लाइव टीवी

Delhi Election Result 2020: आप ने जीती संगम विहार (SANGAM VIHAR) सीट, तीसरे नंबर पर रहीं कांग्रेस की पूनम आज़ाद
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 5:48 PM IST
Delhi Election Result 2020: आप ने जीती संगम विहार (SANGAM VIHAR) सीट, तीसरे नंबर पर रहीं कांग्रेस की पूनम आज़ाद
प्रतीकात्मक फोटो.

पूनम आज़ाद क्रिकेटर रहे कीर्ति आज़ाद की पत्नी है. कांग्रेस (Congress) ने कीर्ति आज़ाद (Kirti Azad) को भी दिल्ली विधानसभा चुनावों (Delhi assembly election) की कमान सौंपी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 5:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. संगम विहार विधानसभा क्षेत्र से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार दिनेश मोहनिया ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी जेडीयू के शिवचरण लाल गुप्ता को 42522 मतों से हरा दिया. यहां कांग्रेस की पूनम आज़ाद (Poonam Azad) तीसरे नंबर पर रहीं.

2008 में संगम विहार का इलाका विधानसभा बना था. चुनाव आयोग ने 2008 में पहली बार यहां विधानसभा चुनाव कराए थे. उस वक्त यहां से बीजेपी के एससीएल गुप्‍ता कांग्रेस के आमोद कुमार कांत को हराकर विधायक बने थे. लेकिन 2013 के विधानसभा चुनावों के बाद संगम विहार पर आम आदमी पार्टी (आप) का कब्जा हो गया. 2013 और 2015 में आप के दिनेश मोहनिया बीजेपी उम्मीदवार को हराकर विधायक बने थे.

ऐसा है संगम विहार का सियासी आईना

संगम विहार विधानसभा बनने के साथ ही पहला बीजेपी तो दूसरा-तीसरा चुनाव आप ने जीता था. 2015 के चुनाव में मोहनिया नें बीजेपी उम्मीदवार शिव चरण लाल गुप्ता को हराया था. मोहनिया को इस चुनाव में 72131 वोट मिले थे. वहीं बीजेपी उम्मीदवार को 28143 वोट हासिल हुए थे. जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार विशन स्वरुप अग्रवाल को इस चुनाव में 3423 वोट मिले और वो तीसरे स्थान पर रहे. साल 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में यहां 66.68 फीसदी वोट डाले गए थे.

संगम विहार में 1.64 लाख है वोटर्स की संख्या

संगम विहार चुनाव क्षेत्र में कुल वोटर्स की संख्या 164019 है. इसमे महिला वोटर की संख्या 66547 और पुरुष वोटर्स की संख्या (97459) है. 2019 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी केवल 18.1 फीसदी वोट पा सकी तो बीजेपी 56.5 फीसदी मत पाने में कामयाब रही. कांग्रेस के वोट शेयर में 12 फीसदी की बढ़ोतरी हुई और उसे 22.5 फीसदी वोट मिले थे.

 इसलिए पहचान का मोहताज नहीं है संगम विहार दिल्ली की संगम विहार विधानसभा किसी नाम की मोहताज नहीं है. दिल्ली के किसी भी छोर पर इसका नाम लेकर पहुंचा जा सकता है. गाज़ियाबाद, नोएडा और महरौली के लिए भी यहां से ट्रांसपोर्ट की अच्छी सुविधा है. ऐसा दावा किया जाता है कि कभी संगम विहार एशिया की सबसे बड़ी कालोनी थी. दिल्‍ली के इस सीमांत इलाके में बड़े पैमाने पर जंगल है. छतरपुर से सटा होने के चलते भी संगम विहार में चारों ओर अच्छी खासी हरियाली है. संगम विहार दक्षिण दिल्‍ली लोकसभा क्षेत्र में आता है. संगम विहार का यह इलाका बिजवासन, अंबेडकर नगर, छतरपुर और कालकाजी विधानसभा से घिरा हुआ है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 10:31 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर