क्षमता का लोहा मनवाने वाले दिव्यांगजन स्टेट अवार्ड से सम्मानित, मंत्री बोले-हर काम में दूसरों के लिए बनते हैं मिसाल!

समाज कल्याण विभाग की ओर से दिव्यांगजनों को सम्मानित किया.

समाज कल्याण विभाग की ओर से दिव्यांगजनों को सम्मानित किया.

समाज कल्याण विभाग की ओर से उन सभी दिव्यांगजनों को सम्मानित किया जिन्होंने हर चुनौती को स्वीकार करते हुए अपनी क्षमता का लोहा मनवाया है. इन सभी को दिव्यांगजन होने के बावजूद उत्कृष्ट कार्य करने पर ही राज्य सरकार की ओर से पुरस्कृत किया गया है. समाज कल्याण विभाग मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने प्रशस्ति पत्र और नकद राशि देकर 2020 के राज्य पुरस्कारों से नवाजा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2021, 12:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) के समाज कल्याण (Social welfare)  विभाग की ओर से उन सभी दिव्यांगजनों को सम्मानित किया जिन्होंने हर चुनौती को स्वीकार करते हुए अपनी  क्षमता का लोहा मनवाया है.

इन सभी को दिव्यांगजन होने के बावजूद उत्कृष्ट कार्य करने पर ही राज्य सरकार की ओर से पुरस्कृत किया गया है. समाज कल्याण विभाग मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने प्रशस्ति पत्र और नकद राशि देकर 2020 के राज्य पुरस्कारों से नवाजा है.

गौतम ने कहा कि इन अवार्डी को अवार्ड देते हुए अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं. केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) हर तबके के साथ खड़ी होकर विकास का मॉडल पेश कर रही है. उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन हर चुनौती को स्वीकार करते हुए उसका डटकर सामना करते हैं और उस पर विजय हासिल करते हैं. यह दूसरों के लिए एक मिसाल कायम करने वाले होते हैं.

समाज कल्याण विभाग की ओर से दिव्यांगजनों को उत्कृष्ट उपलब्धियों के लिए वर्ष 2020 के राज्य पुरस्कार दिए गए. समाज कल्याण विभाग मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने डॉ. गोली श्रीनिवास, मोहिनी, अनिता, अभिषेक राणा, बेन्जी कुमार और मौ. फैजल नवाज को राज्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया.
कोविड महामारी (Covid Pandemic) के चलते पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन समाज कल्याण विभाग मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम के निवास स्थान पर किया गया. समाज कल्याण विभाग सचिव गरिमा गुप्ता की उपस्थिति में 6 दिव्यांगजनों को उत्कृष्ट कार्यों के लिए राज्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

इसके अलावा शिक्षाविद डॉ. रामकिशन के शैक्षणिक योगदान को ध्यान में रखते हुए विशेष उल्लेख से सम्मानित किया गया. साथ ही बधिर एवं मूक राष्ट्रीय क्रिकेट प्रतियोगिता 2021 में जीतने वाले खिलाड़ियों को भी मंत्री गौतम की ओर से पुरस्कृत किया गया.

समाज कल्याण विभाग मंत्री गौतम ने 11 हजार रुपये, प्रशस्ति पत्र और मोमेंटो देकर उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया. इस दौरान विशिष्ठ शिक्षिका सुशीला गौतम ने दिव्यांग बच्चों के साथ अपने अनुभव बांटे व उनके उज्जवल भविष्य की कामना की.



समाज कल्याण विभाग की सचिव गरिमा गुप्ता ने कहा कि दिव्यांग बच्चों के परिवार की सहभागिता उनकी अच्छी परवरिश के लिए जरुरी है. समाज कल्याण विभाग की निदेशक और विशेष सचिव डॉ. रशिम सिंह ने कहा कि ये दिव्यांगजन नहीं हैं अपितु विशेष क्षमता वाले व्यक्ति हैंं. ये सब हमें, चुनौतियों के बावजूद आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैंं.

इस दौरान बेन्जी ने बोलने की क्षमता न होते हुए भी गाना गाकर अपने आत्मबल का परिचय दिया. बेन्जी की माताजी ने अब तक की कठिन यात्रा को सभी के साथ साझा किया. इस दौरान विशिष्ठ सेवा मेडल आयुक्त दिव्यांगजन रंजन मुखर्जी, समाज कल्याण विभाग के विशेष निदेशक फिलिप थैंगलियनमांग मौजूद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज