लाइव टीवी

Delhi Election Result: दिल्ली चुनाव में चंद इलाकों तक सिमट कर रह गई 7 सांसदों वाली BJP

News18India
Updated: February 11, 2020, 6:23 PM IST
Delhi Election Result: दिल्ली चुनाव में चंद इलाकों तक सिमट कर रह गई 7 सांसदों वाली BJP
दिल्ली चुनाव में बीजेपी को सांसद गौतम गंभीर और मनोज तिवारी के संसदीय क्षेत्रों में आने वाली विधानसभा सीटों पर ही जीत हासिल हुई है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Election 2020) के नतीजों में बीजेपी (BJP) के उम्मीदवारों को सिर्फ उन्हीं इलाकों में जीत हासिल हुई, जो पार्टी के सांसद मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) और गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) के संसदीय सीटों में आते हैं.

  • News18India
  • Last Updated: February 11, 2020, 6:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Election 2020) के अधिकतर सीटों के नतीजे आ चुके हैं. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (AAP) ने लगातार दूसरी बार बंपर जीत हासिल की है. खबर लिखे जाने तक दिल्ली विधानसभा की 70 में से 57 सीटों पर AAP के उम्मीदवार विजयी घोषित हुए हैं. 6 अन्य सीटों पर उसके प्रत्याशी जिताऊ बढ़त बनाए हुए हैं. वहीं, इसके उलट भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 2015 के मुकाबले इस चुनाव में अपनी स्थिति बेहतर जरूर की है, लेकिन उसे सिर्फ 7 सीटों पर ही बढ़त हासिल हो सकी है. ये 7 सीटें भी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में नहीं, बल्कि उत्तरी दिल्ली और उत्तर-पूर्वी दिल्ली क्षेत्र की हैं. यानी दिल्ली चुनावों के नतीजों में बीजेपी चंद इलाकों तक सिमट कर रह गई है. गौर करने वाली बात यह है कि बीजेपी को जिन सीटों पर जीत हासिल हुई है, वे उसके दो सांसद- मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) और गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) के लोकसभा संसदीय क्षेत्र के तहत आते हैं.

इन सीटों पर जीती भाजपा
दिल्ली चुनाव में बीजेपी के हिस्से में कुल 7 सीटें आई हैं. इनमें रोहिणी, लक्ष्मी नगर, विश्वास नगर, गांधीनगर, रोहतास नगर, घोंडा और करावलनगर शामिल है. दिल्ली के संसदीय क्षेत्रों पर नजर डालें तो रोहिणी के अलावा ये सभी सीटें पूर्वी दिल्ली क्षेत्र में आती हैं. जबकि रोहिणी उत्तरी दिल्ली इलाके की विधानसभा सीट है. वहीं, जब हम इन सभी सीटों को लोकसभा के संसदीय क्षेत्रों के आधार पर देखते हैं तो यह उत्तर पूर्वी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली इलाके की हैं, जहां से बीजेपी के दो सांसद मनोज तिवारी और गौतम गंभीर आते हैं. मनोज तिवारी उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद हैं और दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भी. वहीं, गौतम गंभीर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से बीजेपी के सांसद हैं.

delhi-election-result-bjp-reduced-to-few-areas-in-assembly-elections | Delhi Election Result: दिल्ली चुनाव में चंद इलाकों तक सिमट कर रह गई 7 सांसदों वाली BJP, Delhi Election 2020, Delhi Election Result, Delhi Assembly Election 2020, BJP, AAP, Manoj Tiwari, Gautam Gambhir, आम आदमी पार्टी, भाजपा, बीजेपी, मनोज तिवारी, गौतम गंभीर, दिल्ली चुनाव में भाजपा सिमटी, Arvind Kejriwal,
दिल्ली में आम आदमी पार्टी जहां 63 सीटों पर जीती, वहीं बीजेपी को सिर्फ 7 सीट से संतोष करना पड़ा.


यमुना पार ने ही किया बेड़ा पार
आम आदमी पार्टी ने इन चुनावों में 2015 की ही तरह दिल्ली के लगभग सभी हिस्सों में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है. लेकिन इसके उलट भाजपा चंद इलाकों, यों कहें कि सिर्फ यमुना पार के इलाकों तक सिमट कर रह गई है. 2020 के चुनाव में यह जरूर हुआ है कि पिछली बार जहां इस क्षेत्र में भाजपा को 2 सीटें मिल पाई थीं, इस बार यह संख्या बढ़कर 6 हो गई है. यमुना पार से इतर सिर्फ एक रोहिणी विधानसभा सीट ही है, जहां बीजेपी 2015 में भी चुनाव जीती थी और इस बार पार्टी के उम्मीदवार ने परचम लहराया.

दो सांसदों का बढ़ेगा प्रभावविधानसभा चुनाव के नतीजों से एक बात और साफ हो गई है कि सांसद मनोज तिवारी और गौतम गंभीर की संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं ने काफी हद तक अपने नेता की प्रतिष्ठा को धूमिल होने से बचा लिया. इसके पीछे एक कारण यह भी कहा जा सकता है कि दिल्ली के चुनावों में जहां पार्टी के अन्य नेता कड़वे बयानों पर बढ़-चढ़कर प्रतिक्रिया दे रहे थे, वहीं इन दोनों नेताओं ने ऐसे भाषणों से दूरी बनाए रखी. मनोज तिवारी ने तो केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के विवादित बयान पर खेद भी जताया था. वहीं, गौतम गंभीर का तो ऐसे किसी मामले में कोई रिकॉर्ड भी नहीं है. बहरहाल, यह कहा जा सकता है कि मनोज तिवारी और गौतम गंभीर के संसदीय क्षेत्र में पार्टी को मिली जीत से आने वाले दिनों में इन दोनों नेताओं का दिल्ली में और पार्टी में भी प्रभाव बढ़ सकता है.

ये भी पढ़ें :-

'आप' की बंपर जीत पर खुश हुए केजरीवाल, कहा- तीसरी बार भरोसा करने के लिए शुक्रिया

हार के बाद इस्तीफे के सवाल पर बोले मनोज तिवारी- पार्टी करेगी समीक्षा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 5:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर