Assembly Banner 2021

COVID-19 in India: दूसरे चरण के कोरोना टीकाकरण की दिल्ली सरकार ने की पूरी तैयारी, स्वास्थ्य मंत्री बोले-300 केंद्रों पर 45 साल तक के लोगों को भी लगेंगे टीके

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने  कहा है कि दिल्ली सरकार दूसरे चरण में टीकाकरण करने को पूरी तैयारी कर चुकी है.

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि दिल्ली सरकार दूसरे चरण में टीकाकरण करने को पूरी तैयारी कर चुकी है.

COVID-19 in India: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भी कहा है कि दिल्ली सरकार दूसरे चरण में टीकाकरण करने को पूरी तैयारी कर चुकी है. सरकार ने 192 अस्पतालों में 300 टीकाकरण केंद्र बनाए हैं. जो लोग 60 साल से अधिक और 45 साल से अधिक उम्र के भी हैं, उन सभी को दूसरे चरण में टीका लगाया जाएगा. वरिष्ठ नागरिकों की संख्या दिल्ली में करीब 12 से 15 लाख है. अब उन सभी को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) के खिलाफ लड़ी जा रही लड़ाई में अब कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण के अभियान की शुरुआत हो गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में कोविड-19 टीका लगवा कर टीके की पहली खुराक ली.



पीएम मोदी ने उन सभी लोगों को टीका लगवाने की अपील भी की है जो दूसरे चरण में टीका लगवाने की पात्रता रखते हैं. पीएम मोदी (PM Modi) को टीका पुडुचेरी (Puducherry) की रहने वाली सिस्टर पी निवेदा ने भारत बायोटेक (Bharar Biotech) की कोराना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाई.

टीकाकरण के दूसरे चरण की शुरुआत होने के बाद दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने भी कहा है कि दिल्ली सरकार (Delhi Government) भी टीकाकरण करने को लेकर पूरी तैयारी कर चुकी है. उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार ने 192 अस्पतालों में 300 टीकाकरण केंद्र बनाए हैं.




उन्होंने यह भी बताया कि जो लोग 60 साल से अधिक की उम्र के हैं. वहीं‌ जो 45 साल से अधिक उम्र के भी हैं, उन सभी को दूसरे चरण में टीका लगाया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने यह बात भी कही कि वरिष्ठ नागरिकों की संख्या दिल्ली में करीब 12 से 15 लाख है. अब उन सभी को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी.


बताते चलें कि दिल्ली में कोरोना नियंत्रण में है. हर रोज 200 से 250 के बीच में ही कोरोना संक्रमित मरीज रिकॉर्ड किए जा रहे हैं. वहीं, मरने वालों का आंकड़ा भी हर रोज जीरो से दो या तीन रिकॉर्ड किया जा रहा है. एक्टिव मरीजों की संख्या भी अभी 1250 से नीचे ही है. पहले चरण में हेल्थ केयर वर्कर और फ्रंटलाइन वर्कर को ही कोरोना वैक्सीन दी जा रही थी.


वहीं, देश के कई राज्यों में तेजी से फैल रहे कोरोना को लेकर दिल्ली सरकार पूरी तरीके से अलर्ट भी है. कोविड-19 मैनेजमेंट और उसकी रोकथाम को लेकर अपनाई जा रही सभी गाइडलाइंस का सख्ती से पालन भी कराया जा रहा है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज