लाइव टीवी

Delhi Election Result 2020: आप के शोएब इकबाल ने 50 हजार से ज्यादा मतों से जीती मटिया महल (MATIA MAHAL) सीट
Delhi-Ncr News in Hindi

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 5:22 PM IST
Delhi Election Result 2020:  आप के शोएब इकबाल ने 50 हजार से ज्यादा मतों से जीती मटिया महल (MATIA MAHAL) सीट
शोएब इकबाल इस सीट से पांच बार विधायक रह चुके हैं.

मटिया महल (Matia Mahal) सीट पर कांग्रेस की जीत कभी नसीब नहीं हुई. वर्तमान में यहां से आम आदमी पार्टी (AAP) के आसिम अहमद खान विधायक हैं, जिन्हें इस बार टिकट नहीं दिया गया है. 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार आसिम अहमद खान को 59.23 फीसदी वोट मिले थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 5:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मटिया महल (Matia Mahal) विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रत्याशी शोएब इकबाल (Shoaib Iqbal) ने बड़े अंतर से जीत हासिल की है. आप प्रत्याशी शोएब इकबाल ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बीजेपी (BJP) के रवींद्र गुप्ता (Ravindra Gupta) को 50241 मतों से हरा दिया. यह विधानसभा चांदनी चौक लोकसभा क्षेत्र (Chandni chowk Lok Sabha constituency) के तहत आता है. यह दिल्ली की सबसे पुराने विधानसभा क्षेत्रों में से एक है. इस सीट पर मुस्लिम वोटर्स निर्णायक भूमिका अदा करते हैं. मटिया महल में मुस्लिम वोटर्स की अच्छी खासी तादाद है.

शोएब इकबाल दिल्ली के दिग्गज नेता रहे हैं
इस सीट पर कांग्रेस की जीत कभी नसीब नहीं हुई. वर्तमान में यहां से आम आदमी पार्टी के आसिम अहमद खान विधायक हैं, जिन्हें इस बार टिकट नहीं दिया गया है. 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार आसिम अहमद खान को 59.23 फीसदी वोट मिले थे. पिछली बार कांग्रेस पार्टी की टिकट पर लड़ने वाले शोएब इकबाल को इस बार आम आदमी पार्टी ने टिकट दिया है. शोएब इकबाल हाल ही में आप में शामिल हुए हैं. शोएब इकबाल इस सीट से पांच बार विधायक रह चुके हैं.

इस सीट पर कांग्रेस की जीत कभी नसीब नहीं हुई.


मुस्लिम बहुल इलाका है मटिया महल
मुस्लिम आबादी की संख्या ज्यादा होने के कारण यहां पर धार्मिक कार्ड भी खूब खेला जाता है. खासकर चुनावों में इस सीट पर धार्मिक कार्ड का महत्वपूर्ण रोल होता है. जामा मस्जिद से सटे होने के कारण चुनाव के दौरान यहां पर शाही इमाम और गैरशाही इमाम ग्रुप में बंट जाते हैं. इसके बावजूद टूटी हुई संकीर्ण गलियों, पाइपलाइन से पानी की कमी और सीवर कनेक्शन क्षेत्र के मुख्य मुद्दे हैं. संकरी सड़कों के साथ बिजली तारों के जंजाल भी लोगों की चिंता का मुख्य कारण है. इस क्षेत्र में अधूरे काम इस बार आप के लिए मुसीबत बन सकते हैं.

इस सीट पर शोएब इकबाल 1993 और 1998 में जनता दल के टिकट पर चुने गए. 2003 में वह जनता दल (सेक्युलर) का हिस्सा रहे और एक बार फिर उन्होंने जीत दर्ज की. अगली बार 2008 में उन्होंने लोक जनशक्ति पार्टी और 2013 में जनता दल (युनाइटेड) से पांचवीं बार विधायक का चुनाव जीता.
shoaib iqbal
मटियामहल से पांच बार विधायक रह चुके शोएब इकबाल ने हाल ही में आम आदमी पार्टी का दामन थामा है.


शोएब इकबाल इस सीट से पांच बार विधायक रह चुके हैं

दिल्ली की राजनीति के वयोवृद्ध शोएब इक़बाल मुस्लिम बहुल मटिया महल सीट से सातवीं बार चुनाव लड़ रहे हैं. आप उम्मीदवार की सूची घोषित होने से कुछ दिन पहले ही वह आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे. दिलचस्प बात यह है कि जब इकबाल कांग्रेस में थे, तो उन्होंने कहा था कि केजरीवाल को जेल भेज देना चाहिए. उन्होंने केजरीवाल से नागरिकता संशोधन अधिनियम और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर के ज्वलंत मुद्दे पर उनकी चुप्पी पर भी सवाल उठाया था.

ये भी पढ़ें: 

चौपाल: द्वारका सीट पर प्रत्याशियों के चेहरों की हो गई अदला-बदली, शास्त्री जी के पोते की प्रतिष्ठा दांव पर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 11:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर