सिसोदिया के सिंगापुर वाले बयान पर मीनाक्षी लेखी का तंज, कहा- भ्रष्टाचार का पैसा वहां जमा

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को दिल्ली का वार्षिक बजट पेश करते हुए कहा कि उनकी सरकार की योजना है कि वर्ष 2047 तक दिल्ली की जनता की आय सिंगापुर के लोगों जितनी बराबर हो

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को दिल्ली का वार्षिक बजट पेश करते हुए कहा कि उनकी सरकार की योजना है कि वर्ष 2047 तक दिल्ली की जनता की आय सिंगापुर के लोगों जितनी बराबर हो

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) के सिंगापुर वाले बयान पर बीजेपी की सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा, मुझे नहीं पता आप को सिंगापुर में इतनी दिलचस्पी क्यों है? खाते पता लगाए जाने चाहिए कि यहां जितने भ्रष्टाचार के मामले हुए हैं, वो पैसा कहीं सिंगापुर में तो नहीं पड़ा है. यह प्रति व्यक्ति आय की बात करते हैं, लेकिन बिजली, पानी, सड़क इस पर काम नहीं करते

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली की आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने मंगलवार को दिल्ली विधानसभा में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 69 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया. डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने लगातार सातवीं बार दिल्ली का बजट पेश करते हुए कहा कि आप सरकार वर्ष 2047 तक दिल्ली के नागरिकों की प्रति व्यक्ति आय सिंगापुर की प्रति व्यक्ति आय के बराबर करना चाहती है.

सिसोदिया के इस बयान पर बीजेपी ने तंज कसा है. नई दिल्ली सीट से पार्टी की सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा, मुझे नहीं पता आप को सिंगापुर में इतनी दिलचस्पी क्यों है? खाते पता लगाए जाने चाहिए कि यहां जितने भ्रष्टाचार के मामले हुए हैं, वो पैसा कहीं सिंगापुर में तो नहीं पड़ा है. यह प्रति व्यक्ति आय की बात करते हैं, लेकिन बिजली, पानी, सड़क इस पर काम नहीं करते.



'केजरीवाल सरकार में दिल्ली का बजट सिर्फ 12 प्रतिशत बढ़ा'
वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय माकन ने दिल्ली सरकार के पेश बजट पर कहा कि कांग्रेस की 15 वर्षों की सरकार के दौरान दिल्ली के बजट में प्रति वर्ष औसतन 55 फीसदी की वृद्धि हुई. लेकिन केजरीवाल सरकार में हर साल सिर्फ 12 प्रतिशत बजट बढ़ा है. उन्होंने ट्वीट किया, 'दिल्ली में 1997-98 में जब कांग्रेस की सरकार आई तो यहां का बजट 4073 करोड़ रुपये था और 2013-14 जब यहां कांग्रेस की सरकार गई तो बजट 37,450 करोड़ रुपये था. इसमें 820 प्रतिशत की वृद्धि हुई यानी बजट में हर साल 55 फीसदी की वृद्धि हुई.



माकन ने कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार के सात साल में बजट 37,450 करोड़ रुपये से बढ़कर 69 हजार करोड़ रुपये तक पहुंचा है. हर साल 12 फीसदी की ही वृद्धि हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज