे नड्डा
सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा दिल्ली की सभी 70 विधानसभा के बूथ और मंडल कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करेंगे. सूत्रों के मुताबिक, अब तक 17 विधानसभा में जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की है. जेपी नड्डा मतदान से पहले सभी 70 विधानसभा के बूथ ब्लॉक और मंडल लेवल के कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद करेंगे. दिल्ली विधानसभा को लेकर केंद्रीय मंत्रियों को भी क्षेत्रवार जिम्मेवारी दी जा रही है. जिनको जिस क्षेत्र की जिम्मेवारी दी जाएगी, वे मंत्री उसी क्षेत्र की रूपरेखा तैयार करेंगे.

 

बता दें, पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को केवल 3 सीटों से ही संतुष्ट होना पड़ा था. बीजेपी पिछले 21 सालों से दिल्ली की सत्ता से महरूम है. 1998 से लेकर 2015 तक पांच बार के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का मत प्रतिशत 32 से 36 के बीच रहा है, जबकि कांग्रेस का ग्राफ गिरा और 'आप' का ऊपर गया. 1998 में बीजेपी को 34.02 फीसदी वोट मिले. 2003 में 35.22, 2008 में 36.34, 2013 में 33 और 2015 के चुनाव में 32.3 फीसदी वोट मिले थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 6:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर