• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • क्या दिल्ली में भी खुलेंगे स्कूल? जानिए डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने क्या दिया जवाब

क्या दिल्ली में भी खुलेंगे स्कूल? जानिए डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने क्या दिया जवाब

दिल्ली के अधिकांश लोगों ने सरकार को भेजे स्कूल खोलने के सुझाव: मनीष सिसोदिया

दिल्ली के अधिकांश लोगों ने सरकार को भेजे स्कूल खोलने के सुझाव: मनीष सिसोदिया

दिल्ली में स्कूल खोलने को लेकर दिल्ली सरकार ने लोगों से सुझाव मांगे थे. इस पर सरकार को लोगों की ओर से सुझाव मिल रहे हैं. शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि ज़्यादातर लोग स्कूल खोलने के पक्ष में नजर आ रहे हैं. यहां स्कूल खोलने को लेकर सरकार जल्द कोई फैसला लेगी.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली में स्कूल खोलने को लेकर सरकार को लोगों की ओर से सुझाव मिल रहे हैं. शिक्षा मंत्री (Education Minister) मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि ज़्यादातर लोग स्कूल खोलने के पक्ष में नजर आ रहे हैं. यहां स्कूल खोलने को लेकर सरकार जल्द कोई फैसला लेगी. दरअसल, दिल्ली में कोरोना के मामले पहले की तुलना में बेहद कम हो गये हैं. कोरोना की वजह से लगाई गईं तमाम पाबंदियों को भी काफी हद तक हटा दिया गया है. ऐसे में सरकार से अब ये सवाल पूछा जा रहा है कि आख़िर स्कूल कब खुलेंगे. ये सवाल इसलिये भी पूछा जा रहा है क्योंकि कुछ पाबंदियों के साथ ही सही पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड, झारखंड, छत्तीसगढ़ में स्कूल खुल चुके हैं और अब 16 अगस्त से उत्तर प्रदेश में भी स्कूल खोले जा रहे हैं.

यही वजह है कि दिल्ली में भी स्कूल खोले जाने को लेकर कुछ दिनों पहले शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ई-मेल आईडी जारी की थी. इसके जरिए लोगों से सुझाव मांगे थे कि क्या स्कूल खोल देने चाहिये. इसके लिये ईमेल आईडी delhischools21@gmail.com जारी की गयी थी. इस दौरान सरकार ने कहा कि इस पर लोगों के जो सुझाव मिलेंगे उसी हिसाब से स्कूल खोले जाने को लेकर फ़ैसला लिया जायेगा.

इस ईमेल-आईडी जारी होने पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि स्कूल खोलने को लेकर हमने लोगों से जो सुझाव मांगे थे उसके लिये अब तक 30-35 हजार सुझाव आ चुके हैं. इन सुझावों में हमने देखा कि कुछ लोग स्कूल खोलना चाहते हैं. कुछ डरे हुए हैं. फ़िलहाल हम इसकी स्टडी करा रहे हैं. इसके आधार पर कोई निर्णय होगा तो बताएंगे. मनीष ने कहा स्कूल खुलेंगे कि नहीं समय पर बता दिया जाएगा. हालंकि मनीष ने इस बात के संकेत ज़रूर दिये कि लोगों के सुझाव ज़्यादातर स्कूल खोलने के पक्ष में हैं.

हालांकि सरकार अभी भी लोगों के सुझावों का इंतज़ार कर रही है, लेकिन वहीं ज़्यादातर बच्चों और उनके माता-पिता का कहना है कि अब स्कूल खुल जाने चाहिये. क्योंकि घर पर बच्चों की पढ़ाई ठीक ढंग से नहीं हो पाती. स्कूल खोले जाने को लेकर सेंट्रल दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय मार्ग के एक सरकारी स्कूल के बाहर कुछ बच्चे अपने 10वीं के रिज़ल्ट के बाद आगे की क्लास के लिये फार्म लेने आये थे. इन बच्चों और उनके माता-पिता ने बताया कि अब जब स्थिति पहले से सामान्य है तो स्कूल खोल देने चाहिये. घर में बच्चों की पढ़ाई कभी नेटवर्क की समस्या की वजह से और कभी दूसरी परेशानियों की वजह से ठीक से नहीं हो पाती.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज