Home /News /delhi-ncr /

Kejriwal सरकार ने यमुना के प्रदूषण को दूर करने का बनाया ये प्‍लान, सालभर में पूरा होगा काम

Kejriwal सरकार ने यमुना के प्रदूषण को दूर करने का बनाया ये प्‍लान, सालभर में पूरा होगा काम

दिल्‍ली सरकार की ओर से यमुना नदी के प्रदूषण को और कम करने की द‍िशा में एक अहम कदम उठाया है.

दिल्‍ली सरकार की ओर से यमुना नदी के प्रदूषण को और कम करने की द‍िशा में एक अहम कदम उठाया है.

Yamuna River Pollution: दिल्‍ली सरकार की ओर से यमुना नदी के प्रदूषण को और कम करने की द‍िशा में एक अहम कदम उठाया है. इसके तहत 14 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट में वातन तंत्र यानी ऐरेशन तंत्र लगाए जाएंगे, जिनकी क्षमता 220 एमजीडी होगी. इससे पानी की गुणवत्‍ता में और ज्‍यादा सुधार हो सकेगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली की यमुना नदी (Yamuna River) में प्रदूषण लेवल को कम करने और उसको साफ व स्‍वच्‍छ बनाने के ल‍िए केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) और गंभीरता से काम करने की तैयारी में जुट गई है. दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) की ओर से यमुना नदी के प्रदूषण को और कम करने की द‍िशा में एक अहम कदम उठाया है.

    इसके तहत 14 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (Sewage Treatment Plant) में वातन तंत्र यानी ऐरेशन तंत्र (Aeration system) लगाए जाएंगे, जिनकी क्षमता 220 एमजीडी होगी. इससे पानी की गुणवत्‍ता में और ज्‍यादा सुधार हो सकेगा.

    द‍िल्‍ली के जल मंत्री सत्‍येंद्र जैन का कहना है क‍ि यमुना नदी में प्रदूषण (Pollution in Yamuna River) को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने एक अहम फैसला लिया है. इसके तहत 14 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट में वातन तंत्र यानी ऐरेशन तंत्र लगाए जाएंगे, जिनकी क्षमता 220 एमजीडी होगी.

    ये भी पढ़ें: Delhi Government के कॉन्‍ट्रेक्‍ट वर्कर्स को म‍िलेगा द‍िवाली बोनस व महंगाई भत्‍ता, श्रमायुक्‍त ने जारी क‍िए आदेश  

    इस ऐरेशन प्रणाली द्वारा पानी की गुणवत्ता में सुधार होगा और मौजूदा बायोकेमिकल ऑक्सीजन डिमांड (बीओडी) को 20-30 मिलीग्राम/लीटर के स्तर से घटाकर 10 मिलीग्राम /लीटर तक लाया जाएगा. इस परियोजना की लागत 153 करोड़ रुपए होगी और इसे 1 साल में पूरा किया जाएगा. इस परियोजना के अंतर्गत प्रतिदिन यमुना में बहने वाला लगभग 10,000 किलोग्राम आर्गेनिक प्रदूषक कम होगा.

    153 करोड़ की लागत से नये स‍िरे से व‍िकस‍ित होंगे सीवेज ट्रीटमेंट प्‍लांट
    जैन का कहना है क‍ि 153 करोड़ रुपए की लागत से दिल्ली के सीवेज ट्रीटमेंट प्लांटों को नए तरीके से विकसित क‍िया जाएगा. द‍िल्ली सरकार 3 साल की अवधि में सभी रिहायशी कॉलोनियों में सीवर लाइन डालने के लिए भी प्रतिबद्ध है. इस संबंध में संगम विहार में सीवर लाइन बिछाने के काम को मंजूरी मिल गई है.

    इन कॉलोन‍ियों में भी सीवर लाइन ब‍िछाने और एसटीपी न‍िर्माण की मंजूरी दी
    इसके अलावा, शाहबाद की कॉलोनियों में, सारंगपुर, गालिबपुर, काजीपुर और खेरा डाबर की कॉलोनियों में सीवर लाइन बिछाने और सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण को मंजूरी दी गई है. इस कार्य को 2 साल के अंदर पूरा कर लिया जाएगा.

    Tags: Delhi Government, Delhi news, Water Pollution, Yamuna River

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर