अपना शहर चुनें

States

किसानों के प्रदर्शन के चलते NH-24 पर गाजीपुर बॉर्डर बंद, ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को दी यह सलाह

दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शनकारी किसान पिछले दस दिन से डटे हुए हैं (फाइल फोटो)
दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शनकारी किसान पिछले दस दिन से डटे हुए हैं (फाइल फोटो)

किसानों के प्रदर्शन (Farmers Agitation) को देखते हुए नेशनल हाईवे 24 (National Highway 24) पर गाजीपुर बॉर्डर को ट्रैफिक के लिए बंद कर दिया गया है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर लोगों से एनएच 24 के उपयोग से बचने की सलाह दी है. इसके बदले उन्हें अप्सरा बॉर्डर/भोपुरा/दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट एक्सप्रेस-वे जैसे वैकल्पिक रास्तों से आने-जाने का सुझाव दिया

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2020, 9:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) के विरोध में पंजाब-हरियाणा समेत अन्य राज्यों के किसान दिल्ली में डेरा जमाए बैठे हैं. किसानों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच पांच दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन अभी तक समस्या सुलझाने की दिशा में किसी तरह की कोई सहमति नहीं बन सकी है. इस बीच दिल्ली की हरियाणा और उत्तर प्रदेश से लगने वाली सीमाओं पर हजारों किसानों लगातार 10वें दिन भी प्रदर्शन (Farmers Agitation) जारी रखे हुए हैं. इस कारण शनिवार को कई प्रमुख मार्गों पर यातायात (Delhi Traffic) बेहद धीमा रहा और जाम जैसी स्थिति बनी रही.

किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए नेशनल हाईवे 24 पर गाजीपुर बॉर्डर को ट्रैफिक के लिए बंद कर दिया गया है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर लोगों से एनएच 24 के उपयोग से बचने की सलाह दी है. इसके बदले उन्हें अप्सरा बॉर्डर/भोपुरा/दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट एक्सप्रेस-वे जैसे वैकल्पिक रास्तों से आने-जाने का सुझाव दिया.


दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि मुकरबा और जीटीके मार्ग से यातायात को डायवर्ट किया गया है. बाहरी रिंग रोड, जीटीके रोड, एनएच-44 से बचें. पुलिस के मुताबिक टिकरी और झड़ौदा बॉर्डर किसी भी तरह के यातायात के लिए बंद हैं जबकि बदुसराय बॉर्डर सिर्फ कार और दोपहिया जैसे हल्के वाहनों के लिए खुला है. झटिकारा सीमा सिर्फ दोपहिया वाहनों के लिए ओपन है.



ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि किसी को हालांकि हरियाणा जाना हो तो वो ढांसा, दौराला, कापसहेड़ा, रजोकरी नेशनल हाईवे-8, बिसवासन/बजघेरा, पालम विहार और डूंडाहेरा बॉर्डर के रास्ते जा सकते हैं.

बता दें कि किसानों ने नए कृषि कानूनों के विरोध में आठ दिसंबर को ‘भारत बंद’ की घोषणा की है, और चेतावनी दी है कि यदि सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती तो आंदोलन तेज किया जाएगा और दिल्ली आने वाले मार्गों को रोक दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज