Home /News /delhi-ncr /

Delhi: वोटर रज‍िस्‍ट्रेशन प्रक्र‍िया की बढ़ेगी रफ्तार, ECI ने न‍ियुक्‍त क‍िए ये तीन ऑब्‍जर्वर, 27 व 28 नवंबर को लगेंगे स्‍पेशल कैंप

Delhi: वोटर रज‍िस्‍ट्रेशन प्रक्र‍िया की बढ़ेगी रफ्तार, ECI ने न‍ियुक्‍त क‍िए ये तीन ऑब्‍जर्वर, 27 व 28 नवंबर को लगेंगे स्‍पेशल कैंप

भारत के न‍िर्वाचन आयोग की ओर से दि‍ल्‍ली के लि‍ए तीन पर्यवेक्षक भी न‍ियुक्‍त कि‍ए गए हैं. (फाइल फोटो)

भारत के न‍िर्वाचन आयोग की ओर से दि‍ल्‍ली के लि‍ए तीन पर्यवेक्षक भी न‍ियुक्‍त कि‍ए गए हैं. (फाइल फोटो)

Special Summary Revision-2022: चुनाव आयोग ने दिल्ली के 11 जिलों के लिए अपने संबंधित जिलों में एसएसआर गतिविधियों का निरीक्षण करने और जिला निर्वाचन अधिकारियों का मार्गदर्शन करने और मतदाता सूची की समावेशिता, सटीकता और स्वास्थ्य में सुधार के लिए समय पर उपचारात्मक हस्तक्षेप करने के लिए 3 मतदाता सूची पर्यवेक्षक नियुक्त किए हैं. उन्हें पुनरीक्षण अवधि के दौरान चुनाव आयोग को कम से कम तीन रिपोर्ट जमा करनी होंगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. द‍िल्‍ली में मतदाता सूची (Voter List) के विशेष सारांश संशोधन-2022 (Special Summary Revision-2022) का अभ‍ियान चलाया जा रहा है. इस अभ‍ियान को तेज करने के ल‍िए दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कायार्लय (CEO Office) की ओर से लगातार प्रयास कि‍ए जा रहे हैं. अब इस अभ‍ियान को और तेज करने के ल‍िए भारत के न‍िर्वाचन आयोग की ओर से दि‍ल्‍ली के लि‍ए तीन पर्यवेक्षक (Electoral Roll Observers) भी न‍ियुक्‍त कि‍ए गए हैं. यह तीनों पर्यवेक्षक सीनि‍यर आईएएस अध‍िकारी है जोक‍ि द‍िल्‍ली सरकार के अलग-अलग व‍िभागों के प्रमुख की ज‍िम्‍मेदारी संभाल रहे हैं.

    दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (Chief Electoral Officer) डॉ रणबीर स‍िंह ने मतदाता सूची (Voter List) के विशेष सारांश संशोधन (2022) के लिए भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) द्वारा नियुक्त इन पर्यवेक्षकों से मुलाकात भी की.

    इन 11 ज‍िलों के ल‍िए न‍ियुक्‍त क‍िए गए हैं ये सभी पर्यवेक्षक
    चुनाव आयोग ने दिल्ली के 11 जिलों के लिए अपने संबंधित जिलों में एसएसआर गतिविधियों का निरीक्षण करने और जिला निर्वाचन अधिकारियों का मार्गदर्शन करने और मतदाता सूची की समावेशिता, सटीकता और स्वास्थ्य में सुधार के लिए समय पर उपचारात्मक हस्तक्षेप करने के लिए 3 मतदाता सूची पर्यवेक्षक (Electoral Roll Observers) नियुक्त किए हैं. उन्हें पुनरीक्षण अवधि के दौरान चुनाव आयोग को कम से कम तीन रिपोर्ट जमा करनी होंगी.

    27 व 28 नवंबर को सभी मतदान केंद्रों पर आयोज‍ित होंगे वोटर रज‍िस्‍ट्रेशन कैंप
    सीईओ दिल्ली ने मतदाता सूची पर्यवेक्षकों को एसएसआर-2022 के प्रमुख उद्देश्यों, चल रहे मतदाता जागरूकता अभियान 27 और 28 नवंबर को सभी नागरिकों के लिए राजधानी के प्रत्येक मतदान केंद्र पर आयोजित होने वाले विशेष मतदाता पंजीकरण शिविरों के बारे में जानकारी दी.

    ये भी पढ़ें: Delhi: वोटरों को जागरूक करेंगे सरकारी विभागों के प्रमुख, HoDs ने CEO को दिलाया भरोसा 

    आईएएस अधिकारी सचिव-सह-आयुक्त (विकास) मधुप व्यास को पश्चिम, दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण-पूर्व जिले आवंटित किए गए हैं. आईएएस अधिकारी दिलराज कौर, प्रधान सचिव (पीडब्ल्यूडी) को नई दिल्ली, पूर्व, उत्तर-पूर्व और शाहदरा जिलों को सौंपा गया है. इसके अलावा दिल्ली के मध्य, उत्तर और उत्तर-पश्चिम जिलों को आर एलिस वाज़, सचिव (प्रशिक्षण और तकनीकी शिक्षा) को आवंटित किया गया है.

    सीईओ दिल्ली ने 1 जनवरी 2022 की नई योग्यता तिथि के संदर्भ में सभी नए मतदाताओं का नामांकन सुनिश्चित करने की आवश्यकता को रेखांकित किया और सभी युवा मतदाताओं, महिला मतदाताओं, तीसरे लिंग के मतदाताओं, दिव्यांग मतदाताओं और बेघर मतदाताओं को निर्वाचन क्षेत्र और बूथ विशिष्ट सुविधाए को अपनाने को सुनिश्चित करने को कहा. उन्होंने मृतक और स्थायी रूप से स्थानांतरित मतदाताओं के नाम हटाने और मतदाता सूची की शुद्धता बढ़ाने के लिए किसी भी डुप्लिकेट प्रविष्टियों को हटाने के महत्व पर भी जोर दिया.

    ये भी पढ़ें: Voter ID Registration: स्‍कूलों में चलेगा ‘चलो वोटर बने हम’ अभियान, इन तारीखों को लगेंगे रज‍िस्‍ट्रेशन कैंप  

    विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान पर्यवेक्षकों को अपनी जिम्मेदारी के तहत कम से कम तीन बार प्रत्येक जिले का दौरा करना होता है. पहला दौरा दावों एवं आपत्तियों की प्राप्ति के दौरान, दूसरा दौरा दावों एवं आपत्तियों के निस्तारण के दौरान तथा तीसरा दौरा मतदाता सूची को अंतिम रूप देने के दौरान होगा.

    सीईओ डॉ. रणबीर सिंह ने 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी दिल्ली निवासियों को वोटर हेल्पलाइन ऐप डाउनलोड करने की सलाह दी, जो उन्हें अपने मोबाइल फोन का उपयोग करके भारत के चुनाव आयोग की सभी चुनावी सेवाओं तक पहुंचने की अनुमति देगा. उन्होंने दिव्यांग निवासियों को ईसीआई के पीडब्ल्यूडी ऐप को डाउनलोड करने की भी सिफारिश की, जो एक मोबाइल ऐप है. www.nvsp.in मोबाइल ऐप के अलावा ऑनलाइन मतदाता पंजीकरण विकल्प भी प्रदान करता है. राष्ट्रीय अवकाश को छोड़कर सभी दिनों में नागरिक किसी भी प्रश्न या सहायता के लिए सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक चुनाव हेल्पलाइन नंबर 1950 पर फोन कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें: Voter ID Registration: स्‍कूलों में चलेगा ‘चलो वोटर बने हम’ अभियान, इन तारीखों को लगेंगे रज‍िस्‍ट्रेशन कैंप  

    डॉ रणबीर सिंह ने आगे कहा कि मतदाता पहचान पत्र वाले सभी नागरिकों को वोटर हेल्पलाइन ऐप का उपयोग करके अपने नाम की जांच करनी चाहिए, ईसीआई वोटर आईडी को 1950 पर एसएमएस करना चाहिए या ईपीआईसी वोटर आईडी को 7738299899 पर एसएमएस करना चाहिए, https://electoralsearch.in पर जाकर, या 1950 हेल्पलाइन पर कॉल करना चाहिए. सीईओ दिल्ली ने नागरिकों को फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर चलो वोटर बने हम अभियान @ceodelhioffice के साथ अपडेट रहने के लिए आधिकारिक सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित किया.

    Tags: ECI, Election Commission of India, New voter card application, Online voter card, State Election Commission, Voter ID, Voter List

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर