होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /Delhi: केजरीवाल सरकार ने सड़क दुर्घटनाएं रोकने का बनाया ये प्‍लान, इन 14 चौराहों को करेगी रीड‍िजाइन

Delhi: केजरीवाल सरकार ने सड़क दुर्घटनाएं रोकने का बनाया ये प्‍लान, इन 14 चौराहों को करेगी रीड‍िजाइन

परिवहन विभाग ने 14 दुर्घटना संभावित चौराहों की पहचान की है, जिन्हें दुर्घटनाओं को कम करने के लिए फिर से डिजाइन और सुधार किया जाएगा. (Photo-Kailash Gahlot Twitter)

परिवहन विभाग ने 14 दुर्घटना संभावित चौराहों की पहचान की है, जिन्हें दुर्घटनाओं को कम करने के लिए फिर से डिजाइन और सुधार किया जाएगा. (Photo-Kailash Gahlot Twitter)

Bus Lane Enforcement Campaign: परिवहन विभाग ने अपने सहयोगी गैर सरकारी संगठनों के साथ चालू वित्त वर्ष के दौरान कार्यान्व ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) के परिवहन विभाग (Transport Department) की ओर से राजधानी की सड़कों पर बस लेन अनुशासन अभियान (Bus Lane Discipline Campaign) चलाया हुआ है. नागरिकों के लिए बस लेन अनुशासन अभियान भीड़ को कम करने और सड़क सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक प्रभावी तंत्र साबित हो रहा है.

इनर रिंग रोड और आउटर रिंग रोड के साथ बस लेन अनुशासन अभियान वर्तमान में अपने पहले चरण में लागू किया गया है. अगले चरण में, सभी प्रमुख सड़कों को अभियान के तहत कवर किया जाएगा और जिला प्रशासन की भी भागीदारी होगी. इस अभ‍ियान की शुरुआत एक अप्रैल, 2022 को की गई थी.

Delhi: बस लेन न‍ियम तोड़ने वालों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, तीन माह में काटे 44,594 के चालान

परिवहन विभाग ने साइकिल और पैदल चलने वालों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने के लिए आईआईटी दिल्ली के सहयोग से राजा गार्डन जंक्शन और ब्रिटानिया चौक के बीच बस लेन के लिए बेहतर रोड मार्किंग का एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में लागू किया है. विभाग दिल्ली में सभी पीडब्ल्यूडी सड़कों पर रोड मार्किंग सिस्टम के सामंजस्य के लिए पीडब्ल्यूडी इंजीनियरों का प्रशिक्षण भी आयोजित करेगा.

इस बीच देखा जाए तो दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत की अध्यक्षता में बुधवार को दिल्ली सचिवालय में राज्य सड़क सुरक्षा परिषद की मीट‍िंग भी हुई. इसमें पीडब्ल्यूडी विभाग, उच्च शिक्षा विभाग, यातायात पुलिस, सभी जिलों के मजिस्ट्रेट सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी व प्रतिनिधियों के साथ राज्य सड़क सुरक्षा परिषद के सदस्य भी शामिल हुए.

वर्ष 2022-23 के लिए सड़क सुरक्षा परियोजनाओं के लिए कार्य योजना पर परिषद को एक प्रस्तुति भी दी गई. परिवहन विभाग ने अपने सहयोगी गैर सरकारी संगठनों के साथ चालू वित्त वर्ष के दौरान कार्यान्वयन के लिए 10 उच्च प्रभावशाली जगहों को चिह्नित किया है. इसमें 14 दुर्घटना संभावित चौराहों की पहचान की गई है, जिन्हें दुर्घटनाओं को कम करने के लिए फिर से डिजाइन और सुधार किया जाएगा. इसमें पड़ोस सुधार पहल के तहत राजेंद्र नगर को सड़क सुरक्षा सुधार के लिए चुना गया है.

स्कूल क्षेत्रों में सुधार के लिए दिल्ली के 11 जिलों में से 11 स्कूलों को चिह्नित किया गया है. इसके अतिरिक्त, परिवहन विभाग नागरिकों को जागरूकता, सामुदायिक कार्यक्रमों का आयोजन और पुलिस कर्मियों, डीटीसी ड्राइवरों को प्रशिक्षण देने और दिल्ली में सड़क सुरक्षा परिदृश्य पर डेटा संचालित अनुसंधान करने के लिए अभियान भी चलाएगा.

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्ली की सड़क पर एक-एक भी व्यक्ति की जान जाना हम सभी के लिए एक अनमोल क्षति है. सभी संबंधित विभागों और एजेंसियों के बीच आपस में सामंजस्य जरूरी है. विशेष रूप से जिला मजिस्ट्रेटों (डीएम) को सड़क सुरक्षा पहलों के कार्यान्वयन के लिए अन्य एजेंसियों और विभागों का नेतृत्व करने की जरूरत है.

Tags: Delhi Government, Delhi news, Delhi transport department, Public Transportation

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें