Home /News /delhi-ncr /

फौजी की पत्‍नी के प्‍यार में दिल्‍ली पुल‍िस का कांस्‍टेबल बना मुजरिम, ऐसे सुलझी हत्‍या की गुत्‍थी

फौजी की पत्‍नी के प्‍यार में दिल्‍ली पुल‍िस का कांस्‍टेबल बना मुजरिम, ऐसे सुलझी हत्‍या की गुत्‍थी

दिल्‍ली पुलिस ने रिटायर्ड फौजी की हत्‍या के मामले में क्राइम ब्रांच के हेड कांस्‍टेबल को गिरफ्तार किया है. (सांकेतिक फोटो)

दिल्‍ली पुलिस ने रिटायर्ड फौजी की हत्‍या के मामले में क्राइम ब्रांच के हेड कांस्‍टेबल को गिरफ्तार किया है. (सांकेतिक फोटो)

Delhi Crime News: दिल्‍ली पुलिस ने पिछले महीने ज्योति नगर इलाके में हुई रिटायर्ड फौजी की हत्‍या के मामले में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) में तैनात हेड कांस्‍टेबल को गिरफ्तार किया है. इसके साथ दिल्‍ली पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि हेड कांस्‍टेबल को नौकरी से बर्खास्‍त किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने पिछले महीने ज्योति नगर इलाके में हुई रिटायर्ड फौजी की हत्‍या के मामले में क्राइम ब्रांच (Crime Branch) के हेड कांस्‍टेबल को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, हेड कांस्‍टेबल ने शादीशुदा महिला द्वारा संबंधों में दूरी बनाने की वजह से रिटायर्ड फौजी की हत्‍या की साजिश रची थी. यही नहीं, उसने दो बदमाशों को सुपारी देकर हत्‍या करवाई थी.

    बता दें कि पिछले महीने दिल्‍ली के ज्योति नगर इलाके में रिटायर्ड फौजी सुधीर की हुई थी. इस हत्‍या की गुत्‍थी को सुलझाते हुए पुलिस ने दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच में तैनात हेड कांस्टेबल घनश्याम को गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल आरोपित और मृतक की पत्नी के बीच संबंध थे. वहीं, फौजी के रिटायर्ड होने पर दोनों के बीच दूरियां बनने लगी थीं. जबकि हेड कांस्‍टेबल महिला पर दबाव बना रहा था कि पति को छोड़कर वह उसके पास आ जाए. पुलिस के मुताबिक, हेड कांस्‍टेबल ने रिटायर्ड फौजी की हत्‍या सुपारी देकर करवाई थी, क्‍योंकि वह महिला और उसके संबंधों में बाधा बन रहा था. वहीं, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपित को सेवा से बर्खास्त किया जाएगा और इस मामले में फौजी की पत्नी से भी पूछताछ की जाएगी.

    जानें पूरा मामला
    पुलिस के मुताबिक, 10 सितंबर को रिटायर्ड फौजी सुधीर अपने घर के बाहर बैठे हुए थे, तभी मोटरसाइकिल पर आए दो बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी. इसके बाद उनको जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन मामला गंभीर होने के बाद उनको सेना के बेस अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन 16 सितंबर को इलाज के दौरान मौत हो गई. इसके साथ पुलिस को तफ्तीश में पता चला मई 2020 में सुधीर सेना से लिपिक के पद से रिटायर्ड हुए थे.

    ऐसे शातिर तक पहुंची पुलिस
    इस मामले की जांच में जुटी पुलिस ने मृतक के घर और अन्‍य जगह लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो उसमें दो हमलावर दिखाई दिए. यही नहीं, एक फुटेज में दोनों हमलावरों से हेड कांस्‍टेबल घनश्याम से भी मिला रहा था. इसके बाद पुलिस ने घनश्याम के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई, जिसमें सामने आया कि वह लगातार मृतक की पत्नी से फोन पर बात करता था. यही नहीं, मृतक का भाई अनिल भी क्राइम ब्रांच में कांस्टेबल है और घनश्याम उसका दोस्त है. इस वजह से कांस्‍टेबल का रिटायर्ड फौजी के घर आना जाना शुरू हुआ था.

    OMG! 3 महीने की कवायद के बाद साइबर ठगों ने एनआरआई के खाते से उड़ाए 1.35 करोड़, जब 63 बचे तो किया ये काम

    पुलिस ने अपनी काफी जांच पड़ताल करने के बाद आरोपित को गिरफ्तार कर लिया और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. इस दौरान आरोपी ने पुलिस को बताया कि रिटायर्ड फौजी सुधीर के पत्नी के साथ उसके विवाहितर संबंध थे. वह पहले महिला से आसानी से मिलता रहता था, लेकिन सुधीर के रिटायर्ड होने के बाद महिला से मिल नहीं पा रहा था. जबकि महिला भी उसको नजरअंदाज करने लगी थी. इस वजह से दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच में तैनात हेड कांस्‍टेबल घनश्‍याम ने साजिश तक तहत बदमाशों को सुपारी देकर महिला के पति सुधीर की हत्या करवा दी. हालांकि अभी पुलिस सुपारी लेकर हत्‍या को अंजाम देने वाले बदमाशों की तलाश कर रही है.

    Tags: Crime News, Delhi Crime Branch, Delhi police, Delhi Police Commissioner, Delhi Police Special Cell

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर