दिल्ली: देखते ही देखते धुंध में गायब हुआ बुरारी गांव, VIDEO देख कर रह जाएंगे दंग

यह फोटो दिल्ली के बुरारी इलाके की है.
यह फोटो दिल्ली के बुरारी इलाके की है.

बुरारी इलाके में आज सुबह स्मॉग के कारण विजिबिलिटी (visibility) घटकर काफी कम हो गई. ऐसे में सड़कों पर पैदल चल रहे लोग भी दिखाई नहीं दे रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2020, 9:58 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु गुणवत्ता (AQI) धीरे-धीरे बेहद खराब होती जा रही है. इससे लोगों का स्‍वच्‍छ हवा में सांस लेना दूभर हो गया है. प्रदूषण का आलम यह है कि कई स्थानों पर विजिबिलिटी काफी कम हो गई है. वहीं, शनिवार सुबह दिल्ली (Delhi) के कई इलाकों में धुंध छाई हुई थी. इससे किसी भी चीज को देख पाना मुश्किल हो गया. खास कर बुरारी इलाके में आज सुबह स्मॉग के कारण विजिबिलिटी (visibility) घटकर काफी कम हो गई. ऐसे में सड़कों पर पैदल चल रहे लोगों तक का देख पाना मुश्कल हो गया था.

वहीं, कश्मीरी गेट और मुखर्जी नगर क्षेत्र का भी कुछ ऐसा ही हाल था. यहां पर भी धुंध की वजह से सुबह-सुबह कुछ नहीं दिखाई दे रहा था. इमारतें और पेड़- पौधे तक दिखाई नहीं दे रहे थे. दरअसल, वायुमंडल में प्रदूषकों के बढ़ने की वजह से दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक बेहद गंभीर श्रेणी में पहुंच गया है. 0 और 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा, 51 और 100 के बीच संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम, 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 के बीच बेहद खराब और 401 से 500 के बीच बेहद गंभीर माना जाता है.


गुरुवार को वायु गुणवत्ता स्तर ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गया था
बता दें कि गुरुवार को खबर सामने आई थी कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली (Delhi-NCR) समेत नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव और फरीदाबाद में गुरुवार को वायु गुणवत्ता स्तर ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गया है. वायु गुणवत्ता का यह स्तर न केवल स्वस्थ व्यक्तियों के स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है बल्कि उन लोगों के स्वास्थ्य पर गंभीर असर डाल रहा है जो पहले से ही रोगों की चपेट में हैं. दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) के अनुसार दिल्ली समेत इन पांच पड़ोसी इलाकों में पीएम 2.5 और पीएम 10 का स्तर भी बेहद ज्यादा बना हुआ है. सीपीसीबी के समीर ऐप के अनुसार, गुरुवार शाम चार बजे गाजियाबाद में पिछले 24 घंटे में वायु गुणवत्ता का स्तर 464 दर्ज किया गया. जबकि यह दिल्‍ली में 500 के पार पहुंच गया है. इसके बाद ग्रेटर नोएडा में 457, नोएडा में 450, गुड़गांव में 443 और फरीदाबाद में 416 दर्ज किया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज