क्राइम ब्रांच ने ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा के दो मोबाइल जब्त किये

नवनीत कालरा के रेस्‍टोरेंट्स से 524 ऑक्‍सीजन कंसंट्रेटर मिले थे.

ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आरोपी नवनीत कालरा के 2 मोबाइल फोन जब्त किए हैं. मोबाइल फोन का इस्तेमाल बरामद कंसंट्रेटर को खरीदने और बेचने में इस्तेमाल हुआ है.

  • Share this:
नई दिल्ली. ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में दिल्ली क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में आरोपी नवनीत कालरा केस में नया अपडेट सामने आया है. क्राइम ब्रांच ने नवनीत कालरा के 2 मोबाइल फोन जब्त किए हैं. इन मोबाइल फोन का इस्तेमाल बरामद कंसंट्रेटर को खरीदने और बेचने में इस्तेमाल हुआ है. इन्हीं मोबाइल फोन में कंसन्ट्रेटर की खरीद और बेचने की कई इनवॉइस मौजूद हैं. फ़ोन का काफी डेटा डिलीट किया गया है, जिसे रिकवर करने के लिए दोनों फ़ोन लैब में जांच के लिए भेजे गए हैं.

बता दें कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर केस में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दिल्ली के मशहूर खान चाचा रेस्टोरेंट के मालिक नवनीत कालरा को रविवार देर रात गिरफ्तार किया था. इस मामले में नवनीत कालरा फरार चल रहा था. एसीपी संदीप लांबा और डीएसपी मोनिका भारद्वाज की टीम ने गुरुग्राम से गिरफ्तार किया. गुरुग्राम में अपने रिश्तेदार के फार्म हाउस में छिपा था. 

दिल्ली हाईकोर्ट ने 14 मई को अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया था. तभी से उस पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी. दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज होने के बाद से पुलिस ने तलाश तेज कर दी थी. खान मार्केट में ऑक्सीजन सिलेंडर की जमाखोरी और कालाबाजारी के मामले में नवनीत कालरा वांछित चल रहा था.

क्या है मामला
मामला दक्षिणी दिल्‍ली के एक रेस्‍तरां में ऑक्सिजन कंसन्‍ट्रेटर्स की कालाबाजारी से जुड़ा है। खान मार्के‍ट स्थित खान चचा रेस्‍तरां से भारी मात्रा में ऑक्सिजन कंसन्‍ट्रेटर्स बरामद किए गए थे। इस रेस्‍तरां का मालिक नवनीत कालरा है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि बरामद किए गए अधिकतर कंसन्‍ट्रेटर्स 14,000 रुपये से 18,000 रुपये कीमत में खरीदे गए। मौके से मिली रसीदों से पता चलता है कि कंसन्‍ट्रेटर्स को 70,000 रुपये और उससे ज्‍यादा कीमत पर बेचा गया।

कालरा ने मामले में अग्रिम जमानत के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया था मगर राहत नहीं मिली। दिल्‍ली पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। बताया गया कि कालरा के खिलाफ पहले ही लुकआउट नोटिस जारी किया जा चुका था। मामले की शुरुआती जांच में दिल्‍ली पुलिस ने पाया था कि 17 अप्रैल से 3 मई के बीच, कालरा और मैट्रिक्‍स सेलुलर के उसके साथियों ने 13 करोड़ रुपये कीमत वाले 7,500 कंसन्‍ट्रेटर्स हासिल किए थे।