लाइव टीवी

Delhi Fire: प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को मिलेगा 2-2 लाख का मुआवजा

News18Hindi
Updated: December 8, 2019, 1:23 PM IST
Delhi Fire: प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को मिलेगा 2-2 लाख का मुआवजा
पीएम मोदी ने की मुआवजे की घोषणा (फाइल फोटो)

साथ ही पीएम मोदी (PM Modi) ने गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को राहत देने के लिए 50 हजार रुपये की मंजूरी भी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 8, 2019, 1:23 PM IST
  • Share this:
 नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने दिल्ली के अनाज मंडी (Anaj Mandi) अग्निकांड में मारे गए मृतकों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से 2-2 लाख रुपए की मुआवजा राशि देने की घोषणा की. साथ ही उन्होंने गंभीर रूप से घायलों के लिए 50 हजार रुपए की मंजूरी भी दी है. इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने घटना स्थल पर पहुंचने के बाद मृतकों के परिजनों के लिए 10 लाख रुपए के मुआवजे का ऐलान किया था. जबकि, घायलों के लिए एक लाख रुपए की घोषणा की थी. अनाज मंडी में मीडिया से बात करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा था, 'मैंने मजिस्ट्रेट इंक्वायरी का आदेश दिया है और सात दिन में रिपोर्ट देने की बात कही.'

वहीं, दिल्ली के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने कहा है कि यह घटना (अग्निकांड) बहुत ही दुखद है. इसकी जांच की जाएगी और जो भी इसके लिए जिम्मेदार होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. किसी को बख्शा नहीं जाएगा.



सुबह साढ़े चार आग लगी थी
बता दें कि अनाज मंडी स्थित चार मंजिले इमारत में सुबह साढ़े चार बजे एक बैग की फैक्ट्री में आग लग गई थी. इस घटना में अब तक 43 लोगों की मौत हो चुकी है. अधिकारियों का कहना है कि मौत का आंकड़ा बढ़ भी सकता है. इस अग्निकांड में घायल हुए लोगों का हिंदू राव अस्पताल, आरएमएल, लेडी हार्डिंग और एलएनजेपी में इलाज चल रहा है. कहा जा रहा है कि ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने के कारण हुई है. दमकल विभाग का कहना है कि यह दिल्ली का अब तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन है.

ये भी पढ़ें- 

Delhi Fire: PM मोदी ने जताया दुख, AAP सरकार बोली- दोषियों को बख्‍शेंगे नहीं

Anaj Mandi Fire: 43 लोगों की मौत, कुछ देर में घटना स्थल पर पहुंचेंगे केजरीवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 1:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर