कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर से मिला हरियाणा के किसानों का प्रतिनिधिमंडल, कृषि कानूनों पर दिया समर्थन

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में बीस किसान शामिल थे (फोटो साभार: ANI)

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में बीस किसान शामिल थे (फोटो साभार: ANI)

सोमवार शाम मुख्य रूप से हरियाणा के किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात कर उन्हें नए कृषि कानूनों पर समर्थन दिया है. किसानों के इस निर्णय को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 8, 2020, 4:44 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. नए कृषि कानूनों (News Farm Laws) का किसान जबरदस्त विरोध कर रहे हैं. पंजाब-हरियाणा और अन्य राज्यों के किसान दिल्ली के बॉर्डर (Delhi Border) पर बारह दिन से डटे हुए हैं. किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानूनों को फौरन वापस लिया जाए. किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में आठ दिसंबर को 'भारत बंद' (Bharat Bandh) बुलाया है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार सोमवार शाम मुख्य रूप से हरियाणा के किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात कर उन्हें नए कृषि कानूनों पर समर्थन दिया है. किसानों के इस निर्णय को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है.


Youtube Video

किसान संगठनों ने आठ दिसंबर को 'भारत बंद' का किया है आह्वान

बता दें कि नए कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब-हरियाणा समेत अन्य राज्यों के किसान पिछले बारह दिन से दिल्ली और उसके बॉर्डर पर डटे हुए हैं. प्रदर्शनकारी किसानों ने आठ दिसंबर को ‘भारत बंद’ की घोषणा की है. साथ ही यह चेतावनी दी है कि यदि सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती तो आंदोलन तेज किया जाएगा और दिल्ली आने वाले तमाम मार्गों को रोक दिया जाएगा.

कृषि कानूनों को निरस्त (रद्द) करने की मांग पर अड़े किसानों और केंद्र सरकार के बीच पांच दौर की बातचीत हो चुकी है. मगर इस गतिरोध को खत्म करने को लेकर अभी तक कोई सहमति नहीं बन सकी है. सरकार ने किसानों के प्रतिनिधियों को छठे दौर की बातचीत के लिए नौ दिसंबर को बुलाया है. आठ दिसंबर को बुलाए 'भारत बंद' को छठे दौर की बातचीत से पहले किसानों के शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज