जज की कोरोना से मौत के लिए साकेत बार संघ ने सरकार की लापरवाही को बताया जिम्मेदार

डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के जज को रविवार को अस्पताल के आईसीयू वार्ड में भर्ती करवाया गया था लेकिन सोमवार को उनकी मौत हो गई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के जज को रविवार को अस्पताल के आईसीयू वार्ड में भर्ती करवाया गया था लेकिन सोमवार को उनकी मौत हो गई (प्रतीकात्मक तस्वीर)

साकेत बार संघ के सचिव धीर सिंह कसाना ने आरोप लगाया कि सरकार की लापरवाही की वजह से यह घटना हुई. उन्होंने कहा कि हम सरकार से बार-बार कह रहे हैं कि सभी न्यायाधीशों और वकीलों के लिए टीकाकरण अनिवार्य किया जाए क्योंकि हमें रोजाना हजारों लोगों के बीच काम करना होता है

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 5:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली की एक जिला अदालत (District Court) के जज की सोमवार को यहां एक सरकारी अस्पताल में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) से मौत हो गयी. साकेत कुटुंब अदालत में 47 वर्षीय जज कोवई वेणुगोपाल का लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल (LNJP Hospital) में पूर्वाह्न 11 बजे निधन हो गया. अदालत के सूत्रों के अनुसार उन्हें रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और आईसीयू (ICU) में उनका उपचार चल रहा था.

साकेत बार संघ के सचिव धीर सिंह कसाना ने आरोप लगाया कि सरकार की लापरवाही की वजह से यह घटना हुई. उन्होंने कहा कि हम सरकार से बार-बार कह रहे हैं कि सभी न्यायाधीशों और वकीलों के लिए टीकाकरण अनिवार्य किया जाए क्योंकि हमें रोजाना हजारों लोगों के बीच काम करना होता है. उन्होंने यह भी कहा कि अगर सरकार हमारी मांग मान लेती तो यह दुखद घटना नहीं होती.

जज कोवई वेणुगोपाल एक सप्ताह से अधिक समय से संक्रमण से जूझ रहे थे. (भाषा से इनपुट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज