बिजनेसमैन ने बदमाशों को दी कत्ल की सुपारी, और कत्ल वाले दिन भेज दी अपनी ही तस्वीर, जानें क्यों

पुलिस द्वारा पकड़े गए कत्ल के आरोपी.
पुलिस द्वारा पकड़े गए कत्ल के आरोपी.

बिजनेसमैन ने बदमाशों (Criminal) को फोन कर बता दिया कि जिसका कत्ल करना है वो रणहौला में मिलेगा. साथ ही व्हाट्सऐप (Whatsapp) पर फोटो भेज दिया. जहां बदमाशों ने फोटो वाले व्यक्ति के हाथ-पैर बांधकर पेड़ से लटका दिया.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के एक बिजनेसमैन ने बदमाशों को कत्ल की सुपारी दे दी. सुपारी देने के साथ ही कत्ल का दिन और जगह भी बता दी. कत्ल किसका करना यह कत्ल वाले दिन ही व्हाट्सऐप (Whatsapp) पर फोटो भेजकर बता दिया जाएगा. कत्ल की तारीख 10 जून तय हुई. इसी दिन बिजनेसमैन ने बदमाशों (Criminal) को फोन कर बता दिया कि जिसका कत्ल करना है वो रणहौला में मिलेगा. साथ ही व्हाट्सऐप पर फोटो भेज दिया. जहां बदमाशों ने फोटो वाले व्यक्ति के हाथ-पैर बांधकर पेड़ से लटका दिया.

बदमाशों ने जिसे मारा वो खुद सुपारी देने वाला बिजनेसमैन ही था

पुलिस ने जांच-पड़ताल के बाद खुलासा करते हुए बताया कि शानू बंसल किराना का थोक व्यापारी था. कड़कड़डूमा में गौरव की दुकान है. बीते काफी वक्त से दुकान में घाटे के चलते गौरव डिप्रेशन में चल रहा था. 9 जून को गौरव दुकान गया, लेकिन घर लौटकर नहीं आया. उस दिन अपनी कार भी घर पर ही छोड़कर गया था. गौरव की पत्नी शानू बंसल ने 10 जून को आनंद विहार थाने में इसकी सूचना दर्ज करा दी थी.



लोन लेने के बाद गौरव के साथ हुई थी ऑनलाइन ठगी
गौरव की पत्नी शानू बंसल के मुताबिक फरवरी 2020 में पति ने बैंक से 6 लाख रुपये का पर्सनल लोन लिया था. लेकिन कुछ वक्त बाद ही एक दिन गौरव के क्रेडिट कॉर्ड से बिना उसकी जानकारी के 3.50 लाख रुपये निकल गए. इसकी पुलिस थाने मयूर विहार में एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी.

इंश्योरेंस की रकम के लिए दी अपनी सुपारी

पुलिस के मुताबिक गौरव बंसल ने अपना इंश्योरेंस कराया हुआ था. कर्ज से छुटकारा पाने के लिए गौरव ने इंश्योरेंस की रकम हासिल करने के लिए एक प्लान बनाया. प्लान के तहत गौरव ने पहले अपने ही मर्डर की सुपारी दी. 9 जून को घर से निकलते ही बदमाशों को अपनी लोकेशन और फोटो देकर रणहौला में बुला लिया. जहां बदमाशों ने गौरव के हाथ-पैर बांधकर उसे पेड़ से लटका दिया. गौरव ने मरने के लिए बदमशों का सहारा इस लिए लिया जिससे कि उसकी मौत आत्महत्या नहीं हत्या लगे.

गौरव के मोबाइल से खुली मौत की प्लानिंग

पुलिस की मानें तो गौरव ने चार बदमाशों को मर्डर की सुपारी दी थी. जिसमे एक नाबालिग भी है. दिल्ली पुलिस ने तफ्तीश के बाद एक नाबालिग समेत सभी 4 आरोपियों मनोज, सूरज और सुमित को गिरफ्तार कर लिया है. बदमाशों से पूछताछ जारी है. पुलिस अब ये पता लगा रही है कि हत्या की सुपारी कितने में तय हुई थी और कितना पैसा दिया गया, कितना देना बाकी था.

ये भी पढ़ें:-

Covid 19: कोरोना संक्रमण की महामारी के बीच दिल्ली में बढ़ाई गई श्‍मशान घाट और कब्रिस्‍तानों की संख्‍या

पूजा-मंत्र से भी बंद नहीं हुईं ऑफिस में आने वाली रहस्यमयी आवाजें, फिर निकला यह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज