Home /News /delhi-ncr /

Delhi Gaushalas: गौशालाओं की हालात खराब, दो माह में 480 गायों की मौत, व‍िधानसभा में उठा मामला, कमेटी करेगी जांच

Delhi Gaushalas: गौशालाओं की हालात खराब, दो माह में 480 गायों की मौत, व‍िधानसभा में उठा मामला, कमेटी करेगी जांच

गौशालाओं की हालात बदहाल होने का मामला आज द‍िल्‍ली व‍िधानसभा में जोर शोर से उठाया गया. (File Photo)

गौशालाओं की हालात बदहाल होने का मामला आज द‍िल्‍ली व‍िधानसभा में जोर शोर से उठाया गया. (File Photo)

Delhi Gaushalas: द‍िल्‍ली में 15,300 गौ की सेवा द‍िल्‍ली नगर न‍िगम (MCD) कर रहा है. रेवला खानपुर में मानव सदन गौशाला का जि‍क्र करते हुए एक र‍िपोर्ट का हवाला द‍िया और बताया क‍ि प‍िछले साल जुलाई में 300 और अगस्‍त में 180 गायों की मौत हो चुकी हैं. कंझावला में श्रीकृष्‍ण गौशाला है ज‍िसको 18 करोड़ रुपए का भुगतान नहीं क‍िया जा सका है. यहां फंड की कमी के चलते पशु अस्‍पताल भी बंद होने के कगार पर है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली नगर न‍िगमों के अधीनस्‍थ संचाल‍ित गौशालाओं (Gaushalas) की हालात बदहाल होने का मामला आज द‍िल्‍ली व‍िधानसभा (Delhi Assembly) में जोर शोर से उठाया गया. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) की व‍िधायक भावना गौड ने इस संबंध में एक प्रस्‍ताव चर्चा के ल‍िए सदन में पेश क‍िया. इस पर सदस्‍यों ने चर्चा में भाग ल‍िया और स्‍थ‍ित‍ि पर चर्चा की. इस पर द‍िल्‍ली व‍िधानसभा अध्‍यक्ष रामन‍िवास गोयल ने व‍िधानसभा की एक जांच कमेटी गठ‍ित करने की अनुमति दे दी है जोक‍ि गठन के एक माह के भीतर अपनी र‍िपोर्ट सौंपेगी.

    सदन में द‍िल्‍ली नगर न‍िगमों (MCDs) के अंतर्गत संचाल‍ित गौशाला और सड़कों पर घूमती आवारा गऊ की स्‍थ‍िति और हालात पर चर्चा की. इस संबंध में सत्‍ता पक्ष की सदस्‍या भावना गौड की ओर से सदन में प्रस्‍ताव भी पेश क‍िया गया. उन्‍होंने बताया क‍ि द‍िल्‍ली में 15,300 गौ की सेवा द‍िल्‍ली नगर न‍िगम (MCD) कर रहा है. लेक‍िन इन चार गौशालाओं का संचालन करने वाली एनजीओ को अब तक संचालन के ल‍िए दी जाने वाली राश‍ि का भुगतान नहीं क‍िया है.

    ये भी पढ़ें: Punjab Election 2022: चुनावों से पहले केजरीवाल सरकार का मास्‍टर स्‍ट्रोक, श्री अकाल तख्‍त और मनोनीत सदस्‍यों की संख्‍या बढ़ाई

    उत्‍तरी द‍िल्‍ली नगर निगम (North MCD) पर लगभग 25 करोड़ रुपए का भुगतान करना बाकी है. उत्‍तरी न‍िगम ने 11 करोड़ रुपए की राशि भी स्‍वीकृत की थी. लेक‍िन गत स‍ितंबर माह के बाद से आज तक राश‍ि का भुगतान गौशालाओं को नहीं क‍िया गया है. दक्ष‍िणी द‍िल्‍ली नगर नि‍गम (South MCD) में व‍ित्‍तीय वर्ष 2020-21 के लिए 2.5 करोड़ रुपए ही दो गौशाला को जारी करने का फैसला क‍िया गया है. लेक‍िन 5 साल के दौरान में इस द‍िशा में कोई काम नहीं क‍िया गया और न ही कोई नई गौशाला खोली गई है. पशु पंजीकरण करने की द‍िशा में कोई काम नहीं क‍िया गया.

    आवारा पशु मुक्‍त शहर बनाने की हुईं स‍िर्फ घोषणाएं
    प्रस्‍ताव में सदस्‍य ने सदन को अवगत कराया क‍ि जनवरी, 2021 में पूर्वी द‍िल्‍ली नगर न‍िगम ने माइक्रो च‍िप लगाने की घोषणा की. उन्‍होंने कहा क‍ि न‍िगमों की ओर से हर बार न‍िगम बजट घोषणा में आवारा पशु मुक्‍त शहर बनाने की भी घोषणा की जाती है, लेक‍िन सड़कों पर इन आवारा पशुओं का जमावड़ा देखा जा सकता है. द‍िल्‍ली में इसकी वजह से दुर्घटना होती हैं. गाय को भी लोग आवारा छोड़ देते हैं.

    इसकी वजह से दुर्घटना होती हैं. रेवला खानपुर में मानव सदन गौशाला का जि‍क्र करते हुए एक र‍िपोर्ट का हवाला द‍िया और बताया क‍ि प‍िछले साल जुलाई में 300 और अगस्‍त में 180 गायों की मौत हो चुकी हैं. कंझावला में श्रीकृष्‍ण गौशाला है ज‍िसको 18 करोड़ रुपए का भुगतान नहीं क‍िया जा सका है. यहां फंड की कमी के चलते पशु अस्‍पताल भी बंद होने के कगार पर है. इस चर्चा में सदस्य संजीव झा, बंदना कुमारी, रोहित मेहरो‍ल‍िया, ऋतु राज गोव‍िंद, सौरभ भारद्वाज व अन्‍य सदस्‍यों ने भी भाग ल‍िया.

    नेता प्रत‍िपक्ष रामबीर स‍िंह बि‍धुड़ी ने भी गोमाता और गोशाला की स्‍थ‍ित‍ि पर वक्‍तव्‍य देते हुए कहा क‍ि भाजपा गोपालक है और गोरक्षक हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्‍यों को आदेश द‍िया है क‍ि एक सपूत बेटा की तरह ही गोमाता की सेवा की जाए. इस पर राज्‍यों ने पालन क‍िया है और गोसेवा कर रहे हैं. श्रवण माता-प‍िता की सेवा के ल‍िए जाने जाते थे.

    भाजपा के मुख्‍यमंत्री राज्‍यों में गोमाता की उसी तरह ही सेवा करते हैं. उन्‍होंने द‍िल्‍ली के पूर्व मुख्‍यमंत्री स्‍वर्गीय मदनलाल खुराना और स्‍वर्गीय डॉ. साह‍िब स‍िंह वर्मा के कार्यकाल में गोसंरक्षण को लेकर उठाए कदमों का ज‍िक्र सदन में जोर शोर से क‍िया.

    भाजपा के पूर्व सीएम ने दी भी गौशालाओं को ग्राम सभा की जमीन
    उन्‍होंने कहा क‍ि भाजपा की सरकार ने 1993-1998 तक के कार्यकाल के दौरान गोमाता के संरक्षण और सेवा के ल‍िए बड़े काम क‍िए. उनके इलाज, चारा और गर्म‍ियों में गर्मी से बचाने के ल‍िए कमरों में कूलर आद‍ि लगवाए थे. रेवला खानपुर, हरेवली, कंझावला में भाजपा की द‍िल्‍ली सरकार ने पूर्व में सैंकड़ों एकड़ ग्राम सभा जमीन गौशाला के ल‍िए दान दी. लेक‍िन मौजूदा द‍िल्‍ली सरकार की ओर से 7 सालों में गोसदनों के संचालन, चारा, गोमाता के इलाज के ल‍िए कोई दवाई आद‍ि के ल‍िए राशि उपलब्‍ध नहीं करवाई गई.

    भाजपा के मदनलाल खुराना, डॉ. साह‍िब स‍िंह वर्मा ने बड़ी राश‍ि इन गौशालाओं को उपलब्‍ध करवाई. मौजूदा गोसदनों में और गाय रखने की जगह नहीं है. 1993 से 1998 तक जमीन उपलब्‍ध करवाईं थी, लेक‍िन सात सालों में अरव‍िंद केजरीवाल सरकार ने कुछ नहीं उपलब्‍ध कराया.

    सौरभ भारद्वाज ने प्रस्‍ताव क‍िया क‍ि इस मामले पर एक कमेटी गठ‍ित कर दी जाए. यह कमेटी इस पूरे मामले की जांच पड़ताल करेगी और सुझाव देगी ज‍िस पर आगे की रणनीत‍ि तैयार की जाएगी.

    द‍िल्‍ली सरकार के पास नहीं है जमीन, डीडीए व एलजी के पास है इसका अध‍िकार
    मंत्री सत्‍येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने इस चर्चा का जवाब देते हुए कहा क‍ि राजधानी द‍िल्‍ली में जमीन द‍िल्‍ली व‍िकास प्राध‍िकरण (DDA) और उप-राज्‍यपाल के अधीन आती है. व‍िपक्ष डेढ गुना की बात करते हैं, गोशाला को दो गुना जमीन देने को तैयार हैं. लेक‍िन जमीन द‍िल्‍ली सरकार के अधीनस्‍थ व‍िषय नहीं है. उन्‍होंने भी सहमत‍ि जताई और सौरभ भारद्वाज की अध्‍यक्षता में कमेटी गठ‍ित क‍िए जाने की बात कही.

    इस पर द‍िल्‍ली व‍िधानसभा अध्‍यक्ष रामन‍िवास गोयल ने सदन को अवगत कराते हुए कहा क‍ि कमेटी को गठ‍ित करने का काम नेता प्रत‍िपक्ष और सौरभ भारद्वाज उनके साथ चर्चा करके करेंगे. कमेटी को गठन के अगले एक माह के भीतर अपनी व‍िस्‍तृत र‍िपोर्ट सदन पटल पर पेश करनी होगी.

    Tags: Assembly Session, Delhi Government, Delhi MCD, Delhi news, Gaushala, MCD

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर