Corona के साथ डेंगू की चपेट में आए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, प्लेटलेट्स में गिरावट

मनीष सिसोदिया में आज डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई. (फोटो एएनआई)
मनीष सिसोदिया में आज डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई. (फोटो एएनआई)

कोरोना (Corona) से पीड़ित दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy CM Manish Sisodia) अब डेंगू (Dengue) की चपेट में भी आ गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 9:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy CM Manish Sisodia) कोरोना के साथ डेंगू (Dengue) की चपेट में आ गए हैं. गुरुवार को उनके डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई. आपको बता दें कि इससे एक दिन पहले उन्हें कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण सरकारी लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल (LNJP Hospital) के आईसीयू में भर्ती कराया गया था. जबकि डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि के बाद सूत्रों ने बताया कि सिसोदिया के रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आई है और डॉक्‍टर्स लगातार नजर रखे हुए हैं.

बता दें कि उपमुख्यमंत्री 14 सितंबर को संक्रमित पाये गये थे और होम आइसोलेशन में थे. संक्रमित होने की वजह से सिसोदिया 14 सितंबर को दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र में हिस्सा नहीं ले पाये थे. जबकि 23 सितंबर यानी बुधवार को आम आदमी पार्टी (AAP) के 48 वर्षीय नेता को शरीर में ऑक्सीजन का स्तर घटने और बुखार की शिकायत के बाद लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था.


बहरहाल, दिल्‍ली उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले अरविंद केजरीवाल सरकार के दूसरे कैबिनेट मंत्री है. उनसे पहले स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जून में कोविड-19 से संक्रमित हुए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें प्लाज्मा थेरेपी दी गयी थी.



दिल्ली में कोविड-19 के 3834 नए मामले
यही नहीं, दिल्ली में कोविड-19 का कहर जारी है और गुरुवार को 3834 नए मामले आने से संक्रमितों की संख्या 2.60 लाख से अधिक हो गयी. जबकि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण से 36 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक 5123 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमितों की संख्या 2,60,623 हो गयी है. इसके अलावा बुलेटिन में कहा गया कि 59,183 जांच की गयी हैं. आरटी-पीसीआर, सीबीनैट, ट्रूनेट पद्धति से 9,814 नमूनों की जांच की गयी, तो रैपिड एंटीजन तरीके से 49,369 जांच की गयी हैं. वहीं, दिल्‍ली में कंटेनमेंट जोन की संख्‍या 2059 है.
इसके अलावा बुलेटिन में बताया गया कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने जांच की स्थिति की समीक्षा के लिए दिल्ली सरकार के सभी अस्पतालों के चिकित्सा निदेशकों, चिकित्सा अधीक्षकों के साथ बैठक की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज