दिल्ली सरकार ने कहा-अब अमानतुल्लाह खान वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष नहीं

(File Photo)

प्रमुख सचिव (राजस्व) के कार्यालय ने एक पत्र में कहा है कि वक्फ अधिनियम, 1995 की धारा 14 (1) के तहत फरवरी में विधानसभा भंग होने के बाद अमानतुल्लाह खान वक्फ बोर्ड के सदस्य और अध्यक्ष नहीं रहे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) के राजस्व विभाग ने कहा है कि विधानसभा के फरवरी में भंग होने के बाद से अमानतुल्लाह खान (Amantullah Khan) वक्फ बोर्ड (Waqf Board) के अध्यक्ष नहीं हैं. अमानतुल्लाह खान प्रदेश की छठी विधानसभा के ओखला क्षेत्र से सदस्य थे. छठी विधानसभा का कार्यकाल फरवरी में पूरा हो चुका था. सातवीं विधानसभा में भी अमानतुल्लाह खान ओखला सीट से निर्वाचित हुए हैं.

    प्रमुख सचिव (राजस्व) के कार्यालय ने शुक्रवार को एक पत्र में कहा है कि वक्फ अधिनियम, 1995 की धारा 14 (1) के तहत फरवरी में विधानसभा भंग होने के बाद खान वक्फ बोर्ड के सदस्य और अध्यक्ष नहीं रहे.

    अमानतुल्लाह को 2018 में अध्यक्ष चुना गया था

    विधायक के तौर पर खान को सात सदस्यीय वक्फ बोर्ड में नामित किया गया था और बाद में उन्हें सितंबर 2018 में सर्वसम्मति से वक्फ बोर्ड का अध्यक्ष चुना गया. दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात से इनकार किया कि खान को उनके पद से हटाया गया है और कहा कि नई सरकार द्वारा नए सिरे से समिति पुनर्गठित की जाएगी.

    ये भी पढ़ें: Nirbhaya Case: घर में ताला लगाकर कहां चला गया पवन जल्लाद का परिवार 

    ICMR ने कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए जांच रणनीति में किया संशोधन

    दिल्ली के बंद स्थानों के कर्मचारियों, अतिथि शिक्षकों को वेतन देगी सरकार

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.