तस्‍करी के लिए इस्‍तेमाल हो रही COVID स्‍पेशल ट्रेन, पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर हुआ यह बड़ा खुलासा
Varanasi News in Hindi

तस्‍करी के लिए इस्‍तेमाल हो रही COVID स्‍पेशल ट्रेन, पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर हुआ यह बड़ा खुलासा
पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन से बरामद की गई 40 लाख रुपए की विदेशी सिगरेट.

दिल्‍ली कस्‍टम (Delhi Custom) की प्रिवेंटिव टीम ने वाराणसी से दिल्‍ली आने वाले कोविड स्‍पेशल ट्रेन (COVID Special Train) के जरिए हो रही तस्‍करी (Smuggling) का बड़ा खुलासा किया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. COVID-19 स्‍पेशल ट्रेनों का इस्‍तेमाल अब तस्‍करी (Smuggling) के लिए भी किया जा रहा है. पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन (Old Delhi Railway Station) पर छापेमारी के बाद दिल्‍ली कस्‍टम (Delhi Custom) की प्रिवेंटिव टीम ने यह बड़ा खुलासा किया है. कस्‍टम की टीम ने पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन से तस्‍करी के जरिए लाई गई लाखों रुपए की विदेशी सिगरेट (Foreign Cigarettes) भी जब्‍त की है. अब यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि लाखों रुपए कीमत की ये विदेशी सिगरेट दिल्‍ली में किसके पास पहुंचाई जानी थी. साथ ही तस्‍करी के इस गोरखधंधे में कौन-कौन से लोग शामिल हैं.

कस्‍टम के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, प्रिवेंटिव टीम को इंटेलीजेंस इनपुट मिला था कि कोविड स्‍पेशल ट्रेन के जरिए तस्‍करी के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. इंटेलीजेंस इनपुट में यह भी जानकारी मिली थी कि वाराणसी से आने वाली कोविड स्‍पेशल ट्रेन के जरिए तस्‍करी का बड़ा कंसाइनमेंट पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पहुंचने वाला है. सूचना के आधार पर, दिल्‍ली कस्‍टम की प्रिवेंटिव टीम ने पुरानी दिल्‍ली रेलवे स्‍टेशन पर अपना जाल बिछा दिया. वाराणसी से आने वाली कोविड स्‍पेशल ट्रेन के स्‍टेशन पहुंचते ही कस्‍टम की टीम ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी. इस ट्रेन से दिल्‍ली पहुंचे हर बैगेज और पार्सल की तलाशी कस्‍टम टीम द्वारा की गई.





बरामद हुईं 40 लाख रुपए की विदेशी सिगरेट
कस्‍टम के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि तलाशी के दौरान कस्‍टम की टीम ने 15 गत्‍ते चिन्हित किए. जिसके भीतर से विदेशी सिगरेट बरामद की गईं. ये सभी सिगरेट रेरिस ब्रांड की है. कस्‍टम के अनुसार, रेलवे स्‍टेशन से बरामद की गई 4.5 लाख विदेशी सिगरेट की कीमत करीब 40 लाख रुपए आंकी गई है. कस्‍टम ने सभी सिगरेट को जब्‍त कर COTPA ACT 2003 और लीगल मेट्रोलॉजी एक्‍ट 2009 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. कस्‍टम की टीम यह भी पता लगाने का प्रयास कर रही है कि ये विदेशी सिगरेट वाराणसी कैसे पहुंची और उन्‍हें दिल्‍ली किसके पास भेजा जा रहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading