कांग्रेस ने सरकार से की खाद की बढ़ी कीमतें वापस लेने की मांग, किसानों पर बताया 20 हजार करोड़ का बोझ

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने खाद के दामों में की गई वृद्धि को केंद्र सरकार द्वारा बड़ी कंपनियों को लाभ पहुंचाने के नीयत से उठाया कदम करार दिया

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने खाद के दामों में की गई वृद्धि को केंद्र सरकार द्वारा बड़ी कंपनियों को लाभ पहुंचाने के नीयत से उठाया कदम करार दिया

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने दावा किया कि केंद्र सरकार के फैसले से किसानों पर सालाना अतिरिक्त 20 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार डाला गया है. उन्होंने मोदी सरकार (Modi Government) के सात साल के अब तक के शासनकाल में खाद की कीमतों में दोगुनी बढ़ोतरी का आरोप लगाया है

  • Share this:

नई दिल्ली. कांग्रेस पार्टी ने नरेंद्र मोदी सरकार (Modi Government) पर खाद की कीमतों को बढ़ाकर किसानों पर 20 हजार करोड़ रूपये का अतिरिक्त बोझ डालने का आरोप लगाया है. कांग्रेस के महासचिव और मीडिया विभाग के इंचार्ज रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने बुधवार को प्रेस वार्ता कर डीएपी खाद (DAP Fertilizer) की कीमत में 700 रुपये प्रति बैग (बोरी) बढ़ोतरी पर केद्र सरकार को घेरा. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि डीएपी (DAP) की कीमत बढ़ाने से 13 हजार करोड़ कंपनियों को मुनाफा होगा. सरकार ने कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिये ही यह फैसला लिया है. पार्टी ने किसानों के काम आनेवाली दूसरे खाद की कीमत में भी दोगुनी बढ़ोतरी के लिए केंद्र सरकार पर निशाना साधा.

रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया कि सरकार के फैसले से किसानों पर सालाना अतिरिक्त 20 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार डाला गया है. उन्होंने मोदी सरकार के सात साल के अब तक के शासनकाल में खाद की कीमतों में दोगुनी बढ़ोतरी का आरोप लगाया है.

कांग्रेस के मुताबिक कितनी बढ़ी खाद की कीमतें!

कांग्रेस ने कहा कि DAP (Di Ammonium Phosphate) खाद के 50 किलो के बैग के दाम सरकार ने रातों रात 1200 रूपये से बढ़ाकर 1900 रूपये प्रति बैग कर दी है. 700 रूपये प्रति डीएपी बैग की कीमत में बढ़ोतरी किसान की कमर तोड़ देगी, इससे देश के किसानों पर 13,020 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. पार्टी ने यह भी कहा कि वर्ष 2014 में यूपीए कांग्रेस की सरकार सत्ता से हटी तो DAP खाद के एक बैग की कीमत 1,075 रूपये थी, जो अब बढ़कर 1,900 रूपये प्रति बैग हो गई है, यानी सात साल में दोगुनी कीमत.
कांग्रेस ने NPKS (नाईट्रोज़न, फॉस्फोरस व सल्फर) के 50 किलो के बैग की कीमत 1175 रूपये से बढ़ाकर 1775 रूपये करने का सरकार पर आरोप लगाया. इसके अलावा, कॉम्प्लैक्स फर्टिलाइजर की कीमत 925 रूपये प्रति बैग से बढ़ाकर 1350 रूपये कर दी गई है, और पोटाश खाद के 50 किलो के बैग की कीमत भी 450 रूपये प्रति बैग से 920 रूपये कर दी गई है.

कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर आपदा में अवसर ढूंढने का आरोप लगाते हुए खाद की बढ़ी कीमतें वापस लेने की मांग की.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज