• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Dalit Minor Rape and Murder: मेडिकल बोर्ड को पता नहीं चला मौत का कारण, पीड़ित परिवार से मिलेंगे CM केजरीवाल

Dalit Minor Rape and Murder: मेडिकल बोर्ड को पता नहीं चला मौत का कारण, पीड़ित परिवार से मिलेंगे CM केजरीवाल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बाद पीड़‍ित परिवार से मिलेंगे सीएम अरविंद केजरीवाल.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बाद पीड़‍ित परिवार से मिलेंगे सीएम अरविंद केजरीवाल.

Delhi Dalit Minor Rape: देश की राजधानी दिल्‍ली में 9 वर्षीय दलित बच्ची के साथ कथित बलात्कार और हत्या के बाद उसके परिवार के लिए न्याय की मांग को लेकर न सिर्फ हर तबके के लोग का धरना प्रदर्शन कर रहे हैं बल्कि सीएम अरविंद केजरीवाल भी आज साढ़े 11 बजे पीड़ि‍त परिवार से मिलने जा रहे हैं. बता दें कि दिल्‍ली पुलिस ने मृतिका की मां के बयान के आधार पर पोक्सो एक्ट, SC एक्ट, हत्या और रेप समेत कई धाराओं में मामला दर्ज किया है.

  • Share this:

    नई दिल्‍ली. देश की राजधानी दिल्‍ली में 9 वर्षीय दलित बच्ची के साथ कथित बलात्कार (Delhi Dalit Minor Rape) और हत्या के बाद उसके परिवार के लिए न्याय की मांग को लेकर तमाम नेता दौरे कर रहे हैं, तो हर तबके के लोग भी इंसाफ की मांग को लेकर सड़कों पर हैं. इस बीच दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) भी पीड़ित परिवार से मिलने जा रहे हैं. वह करीब साढ़ 11 बजे मौके पर पहुंचेंगे. हालांकि आज उनसे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की. इस दौरान कांग्रेस नेता ने कहा कि मैंने परिवार से बात की और परिवार सिर्फ न्याय मांग रहा है. परिवार कह रहा है कि उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है और उनकी पूरी मदद होनी चाहिए. जब तक उनको न्याय नहीं मिलेगा तब तक राहुल गांधी उनके साथ खड़ा है और एक इंच पीछे नहीं हटेगा.

    इससे पहले मंगलवार को भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद भी प्रदर्शन में शामिल हुए. उन्‍होंने ने कहा कि मामले की उचित तरीके से जांच होनी चाहिए. यह झूठ था कि लड़की की मौत करंट लगने से हुई थी. उन्होंने परिवार की मौजूदगी के बिना उसका अंतिम संस्कार कर दिया. हमने सुना है कि लड़की के माता-पिता पर भी उसी के मुताबिक बयान देने का दबाव डाला गया. इसके अलावा पहलवान और राष्ट्रीय हैवीवेट चैंपियन प्रिंस आदवंशी ने कहा कि वह 90 अन्य पहलवानों के साथ लड़की के परिवार को उनकी लड़ाई में समर्थन देने के लिए विरोध स्थल पर पहुंचे थे.

    वहीं, दिल्ली कैंट थाना इलाके में श्मशान में नौ साल की दलित लड़की की संदिग्ध मौत के कारणों की जांच के लिए गठित तीन डॉक्टरों के मेडिकल बोर्ड ने पुलिस को सूचित किया कि वे मौत के कारण का पता लगाने में असमर्थ हैं.बता दें कि लड़की के शरीर को दाह संस्कार के बीच में ही चिता से निकाल लिया गया था और केवल जले हुए अवशेष ही बरामद किए जा सके, जिसमें सिर और पैर का कुछ हिस्सा है. आने वाले दिनों में पॉलीग्राफ टेस्ट कराने की संभावना है.

    अब तक चार लोग गिरफ्तार
    दिल्‍ली पुलिस ने लड़की की मौत के मामले में एक 55 साल के पुजारी समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है. जबकि लड़की के माता-पिता का आरोप है कि आरोपियों ने उन्हें बेटी के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए मजबूर किया. उन्हें संदेह है कि बेटी को मारने से पहले उसके साथ बलात्कार किया गया था.

    जानें पूरा मामला
    बहरहाल, पुलिस ने बच्ची की मां के बयान के आधार पर पोक्सो एक्ट, SC एक्ट, हत्या और रेप समेत कई धाराओं में मामला दर्ज करते हुए पुजारी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया था कि बच्ची अपने माता-पिता के साथ गांव में श्मशान घाट के सामने किराए के घर में रहती थी. रविवार शाम साढ़े पांच बजे वह अपनी मां को सूचित कर श्मशान घाट में लगे पानी के कूलर से ठंडा पानी लेने गई थी. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि शाम छह बजे श्मशान घाट के पुजारी राधेश्याम और बच्ची की मां को जानने वाले दो-तीन अन्य लोगों ने उसे वहां बुलाया और बेटी का शव दिखाकर दावा किया कि कूलर से पानी लेने के दौरान करंट लगने से उसकी मौत हो गई. उसकी बाईं कलाई और कोहनी के बीच जलने के निशान थे और उसके होंठ भी नीले पड़ गए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन