Home /News /delhi-ncr /

Rohini Court Blast: पत्नी की बीमारी और पड़ोसी के मुकदमे ने वैज्ञानिक को बना दिया अपराधी

Rohini Court Blast: पत्नी की बीमारी और पड़ोसी के मुकदमे ने वैज्ञानिक को बना दिया अपराधी

दिल्ली पुलिस ने एक बम धमाके के आरोप में वैज्ञानिक भारत भूषण कटारिया को गिरफ्तार किया है.

दिल्ली पुलिस ने एक बम धमाके के आरोप में वैज्ञानिक भारत भूषण कटारिया को गिरफ्तार किया है.

Rohini Court Blast : दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में हुए बम धमाके के आरोप में पुलिस ने भारत भूषण कटारिया (Bharat Bhushan Kataria)  नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है. आरोपी डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) में सीनियर साइंटिस्ट है. बताया जा रहा है कि वैज्ञानिक ने पड़ोसी को मारने के लिए यह धमाका किया था. भारत भूषण कटारिया और उनके पड़ोसी वकील अमित वशिष्ट के बीच तीन मंजिला इमारत में लिफ्ट लगवाने को लेकर 10 साल पहले कानूनी लड़ाई शुरू हुई थी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने रोहिणी कोर्ट में बम धमाके (Rohini Court Blast) के आरोप में वैज्ञानिक भारत भूषण कटारिया (Bharat Bhushan Kataria) को गिरफ्तार किया है. 47 साल के भूषण पर आरोप है कि उसने अपने पड़ोसी की हत्या के लिए कोर्ट रूम के अंदर टिफिन में बम रखा था. आरोपी डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) में सीनियर साइंटिस्ट है. वहीं, उसका पड़ोसी एक वकील है. बता दें इसी महीने 9 दिसंबर को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में कोर्ट रूम नंबर 102 के भीतर ब्लास्ट हुआ था. इसमें एक शख्स घायल हुआ था.

    दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, घटना वाले दिन आरोपी दो बैग के साथ सुबह नौ बजकर 33 मिनट पर अदालत में घुसा और एक बैग उसने अदालत कक्ष में ही छोड़ दिया. इसके बाद वह 10 बजकर 35 मिनट पर अदालत परिसर से बाहर निकल गया. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ कई मामले दर्ज करा रखे हैं. वे पड़ोसी हैं और एक ही इमारत में रहते हैं. प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि कटारिया को वकील से रंजिश थी.’

    पुलिस ने पाया है कि कटारिया के पड़ोसी ने उसके खिलाफ मारपीट और चोट पहुंचाने का मामला भी दर्ज करावाया था. पिछली सुनवाई में अदालत ने अनावश्यक स्थगन के लिए कटारिया पर 1,000 रुपये का जुर्माना लगाया था.

    इस वजह से पड़ोसी से शुरू हुआ विवाद
    इंडियन एक्‍सप्रेस के मुताबिक, भारत भूषण कटारिया और उनके पड़ोसी वकील अमित वशिष्ट के बीच तीन मंजिला इमारत में लिफ्ट लगवाने को लेकर 10 साल पहले कानूनी लड़ाई शुरू हुई थी. जब उन्होंने इसकी शिकायत दर्ज करवाई तो ये मामला और बड़ा हो गया. वकील और आरोपी वैज्ञानिक एक ही बिल्डर फ्लैट में रहते हैं. दोनों के बीच विवाद कभी पानी तो कभी दूसरे मुद्दों को लेकर रहा है.

    सूत्रों के मुताबिक, भारत भूषण कटारिया ने पुलिस को बताया कि वह इन सब से तंग आ गया था. तीन साल पहले उसने अपना घर छोड़कर उसी इलाके में एक किराए के मकान में शिफ्ट हो गया था. इस घर का किराया वह 50 हजार रुपये दे रहा था. अदालत की सुनवाई में पहुंचने के लिए कार्यालय से छुट्टी नहीं मिलने के कारण वह और अधिक परेशान हो गया था.

    ई-कॉमर्स वेबसाइट से खरीदा अमोनियम नाइट्रेट और यूट्यूब से सीखा बम बनाना
    कटारिया ने पुलिस को आगे बताया कि अपनी पत्नी की चिकित्सा स्थिति का पता चलने के बाद उसने कथित तौर पर वकील वशिष्ठ से छुटकारा पाने का फैसला किया. उन्होंने कथित तौर पर एक स्थानीय दुकान से ई-कॉमर्स वेबसाइटों और अमोनियम नाइट्रेट से कई उपकरणों का ऑर्डर दिया. भूषण ने इस पर करीब 5,000 रुपये खर्च किए और कथित तौर पर यूट्यूब समेत ऑनलाइन बम बनाना सीखा.

    गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने इस महीने की शुरुआत में यहां रोहिणी जिला अदालत के भीतर कम तीव्रता के विस्फोट के मामले में डीआरडीओ के एक वैज्ञानिक को गिरफ्तार किया था. वैज्ञानिक ने पड़ोसी को मारने के लिए यह धमाका किया था.

    Tags: Delhi High Court Blast, Delhi police, DRDO

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर