• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली महिला आयोग ने 3 लड़कियों को देह व्यापार के दलदल से छुड़ाया, आरोपी महिला पर FIR दर्ज

दिल्ली महिला आयोग ने 3 लड़कियों को देह व्यापार के दलदल से छुड़ाया, आरोपी महिला पर FIR दर्ज

देह व्यापार से मुक्त करवाई गईं लड़कियों में से एक की उम्र 15 वर्ष है. जबकि दो अन्य की 14-14 साल है

देह व्यापार से मुक्त करवाई गईं लड़कियों में से एक की उम्र 15 वर्ष है. जबकि दो अन्य की 14-14 साल है

Delhi News: दिल्ली महिला आयोग ने मामले में एक्शन लेते हुए एसीपी के साथ मिलकर तीन नाबालिग लड़कियों को देह व्यापार के चंगुल से रिहा करवाया. इनमें से एक लड़की की उम्र 15 वर्ष है जबकि दो अन्य की उम्र 14 वर्ष है. आयोग की टीम ने एसीपी के साथ मिलकर लड़कियों द्वारा बताई गई जगह पर छापेमारी की लेकिन उनके वहां पहुंचने तक आरोपी हलीमा नाम की महिला फरार हो चुकी थी

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली महिला आयोग ने नरेला (Narela) इलाके में रहने वाली तीन नाबालिग लड़कियों को देह व्यापार (Prostitution) और मानव तस्करी (Human Trafficking) के रैकेट से मुक्त करवाया है. रिहा करवाई गई लड़कियों में से एक लड़की रेशमा (बदला हुआ नाम) ने 181 पर कॉल कर के बताया कि गांजा का व्यापार करने वाली हलीमा नाम की महिला ने उसे बहकाया कि वो उसे काम दिलवाएगी और काम के बहाने उसने उसे जिस्मफरोशी के दलदल में धकेल दिया. रेशमा ने बताया कि एक दिन हलीमा उसे घुमाने के बहाने एक जंगल की तरफ ले गई और वहां जबरन कुछ लड़कों के साथ उसे संबंध बनाने को कहा. मना करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी गई. रेशमा ने बताया कि हलीमा इसी तरह गरीब लड़कियों को निशाना बनाती है और उनसे जबरन देह व्यापार करवाती है.

रेशमा से कई बार इसी तरह जंगल में ले जाकर जबरदस्ती जिस्मफरोशी (Sex Racket) करवाई गई. आयोग की टीम रेशमा से पुलिस चौकी के पास मिलने पहुंची तो वहां टीम ने पाया कि रेशमा के साथ दो अन्य नाबालिग लड़कियां और मौजूद थीं. उनसे बात करने पार पता लगा कि उन दोनों लड़कियों को भी इसी तरह हलीमा द्वारा फंसाया गया था और वो किसी तरह उसके चंगुल से बचकर निकली थीं. देह व्यापार के दलदल से छुड़ाई गई तीनों लड़कियों का परिवार बेहद गरीब है.

छुड़ाए जाने के बाद शेल्टर होम में रखी गई तीनों लड़कियां 

दिल्ली महिला आयोग (Delhi Commission For Women) की टीम ने मामले में एक्शन लेते हुए एसीपी के साथ मिलकर मामले में कार्रवाई शुरू की है. लड़कियों ने बताया कि उनमें से एक लड़की की उम्र 15 वर्ष है जबकि दो अन्य की उम्र 14 वर्ष है. आयोग की टीम ने एसीपी के साथ मिलकर लड़कियों द्वारा बताई गई जगह पर छापेमारी की लेकिन उनके वहां पहुंचने तक आरोपी हलीमा फरार हो चुकी थी. आयोग ने इस मामले में सेक्शन 506/363/366(A)/368/370(A)/376D/34 IPC एवं सेक्शन 6 पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज करवाई है. आयोग की टीम ने तीनों लड़कियों को बाल कल्याण समिति के सामने प्रस्तुत किया जिसके बाद समिति द्वारा उन्हें एक शेल्टर होम में रखवाया गया है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने पुलिस को नोटिस इश्यू कर के आरोपी को तुरंत गिरफ्तार करने को कहा है. उन्होंने कहा कि हमारी टीम ने इस मामले में मुस्तैदी दिखाते हुए नाबालिग लड़कियों को रेस्क्यू करवाया. छोटी-छोटी बच्चियों को पैसे का लालच देकर जिस्मफरोशी में धकेला जा रहा था. मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है. मैं आशा करती हूं कि जल्द आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा. दिल्ली महिला आयोग ऐसे ही मुस्तैदी से महिलाओं और बच्चों की रक्षा करते रहेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज