दिल्ली: कोरोना रिपोर्ट की सही जांच नहीं करने पर चार एयरलाइन्स कंपनियों के खिलाफ FIR दर्ज

दिल्ली सरकार ने चार एयरलाइंस कंपनियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

दिल्ली सरकार ने चार एयरलाइंस कंपनियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) से आने वाले यात्रियों की कोरोना (Corona) नेगेटिव रिपोर्ट की सही तराके से जांच नहीं करने पर चार एयरलाइन्स (Airlines) कंपनियों के खिलाफ केजरीवाल सरकार ने एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2021, 6:32 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने महाराष्ट्र से राष्ट्रीय राजधानी जाने वाले यात्रियों की नेगेटिव आरटी-पीसीआर कोविड रिपोर्ट की जांच करने में विफल रहने पर चार एयरलाइन्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. इन एयरलाइन्स में इंडिगो, विस्‍तारा, स्पाइसजेट और एयर एशिया शामिल हैं. इनमें सवार होकर दिल्ली पहुंचने वाले यात्री कोरोना संक्रमित पाये गये हैं इसके बाद सरकार ने यह कदम उठाया है. जबकि यात्री कोविड नेगेटिव रिपोर्ट को लेकर मुंबई से दिल्ली आए थे, लेकिन उनकी रिपोट गलत थी.

कोरोना यात्रियों की फर्जी नेगेटिव रिपोर्ट की सही से जांच नहीं करने पर दो हवाई कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. बता दें कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने आज ही दो निजी अस्पतालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. क्योंकि इन अस्पतालों ने कोरोना बेडों की संख्या गलत बताई थी. इसके बाद एयर लाइंस कंपनियों पर कार्रवाई की गई है.



आज दिल्ली में 24,395 नये कोरोना के मामले सामने आए हैं. वहीं दिल्ली में मौतों का आंकड़ा भी रिकर्ड दर्ज किया गया है. पिछले 24 घंटे में कोरोना की वजह से 167 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. वहीं 15,414 लोग बीमारी से रिकवर भी हुये हैं. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 24.56 फीसदी दर्ज किया गया है.
दिल्ली सरकार ने शकूर बस्ती और आनंद विहार पर 5 हजार बेड के कोविड कोच तैयार करने का रेलवे से किया आग्रह

वहीं दिल्ली से सटे गाजियाबाद में श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार के लिए वेटिंग चल रही है. इस पर नगर निगम ने कहा कि टोकन सिस्टम की वजह से लोगों को इंतजार करना पड़ रहा है. गाजियाबाद में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. इससे लगातार शहर में कोरोना संक्रमितों और कोरोना से मरने वाली की संख्या बढ़ रही है.

गाजियाबाद के श्मशान घाट पर शनिवार को लाशों की कतारें देखने को मिल रही हैं. एक तरफ कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी तो वहीं दूसरी तरफ एम्बुलेंस की लंबी लाइन लगी थी. श्मशान घाट के संचालक का कहना है कि आम दिनों में 10-20 लाशें अंतिम संस्कार के लिए आती थीं, लेकिन बीते दो तीन दिन से यहां 30 से 40 लाशें आ रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज