LIVE NOW

Delhi Budget 2021 Highlights: दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में लगेगा कोरोना का टीका

Delhi Budget 2021 Updates: केजरीवाल सरकार ने 69000 करोड़ का बजट पेश किया. वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने महिला स्वास्थ्य और शिक्षा से जुड़ी कई घोषणाएं की. साथ ही कहा कि सरकार वर्ष 2048 में दिल्ली में ओलंपिक के आयोजन को लेकर खेल सुविधाओं के विकास का खाका बना रही है.

Hindi.news18.com | March 9, 2021, 8:33 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated March 9, 2021
12:58 pm (IST)
साल 2021-22 के लिए पेश दिल्ली के बजट में किस क्षेत्र में कितनी राशि का आवंटन किया गया, यहां पढ़ें


12:40 pm (IST)
दिल्ली के वित्त मंत्री ने लगभग डेढ़ घंटे के बजट भाषण का समापन गुरुदेव रबीन्द्रनाथ ठाकुर की कविता, 'व्हेयर द माइंड इस विदाउट फियर' के साथ की. इसके साथ ही यह बजट अब सदन के पटल पर बहस के लिए सौंप दिया गया. 

12:31 pm (IST)
दिल्ली सरकार देश में शिक्षकों के लिए विश्वविद्यालय खोलेगी. वर्चुअल स्कूल खोलने के साथ-साथ दिल्ली का अपना एजुकेशन बोर्ड भी होगा.


12:13 pm (IST)

दिल्ली सरकार के बजट में महिलाओं के लिए कई घोषणाएं


12:06 pm (IST)
2020 का साल महामारी का साल है. बशीर बद्र का शेर, 'कोई हाथ भी ना मिलाएगा तपाक से...' पढ़ते हुए सिसोदिया ने कहा कि हमारी बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं ने कोरोना के सफल प्रबंधन को बेहतर बनाया. हमारे कोरोना वारियर्स को सलाम जिन्होंने दिल्ली और दिल्ली से बाहर के लोगों की सेवा की. दिल्ली के लोगों को सरकारी अस्पतालो में फ्री वैक्सीन उपलब्ध कराएंगे. इसके लिए 50 करोड़ का बजट दिया जा रहा है.

12:00 pm (IST)
आजादी के सौवें साल में दिल्ली में ओलंपिक खेल हों, सरकार ने यह सपना देखा है. दिल्ली में खेल के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित किए जा रहे हैं. अगले कुछ सालों में सरकार और भी व्यवस्थाएं करेगी. इसलिए हमारी सरकार का सपना है कि 25 साल के बाद यानी 2048 के ओलंपिक खेल दिल्ली में हों. हम इसका दावा कर सकें, इसके लिए दिल्ली में खेल की सुविधाएं विकसित की जाएंगी.

11:57 am (IST)
बजट भाषण में वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में पढ़ने वाले बच्चे कट्टर देशभक्त, अच्छे इंसान और नौकरी के पीछे भागने वाले नहीं, बल्कि नौकरी देने वाले बने, इस दिशा शिक्षा के मॉडल पर काम किया जा रहा है. केंद्र सरकार ने 15 हज़ार एक्ससिलेन्स स्कूल बनाने की घोषणा की है. हमारे लिए अच्छा है कि दिल्ली सरकार से सीखा. कोरोना ने शिक्षा में तकनीक को बढ़ावा दिया है. इसके मद्देनजर दिल्ली सरकार ने तय किया है कि वर्चुअल मॉडल स्कूल शुरू हों, जिसमें कोई ढांचा नहीं होगा, चहारदीवारी नहीं होगी, सब वर्चुअल होगा. यहां बच्चे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे. इसके लिए बजट में 16000 करोड़ से ज्यादा की राशि दी जा रही है.

11:53 am (IST)
कोरोनाकाल से सीख लेकर दिल्ली में पहला वर्चुअल स्कूल खोला जाएगा. इस स्कूल में चहारदीवारी नहीं होगी, इसमें देश के किसी भी स्थान पर रहने वाले बच्चे, जो दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था के तहत पढ़ना चाहते हैं, शिक्षा ले सकेंगे. यह अपनी तरह का दुनिया में पहला वर्चुअल स्कूल होगा.

11:48 am (IST)
दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था में और सुधार के लिए सरकार अब क्वालिटी एजुकेशन पर ध्यान देगी.


LOAD MORE
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने मंगलवार को 2021- 22 के लिए 69,000 करोड़ रुपए का बजट पेश किया. बजट को ‘‘देशभक्ति’’ की विषयवस्तु के साथ तैयार किया गया है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने राज्य का बजट पेश करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने देश की स्वतंत्रता का 75वां वर्ष मनाने का फैसला किया है. इसके लिए वह 12मार्च से 75 सप्ताह तक कार्यक्रमों का आयोजन करेगी.

आपको बता दें कि सिसोदिया उप मुख्यमंत्री होने के साथ वित्त मंत्रालय का कामकाज भी संभाले हुए हैं. उन्होंने कहा कि देशभक्ति बजट के तहत राज्य सरकार राष्ट्रीय राजधानी में 500 स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज लहराने के लिए 45 करोड़ रुपए की लागत से ऊंचे खंबे लगाएगी. सिसोदिया ने कहा कि राज्य के विद्यालयों में देशभक्ति की पढ़ाई के लिए ‘‘देशभक्ति पीरियड’’ भी शुरू किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि आप सरकार वर्ष 2047 तक दिल्ली की प्रति व्यक्ति आय को सिंगापुर की प्रति व्यक्ति आय के बराबर ले जाने की इच्छा रखती है. उप मुख्यमंत्री ने कहा कि 75वें सप्ताह के दौरान भगत सिंह के जीवन पर कार्यक्रम चलाने के लिए 10 करोड़ रुपए का आवंटन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि अगले वित्त वर्ष के बजट का कुल आकार मौजूदा वर्ष के बजट के मुकाबले 6.1 प्रतिशत अधिक है.



इससे पहले दिल्ली विधानसभा में वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने सुबह 11 बजे बजट भाषण शुरू किया. सिसोदिया ने सातवीं बार बजट पेश किया. कोरोनाकाल को देखते हुए केंद्र सरकार और देश के कुछ अन्य राज्यों की तरह इस बार दिल्ली में भी डिजिटल बजट पेश किया गया.

बताया गया कि कोविड में राजस्व घटने के बाद इस बार दिल्ली का सबसे बड़ा बजट पेश होगा. दिल्ली सरकार ने इस बार आजादी के 75वें साल के चलते देशभक्ति बजट का नाम दिया है. इससे पहले सरकार ने 2015-16 में स्वराज और उसके बाद 2018-19 में ग्रीन बजट की थीम से बजट पेश किया था. (इनपुट भाषा से भी)

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज