अपना शहर चुनें

States

Delhi News: युवक ने ऐप से लिया था 6000 रुपये का कर्ज, वसूली के लिए इतना बढ़ा दबाव की दे दी जान

Delhi News: लोन न चुका पाने के कारण युवक ने जान दे दी. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
Delhi News: लोन न चुका पाने के कारण युवक ने जान दे दी. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Delhi News: द्वारका इलाके में रहने वाले एक युवक ने मोबाइल ऐप से 6000 रुपये का लोन लिया था. कुछ राशि चुकाने के लिए बची थी, दूसरी तरफ, ऐप की ओर से युवक पर दबाव डाला जाने लगा. आरोप है कि इसके चलते युवक ने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 7:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश की राजधानी दिल्‍ली में ऐप से लोन लेने के बाद उसके बेहद ही खतरनाक परिणाम सामने आए हैं. मामला द्वारका इलाके का है, जहां एक युवक तुरंत लोन लेने के चक्‍कर में ऐप का सहारा लिया और उसमें फंसकर अपनी जान गंवा दी. बताया जाता है कि युवक ने ऐप से मामूल रकम का लोन लिया था, लेकिन कुछ रुपये चुकाने रह गए थे. इस दौरान उस पर इतना दबाव बढ़ाया गया कि उसने फांस लगाकर जान दे दी. यह मामला पिछले साल नवंबर का है, लेकिन अब जाकर यह प्रकाश में आया है. दिल्‍ली पुलिस की टीम ने युवक के परिजनों का बयान लेने के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ऐप से लोन लेने के जाल में फंसकर जान गंवाने वाले युवक की पहचान द्वारका निवासी हरीश के तौर पर की गई है. परिजनों ने बताया कि घटना के बारे में तब पता चला जब हरीश की दादी दूध लेकर घर पहुंचीं. बताया जाता है कि उन्‍होंने बहुत देर तक दरवाजा खटखटाया, लेकिन किसी ने दरवाजा नहीं खोला इस पर उन्‍होंने खिड़की से झांक कर देखा तो उनके पैरों तले की जमीन खिसक गई. उन्‍होंने हरीश को पंखे से लटका हुआ देखा. इसके बाद उन्‍होंने शोर मचाया. इस पर आसपास के लोग मौके पर इकट्ठा हो गए और हरीश के घर में कोहराम मच गया. इस  मामले की जानकारी तुरंत से पुलिस को दी गई. दिल्‍ली पुलिस की टीम मौके पर पहुंच कर मृतक के परिजनों का बयान लिया और आगे की जांच शुरू कर दी.

जानकारी के मुताबिक, घरवालों का कहना है कि उन्हें बाद में यह पता लगा कि व्हाट्सऐप पर कोई ऐसा ग्रुप भी बनाया गया था, जिसका नाम हरीश नंद किशोर फ्रॉड रखा गया था और हरीश के कुछ रिश्तेदारों को भी उसमें जोड़ा गया था. इतना ही नहीं उसे और लोगों को जोड़ने की धमकी दी गई थी, जिसके बाद हरीश ने खुदकुशी कर ली. पुलिस का कहना है कि उन्हें परिवार की तरफ से लोन ऐप से संबंधिक कोई शिकायत नहीं दी गई थी, लेकिन अब हमारी जानकारी में ये बात आई है हम इसकी भी जांच करेंगे. साइबर एक्सपर्ट का कहना है कि ऐसे किसी भी ऐप से लोन लेने से बचना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज