रोहिणी कोर्ट ने पहलवान सुशील कुमार को 6 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा

पहलवान सुशील कुमार को रोहिणी कोर्ट ने छह दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया.

पहलवान सुशील कुमार को रोहिणी कोर्ट ने छह दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया.

कोर्ट में सुनवाई के दौरान पुलिस ने कहा कि सुशील का मोबाइल बरामद करना है. सुशील काफी प्रभावशाली व्यक्ति है. गवाहो को प्रभावित कर सकता है. हमने रिक्वेस्ट की तब भी सुशील सामने नहीं आया और फरार रहा. ऐसे में 12 दिन की पुलिस रिमांड दी जाए.

  • Share this:

नई दिल्ली. रेसलर सागर धनखड़ की हत्या के आरोप में गिरफ्तार पहलवान सुशील कुमार को रोहिणी कोर्ट ने छह दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया. पुलिस ने आज ही पहलवान सुशील कुमार को मुंडका से गिरफ्तार किया था. गिरफ्तारी के बाद, उसे रोहिणी कोर्ट में दोपहर को पेश किया गया. पुलिस ने 12 दिन की रिमांड मांगी थी. कोर्ट में सुनवाई के दौरान पुलिस ने कहा कि सुशील का मोबाइल बरामद करना है. सुशील काफी प्रभावशाली व्यक्ति है. गवाहो को प्रभावित कर सकता है. हमने रिक्वेस्ट की तब भी सुशील सामने नहीं आया और फरार रहा. ऐसे में 12 दिन की पुलिस रिमांड दी जाए.

सुशील कुमर के वकील बलवीर सिंह जाखड़ ने बताया, "सुशील कुमार जिसे पुलिस की जानकारी के हिसाब से मुंडका से अरेस्ट किया है. पुलिस ने रोहिणी कोर्ट में पेश किया. पुलिस ने 12 दिन का रिमांड मांगा, कोर्ट में हमारी जिरह हुई. हमने कहा कि 12 दिन की रिमांड का उद्देश्य क्या है. घटना पर तीन लोग थे. किसी ने कोई स्टेटमेंट नहीं दिया कि सुशील कुमार ने मारा है. पुलिस 7 घंटे देरी से एफआईर दर्ज की जो उसका इंटेंशन दिखाता है. जहां पर इंसीडेंट हुई वो जगह पुलिस स्टेशन से एक किलमीटर की दूरी पर है.सुशील कुमार केवल झगड़े को शांत करवाने में शामिल थे. पुलिस ने 12 दिन का रिमांड मांगा था. कोर्ट ने 6 दिन का पुलिस रिमांड दिया है."

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की पूछताछ में पहलवान सुशील कुमार ने रेसलर सागर धनखड़ से मारपीट की बात कबूल की है. सुशील कुमार ने पुलिस को बताया कि वो छत्रसाल स्टेडियम में हुई मारपीट में शामिल था. सुशील ने बताया में मारपीट की घटना के बाद वह घर आकर सो गया था. सुशील ने कहा कि मुझे नही यकीन था कि मारपीट में सागर को इतनी चोट लग जाएगी कि उसकी मौत हो जाएगी.

मुंडका से जिस वक़्त सुशील कुमार अपने साथी के साथ पकड़ा गया, उस दौरान वह किसी जानकार से पैसे लेने जा रहा था. सुशील के पास पैसे खत्म हो गए थे, जिसके बाद वो दिल्ली आया था. पैसे लेते ही वो वापस पंजाब की तरफ फरार होने की फिराक में था. सुशील को पता था कि पुलिस उसकी लोकेशन ट्रेस कर रही है, लिहाजा वह फ़ोन नहीं रख रहा था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज