Assembly Banner 2021

दिल्ली : कोरोना ढा रहा कहर, शवों को जलाने श्मशान में जगह नहीं, रिजर्व करानी पड़ रहीं चिताएं

सांकेतिक तस्वीर.

सांकेतिक तस्वीर.

Corona in Delhi-देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण से मौतों का आकंड़ा लगातार बढ़ रहा है. आलम ये है कि श्मशान घाटों में डेड बॉडी को जलाने के लिए जगह कम पड़ रही हैं. दिल्ली के ईस्ट, नार्थ और साऊथ एमसीडी ने दर्जनों चिताएं बुक कराई हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण से मौतों का आकंड़ा लगातार बढ़ रहा है. आलम ये है कि श्मशान घाटों में शवों को जलाने के लिए जगह कम पड़ रही हैं. इसके चलते अब कोरोना मरीजों की डेड बॉडी को जलाने के लिए श्मशान घाटों में चिताएं रिजर्व होने लगी हैं. बताया जा रहा है कि ईस्ट एमसीडी ने गाजीपुर श्मशान घाट में 15, कड़कड़डूमा में 10 और सीमापुरी श्मशान घाट में 10 चिताएं रिजर्व की हैं. जबकि नॉर्थ एमसीडी ने निगम बोध घाट में 13 चिताएं रिजर्व की हैं. इसके अलावा साउथ एमसीडी ने पंजाबी बाग और हस्तसाल श्मशान घाट को मिलाकर कुल 15 चिताएं रिजर्व की हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एमसीडी अफसरों का कहना है कि दिल्ली में कोरोना के मामले में फिर एक बार तेजी आई है, लेकिन मृत्युदर पहले की तुलना में काफी कम है. यह शुरुआती दौर है, जिससे मृत्युदर कम है, लेकिन, संक्रमण बढ़ने पर जटिलताएं बढ़ सकती हैं. ऐसे में मृत्यु अधिक हो सकती हैं. कोरोना डेडबॉडी को जलाने में लोगों को परेशान न होना पड़े, इसके लिए पहले से ही सभी श्मशान घाटों में चिताएं ऐसे डेडबॉडी के लिए रिजर्व किया गई हैं.

कोरोना रोज तोड़ रहा रिकॉर्ड
एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहा है. बीते बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 5,506 नए मामले सामने आए जो कि इस साल एक दिन की सर्वाधिक संख्या है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार नए मामलों के साथ ही संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 6,90,568 हो गए हैं. दिल्ली में कोविड-19 से 20 और मरीजों की मौत हो गई जिसके बाद मृतकों की संख्या 11,133 पर पहुंच गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज